हीट स्ट्रॉक से बचाव को लेकर डीएम ने की अधिकारियों के साथ बैठक - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

हीट स्ट्रॉक से बचाव को लेकर डीएम ने की अधिकारियों के साथ बैठक

Share This

हीट स्ट्रॉक से बचाव को लेकर डीएम ने की अधिकारियों के साथ बैठक
नवादा (आलोक वर्मा ) मंगलवार को जिलाधिकारी यश पाल मीणा की अध्यक्षता में ’’हीट स्ट्रॉक’’ (लू) से बचाव हेतु तैयारी से संबंधित समीक्षा बैठक आयोजित की गयी। उन्होनें कहा कि गर्मी का प्रकोप तेजी से बढ़ता जा रहा है, जिससे लू लगने की संभावना अधिक बढ़ जाती है। इसी परिपेक्ष में जिला स्तर पर आपदा विभाग द्वारा की गयी तैयारियों की समीक्षा संबंधित विभाग के पदाधिकारीगण से की गयी। समीक्षा के क्रम में जिला पदाधिकारी यश पाल मीणा ने लू से बचाव हेतु सिविल सर्जन डॉ विमल प्रसाद को निर्देश दिया कि वे सदर अस्पताल में 20 से 25 बेड की पूर्ण तैयारी 24×7 घंटे रखें।
साथ ही चलन्त चिकित्सा दल से हमेशा सेवा लेते रहें। प्रचूर मात्रा में ओ0आर0एस0 एवं सभी आवशयक दवा का प्रबंध रखें। लू से संबंधित सबसे महत्वपूर्ण विषय पर ध्यान देते हुए उन्होंने कहा कि लू लगने वाले व्यक्ति को सबसे पहले ठंढ़े स्थलों पर रखने की व्यवस्था करें। जहां कुलर, एसी, पंखा की व्यवस्था हो।


साथ ही एम्बुलेंस को हमेशा तैयार रखें। उन्होने सभी पीएचसी स्तर पर पूर्ण तैयारी करने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया। पीएचसी स्तर पर एम्बुलेंस को हमेाशा पूर्ण तैयारी में रखने का निर्देश दिया गया। लू से बचाव हेतु वृहद प्रचार-प्रसार करने का निर्देश जिला जन सम्पर्क पदाधिकारी को दिया गया, ताकि लोग जागरूक हों। पीएचडी विभाग के पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि जल की कमी न हो इसके लिए चापाकल मरम्मती का कार्य बदस्तुर जारी रखें। जहां पानी की किल्लत हो वहां टैकर से पानी पहुचायी जाय।

जिला पंचायतीराज पदाधिकारी को निर्देश दिया गया कि पंचायत स्तर पर नल का जल योजना का क्रियान्वयन करें , ताकि टोला एवं गांव स्तर पर भी पानी की किल्लत न हो। परिवहन विभाग को निर्देश दिया गया कि लू से बचने के लिए वाहन का परिचालन दोपहर में बंद रखें, साथ ही लोगों से अपील करते हुए उन्होने कहा कि दोपहर की गर्मी में बाहर न निकलें, खास कर वृद्धजन लू से बचें।

उन्होनें उप विकास आयुक्त को निर्देश देते हुए कहा कि मनरेगा अन्तर्गत कार्य करने का समय सुबह 6 बजे से 11 बजे तक एवं 3ः30 अपराह्न से 5ः30 तक रखें। विद्युत विभाग कार्यपालक अभियंता को निर्देश दिया गया कि जहां पर भी बिजली की तार लूज हो उसे तुरंत ठीक करें , ताकि गर्मी के इस मौसम में अगलगी पर रोक लग सके। उन्होनें ग्रामीणों से भी अपील की है कि बिजली के तार के आस-पास पुआल को न रखें।

गर्मी के मौसम मे तेज हवा चलने के कारण बिजली का तार आपस में टकराने से आग लगने का खतरा बढ़ जाता है। उन्होने सभी पंचायत स्तर एवं वार्ड स्तर के सभी जन प्रतिनिधियों से अपील की है कि लोगों को इस संबंध मे लोगों को जागरूक करें। उन्होने अग्निाशमक दस्ता को निर्देश दिया कि भीषण गर्मी मे अगलगी के खतरे से वचाव हेतु अपने वाहन को हमेशा पुरी तरह से एर्लट मोड में रखें, ताकि अगलगी की सूचना मिलते ही जल्द से जल्द मदद पहुचायी जा सके। जिला आपदा विभाग के नियंत्रण कक्ष का दूरभाष संख्या- 06324-212261 है। ’’हीट स्ट्रॉक’’ एवं अगलगी से संबंधित कोई भी सूचना इस दूरभाष पर दी जा सकती है।

इस अवसर पर सहायक समाहर्त्ता साहिला, उप विकास आयुक्त वैभव चौधरी, अपर समाहर्त्ता ओम प्रकाश, जिला परिवहन पदाधिकारी अभ्येन्द्र मोहन सिंह, जिला पंचायती राज पदाधिकारी संतोष झा, जिला आपदा शाखा पदाधिकारी राजवर्द्धन, डीपीआरओ गुप्तेवर कुमार, कार्यपालक अभियंता पीएचडी चंदेवर राम, कार्यपालक अभियंता विद्युत रवि कुमार आदि उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages