जिलाधिकारी ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रखंड स्तरीय किया समीक्षा - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

जिलाधिकारी ने वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रखंड स्तरीय किया समीक्षा

Share This
आलोक वर्मा

नवादा : जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा के द्वारा वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग के माध्यम से प्रखंड स्तरीय समीक्षा की गयी। उन्होंने सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, मुखियागण को संबोधित करते हुए कहा कि सभी दुकानें एवं वाहन परिचालन शुरू होने के कारण कोविड-19 के प्रसार को रोकने के लिए लोगों में अधिक जागरूकता लाने की जरूरत है ताकि इस बीमारी से कम से कम लोग प्रभावित हों। उन्होंने कहा कि मुखियागण पूरी जिम्मेवारी के साथ आम लोगों को मास्क पहनने के लिए प्रेरित करें साथ ही शोसल डिस्टेंसिंग का पालन भी करना सुनिश्चित करें। सभी मुखियागण 3 जून 2020 को लोगों में जागरूकता लाने के लिए प्रेरित करेंगे। सभी मुखियागण एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी आज ही ग्राम सभा की बैठक कर एवं सभी वार्ड सदस्य वार्ड स्तर पर बैठक कर कोविड-19 से बचाव हेतु प्रचार-प्रसार कर जन जागरूकता फैलायेंगे। लोगों को मास्क पहनने एवं सामाजिक दूरी बनाये रखने के लिए प्रेरित करेंगे। जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा ने सभी मुखियागण एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि सात निष्चय योजना अन्तर्गत कार्य को 15 जून 2020 तक हर हाल में पूरा कर लें। उन्होंने कहा कि पंचायत स्तर पर लंबित कार्य किस कारण से रूका है, उसका पूरा ब्योरा स्पष्ट करें। दोषी व्यक्ति बक्शे नहीं जायेंगे साथ ही वित्तीय अनियमितता में संलिप्तता पाये जाने वालों पर कड़ी कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने कहा कि प्रखंड स्तर पर कोरेंटाइन सेंटर में प्रवासियों का रजिस्ट्रेशन कर आपदा संपूर्ति पोर्टल पर दो दिनों के अन्दर अपडेट करना सुनिश्चित करें। 14 दिन पूरा करने वाले प्रवासियों को स्वास्थ्य जांच कर होम क्वारेंटाइन तुरंत भेजें। उन्होंने सभी मुखियागण को निर्देश दिया कि मनरेगा अन्तर्गत होने वाले कार्य जैसे- आहर, पइन, तालाब, बृक्षारोपण जैसे कार्य एक्टिव जाॅब कार्डधारी से ही कार्यों करायें। उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि पंचायत स्तर पर चलने वाले मनरेगा कार्य की रैम्डमली जांच करें। इस कार्य के लिए सभी पीओ एवं पीआरएस कार्य प्रगति से अवगत करायेंगे। जिला पदाधिकारी यशपाल मीणा ने पंचायत स्तर पर उत्पन्न विधि-व्यवस्था की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि उन्हें ज्ञात हो रहा है कि कुछ प्रवासी श्रमिकों द्वारा गांव में तनाव की स्थिति उत्पन्न की जा रही है। गाॅव में शांति भंग करने वाले बक्षे नहीं जायेंगे। दोषी व्यक्ति को चिन्हित कर सख्ती से दण्डात्मक कार्रवाई की जायेगी। उन्होंने मुखियागण एवं प्रखंड विकास पदाधिकारी को निर्देश दिया कि वे विधि-व्यवस्था बिगड़ने न दें, विषेष ख्याल रख कर कार्रवाई करें। उन्होंने कहा कि जिन गरीब प्रवासी श्रमिकों के पास राषन नहीं है, कार्ड भी नहीं है, वैसे असहाय व्यक्ति को आत्मनिर्भर स्कीम के तहत अनुमंडल पदाधिकारी एवं एमओ उस व्यक्ति को हर हाल में खाद्यान्न उत्पन्न करायेंगे। इस अवसर पर अपर समाहर्ता ओम प्रकाश, जिला पंचायती राज पदाधिकारी संतोष कुमार झा, डीपीआरओ गुप्तेश्वर कुमार, वीडियो काॅन्फ्रेंसिंग में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी एवं सभी मुखियागण उपस्थित थे।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages