संजय सिंह कब और कैसे युवा गांधी बने पढें पूरी स्टोरी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

संजय सिंह कब और कैसे युवा गांधी बने पढें पूरी स्टोरी

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :-अदभुत प्रतिभा के धनी संजय कुमार सिंह अपने जीवन यापन बड़ी सादगी के साथ अपने गांव अलावलपुर में व्यतीत कर रहे थे ठीक उसी समय 2001 में पंचायत समिति का चुनाव लड़कर सफलता की पहली सीढ़ी चढ़े उसके बाद जीवन में कभी पीछे मुड़कर नहीं देखे बात ठीक उसी समय की है जब ये महात्मा गांधी, स्वामी विवेकानंद एवं अटल बिहारी बाजपेयी की आदर्शों से प्रेरित होकर बापूधाम मोतिहारी चंपारण का पद यात्रा बिहार की राजधानी पटना से शुरू कर पहुंचे उस दौरान 38 जिलों के युवा कार्यकर्ता इनके साथ इस पद यात्रा में शामिल हुए सभी युवाओं को लगा कि यह कोई साधारण व्यक्ति नहीं है इतना जोश उमंग ऊर्जा से भरा व्यक्ति महात्मा गांधी का दूसरा रुप है तभी से 38 जिलो के युवा कार्यकर्ताओं के बीच इनका छवि एक युवा गांधी के रूप में स्थापित हुआ और युवा गांधी बन गए अपनी इस छवि को इस कदर सभी 38 जिला के युवा कार्यकर्ताओं पर छोड़े कि आज भी सभी युवा इनके साथ कदम से कदम मिलाकर चलने के लिए तैयार है अभी चुनावी समय के सभी युवा मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरफ उम्मीद भरी नजरों से देख रहे हैं अगर संजय कुमार सिंह को फतुहा विधानसभा से टिकट मिलता है तो 38 जिलों के सभी युवा कार्यकर्ता जदयू के तरफ अपना मताधिकार का प्रयोग करेंगे अन्यथा सभी युवा कार्यकर्ताओं को लगेगा की पार्टी में युवा कार्यकर्ताओं का कोई स्थान नहीं है ।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages