बिहार विधानसभा के मौजूदा सत्र में आधी आबादी की भागीदारी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

बिहार विधानसभा के मौजूदा सत्र में आधी आबादी की भागीदारी

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :-मौजूदा बिहार विधानसभा में महिला विधायकों की संख्या 27 है। 2010 के विधानसभा में 34 महिला विधायक चुनी गई थीं। हालांकि अब भी यह आंकड़े राष्ट्रीय औसत, 7.3 फीसदी, के मुकाबले बेहतर हैं लेकिन महिला विधायकों के संबंध में बिहार दूसरे स्थान से गिर कर पांचवे स्थान पर है। कुल विधायकों (243) के अनुपात के रूप में, पिछले विधानसभा के 14 फीसदी के मुकाबले 2015 मे 11.5 फीसदी महिलाएं हैं और यह निश्चित तौर पर पिछले एक दशक में महिला राजनीतिक सशक्तिकरण में हुई प्रगति का उलटाव है।रिपोर्ट में बताया गया है कि बिहार के उपर केवल हरियाणा ही ऐसा राज्य है जहां विधानसभा में 14.4 फीसदी महिलाएं हैं।जुटाए गए आंकड़ों के अनुसार 28 महिला विधायकों में से 10 विधायक राष्ट्रीय जनता दल ( आरजेडी ) से हैं,आठ जनता दल ( यू ) से हैं, चार कांग्रेस से, भारतीय जनता पार्टी ( भाजपा ) से चार एवं एक निर्दलीय हैं। चुनी गई 28 महिला विधायकों में से 25 ने पुरुष उम्मीदवारों को हराया है। बताया है कि कुछ ही महिलाओं के विधायक बनने का कारण कुछ ही महिला उम्मीदवारों को चुनाव में उतारना है। जबकि महागठबंधन ने 10.3 फीसदी टिकट महिला उम्मीदवारों को दिया था वहीं एनडीए ने 9.5 फीसदी टिकट महिला उम्मीदवारों को दिए थे। हालांकि महागठबंधन की महिला उम्मीदवारों के जीत का दर प्रभावशाली है। आरजेडी ने 10 महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था और इनमें से सब की सब ने जीत हासिल की है यानि कि जीत दर 100 फीसदी है। जनता दल ( यू ) ने भी 10 महिला उम्मीदवारों को चुनावी मैदान में उतारा था जिसमें से नौ उम्मीदवारों ने सीट अपने खाते में किया यानि कि जीत दर 90 फीसदी रहा है। कांग्रेस के लिए जीत दर 80 फीसदी रहा है। कांग्रेस की पांच महिला उम्मीदवारों में से चार ने जीत हासिल किया है। भाजपा ने 14 महिला उम्मीदवारों को मैदान में उतारा था जिसमें से केवल चार ही अपनी सीट जीत पाई हैं यानि कि भाजपा के लिए जीत दर 28.6 फीसदी रहा है। 2015 में
जनता दल ( यू) के नीतीश कुमार ने मौजूदा छह महिला विधायकों के बदले पुरुष उम्मीदवारों को टिकट दिया था जिसमें से चार उम्मीदवार चुनाव हार गए हैं। गोविंदगंज की सीट महागठबंधन में सीट समायोजन के कारण ही कांग्रेस के को दिया गया। यहां पर भी मौजूदा महिला विधायक, मीना द्विवेदी की जगह पुरुष उम्मीदवार को टिकट दिया गया था। इस इलाके से लोक जनशक्ति पार्टी ( लोजपा ) के राजू तिवारी ने जीत हासिल की है।28 में से आठ महिला विधायकों ने अपने विरोधी उम्मीदवारों के मुकाबले 20,000 से भी अधिक मतों के अंतर से जीत हासिल की है। सबसे अधिक जीत का अतंर जनता दल ( यू ) की वीना कुमारी के खाते में दर्ज हुई है। वीना कुमारी ने त्रिवेणीगंज से लोजपा के अनंत कुमार भारती को 52,400 मतो से हराया है।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages