दलसिंहसराय में दोहरे हत्याकांड से फैली सनसनी, पुलिस की कार्यशैली पर परिजनों ने उठाया सवाल - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

दलसिंहसराय में दोहरे हत्याकांड से फैली सनसनी, पुलिस की कार्यशैली पर परिजनों ने उठाया सवाल

Share This

तुफैल अहमद (दलसिंहसराय/समस्तीपुर)

मिथिला हिन्दी न्यूज़ 
(दलसिंहसराय/समस्तीपुर) - दलसिंहसराय थानाक्षेत्र के नवादा पंचायत अंतर्गत ग्राम ढेपुरा में गत सोमवार को एक पुरुष व एक महिला की हत्या कर लाश को बलान नदी में फेक दिए जाने को लेकर लोगों में पुलिस के प्रति काफी आक्रोश देखा जा रहा है। दोनों लाशों से काफी बदबू आ रही थी। इससे अंदाजा लगाया जा सकता है कि दोनों की हत्या दो तीन दिन पहले की गई होगी। वहीं परिजन पुलिस की कार्यशैली पर सवाल भी उठा रहे हैं। वहीं लोगों की निगाह पुलिस के अनुसंधान पर टिकी हुई है कि हत्या में शामिल हत्यारे को पुलिस कब तक गिरफ्तार कर पाती है। बताते चलें कि गत सोमवार को थाना क्षेत्र के ढेपुरा गांव में बलान नदी से एक झाड़ी में फंसी एक महिला व पेड़ में फंसे एक पुरुष की लाश को ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस ने नाविक की मदद से निकाला था। जिसको लेकर आसपास के इलाकों में सनसनी फैल गई थी। वहीं ग्रामीणों ने लाश को देखने के उपरांत बतलाया था की महिला के गले पर रस्सी का निशान एवं पुरुष की जीभ मुंह से बाहर निकली हुई थी। जिसको देखकर अंदाजा लगाया जा रहा था कि दोनो की हत्या कही अन्यत्र कर उसकी लाश को बलान नदी में फेंक दिया गया है। जल की धारा के साथ उक्त स्थान पर पेड़ एवं झाड़ी में आकर दोनों लाशें फंस गई। हालांकि महिला के मौत का मामला दहेज हत्या को लेकर प्रकाश में आ रहा है। इस बाबत मृतिका सुमिता देवी के पिता थाना क्षेत्र के बल्लोचक ग्राम निवासी नूनू राय ने गत 15 अगस्त को अपनी पुत्री की हत्या को लेकर पुलिस को आवेदन दिया था। जिसमे उन्होंने बतलाया कि उनकी पुत्री की शादी थाना क्षेत्र के केवटा ग्राम निवासी मदन राय के पुत्र विकास कुमार के साथ गत अप्रैल 2017 में हिन्दू रीतिरिवाज के साथ हुई थी। जिसमें हमने अपने सामर्थ्य के अनुरूप पांच लाख रुपया नकद एवं स्वर्ण आभूषण आदि उपहार के रूप में दिया था। मगर ससुराल के लोगों के द्वारा दहेज में तीन लाख रुपये और देने की मांग की जा रही थी।इसको लेकर पुत्री को प्रताड़ित भी किया जा रहा था। इसी क्रम में पुत्री को 11 अगस्त को दामाद द्वारा विदा कर केवटा ले जाया गया और 15 अगस्त के सुबह सात बजे हमारे भतीजे के मोबाइल पर सूचना दी गई कि हमारी पुत्री गायब है। सूचना मिलते ही हमलोगों ने उसकी काफी खोजबीन की मगर उसका कोई पता नहीं चला। हमारी पुत्री को दामाद विकास कुमार, ससुर मदन राय,सास सुनीता देवी, ननद ज्योति कुमारी एवं देवर विशाल कुमार ने साजिश के तहत मिलकर हत्या कर लाश को गायब कर दिया। वहीं मृतक के पिता ने बतलाया कि स्थानीय थाने में आवेदन दिए जाने के बाद भी प्राथमिकी दर्ज नहीं की गई। जिसको लेकर परिजनों में काफी आक्रोश देखा जा रहा है और परिजनों का आरोप है कि अगर पुलिस तत्परता से मामले की जाँच पड़ताल करती तो अब तक हत्यारे पुलिस के गिरफ्त में होते।
         वहीं दूसरी तरफ थानाक्षेत्र के बसढिया पंचायत के वाजिदपुर गादो निवासी शंकरनाथ झा के पुत्र अरविंद कुमार झा की लाश के मामले में परिजनों द्वारा अब तक किसी भी तरह का आवेदन थाने में नहीं दिया गया है। जिसके कारण फिलहाल मामले खुलासा नहीं हो पाया है। वहीं इस संदर्भ में प्रभारी थाना अध्यक्ष सर्किल इंस्पेक्टर धरमपाल से सम्पर्क किया गया तो उन्होंने बतलाया कि लाश को पोस्टमार्टम हेतु भेजा गया है। युवक के परिजन के आने के बाद मामला दर्ज किया जाएगा। वहीं इस मामले को लेकर जब डीएसपी कुंदन कुमार से संपर्क किया गया तो उन्होंने कहा कि पुलिस मामले की जाँच पड़ताल में जुटी हुई है इस हत्याकाण्ड में जो भी लोग शामिल होंगे उसे गिरफ्तार किया जाएगा।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages