भगवान उदीयमान भास्कर को अर्घ्य देते ही महापर्व छठ का हुआ समापन - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

भगवान उदीयमान भास्कर को अर्घ्य देते ही महापर्व छठ का हुआ समापन

Share This

विमल किशोर सिंह

 मिथिला हिन्दी न्यूज, सीतामढ़ीलोक आस्था का महापर्व शनिवार के रोज सुबह के अर्घ्य के साथ समाप्त हो गया। चार दिवसीय छठ  पर्व हिंदुओं का महान पर्व के रूप में जाना जाता है। पूरी निष्ठा एवं साफ सफाई के साथ छठ व्रती कार्तिक माह के प्रारंभ होते ही इस पर्व में जुट जाते हैं। अर्ध्य  देने  की जगह को सजाया जाता है। बच्चे बूढ़े जवान सभी अर्ध्य देने की जगह घंटों खड़े होकर भगवान भास्कर को नमस्कार करते देखे गए। प्रखंड क्षेत्र के पुरानी धार नदी के किनारे व्रतियों ने संध्या एवं सुबह का अर्घ्य प्रदान किया। छठ के गीत से पूरा इलाका गूंज रहा था। सैकड़ों की संख्या में मनौती के रूप में लोग घर से अर्ध्य देने  की जगह दंड देते नजर आ रहे थे कहीं-कहीं सामाजिक दूरी का भी ख्याल रखा गया था। स्थानीय प्रशासन द्वारा सभी घाटों पर दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त किया गया था ।

फोटो पुरानी धार नदी  के किनारे रामपुर घाट का  विहंगम दृश्य

---------- Forwarded message ---------
From: Vimal Kishor Singh <vimalkishor1975@gmail.com>
Date: Sun, 22 Nov 2020, 6:28 am
Subject: भगवान उदीयमान भास्कर को अर्घ्य देते ही महापर्व छठ का हुआ समापन विमल किशोर सिंह मिथिला हिन्दी न्यूज, सीतामढ़ी
To: <26rohit.kumar.mithila@blogger.com>


सीतामढ़ी : लोक आस्था का महापर्व शनिवार के रोज सुबह के अर्घ्य के साथ समाप्त हो गया। चार दिवसीय छठ  पर्व हिंदुओं का महान पर्व के रूप में जाना जाता है। पूरी निष्ठा एवं साफ सफाई के साथ छठ व्रती कार्तिक माह के प्रारंभ होते ही इस पर्व में जुट जाते हैं। अर्ध्य  देने  की जगह को सजाया जाता है। बच्चे बूढ़े जवान सभी अर्ध्य देने की जगह घंटों खड़े होकर भगवान भास्कर को नमस्कार करते देखे गए। प्रखंड क्षेत्र के पुरानी धार नदी के किनारे व्रतियों ने संध्या एवं सुबह का अर्घ्य प्रदान किया। छठ के गीत से पूरा इलाका गूंज रहा था। सैकड़ों की संख्या में मनौती के रूप में लोग घर से अर्ध्य देने  की जगह दंड देते नजर आ रहे थे कहीं-कहीं सामाजिक दूरी का भी ख्याल रखा गया था। स्थानीय प्रशासन द्वारा सभी घाटों पर दंडाधिकारी प्रतिनियुक्त किया गया था ।


live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages