प्रशासन और स्थानीय लोगों के लाख कोशिशों के बावजूद चकलालशाही मे दजनों ढाबा नहीं हुए बंद - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

प्रशासन और स्थानीय लोगों के लाख कोशिशों के बावजूद चकलालशाही मे दजनों ढाबा नहीं हुए बंद

Share This

पटना, हाजीपुर, दरभंगा मधुबनी, बेगूसराय आदि जगहों से संक्रमित क्षेत्रों से आने वाले दर्जनों गाड़ियां रात भर रुकती है !

मोरवा/ समस्तीपुर

मोरवा प्रखंड क्षेत्र मे लाख कोशिश के बाबजूद हलई ओपी क्षेत्र के चकलाशाही चौक पर बने दर्जन भर ढाबे लॉक डाउन के दौरान भी बन्द नहीं हुए है ! यहां चल रही दर्जन भर ढाबा कोरोना संक्रमण को बढ़ाने में सहायक साबित हो सकते हैं। बताया जाता है कि प्रशासन के लाख प्रयास के बावजूद लोगों की आवाजाही कम नहीं हुई है और इत्मीनान से होटल के संचालको ने अपने होटलों की सेवा पहले की बरकरार रखे हुए हैं। इस बाबत कई बार ओपी अध्यक्ष संदीप पाल ,सीओ भोगेन्द्र यादव के द्वारा होटल बंद कराने के प्रयास तो किए गए लेकिन होटल संचालक इसे मानने से मना करते हुए फिर से अपनी धंधा को बढ़ा रहे हैं ।बताया जाता है कि इन जगहों पर पटना, हाजीपुर, दरभंगा मधुबनी, बेगूसराय आदि संक्रमित क्षेत्रों से आने वाले दर्जनों गाड़ियां रात भर रुकती है और खाने पीने का यहां प्रबन्ध होता है। ना तो यहां कोई सैनिटाइजिंग की व्यवस्था होती है और ना ही प्रशासन की कोई देख रेख ,ऐसे में आशंका है कि कोरोना को बढ़ाने में यह ढाबा मददगार साबित हो सकता है। इस बाबत पूछे जाने पर ओपी अध्यक्ष ने बताया कि कई बार होटल संचालकों को निर्देश दिए गए हैं बावजूद इसके होटल का खुलना जारी है फिर से करवाई की जाएगी। बताते चलें कि बड़े पैमाने पर गाड़ियों के आवागमन का केंद्र बनने के बाद यहां संक्रमित क्षेत्रों से लोगों का लोगों का आना जारी है जिससे लगातार संक्रमण का खतरा बढ़ता जा रहा है। इस क्षेत्र के लोगों मे इस कोरोना संक्रमण के बढ़ने की आसंका जताई है, लोगों में बढ़ते हुए कोरोना की संख्या से भय व्याप्त है !
Published by Amit Kumar

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages