महान गणितज्ञ पद्मश्री डॉ वशिष्ठ नारायण सिंह को समर्पित हुआ नया कोईलवर पुल - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

महान गणितज्ञ पद्मश्री डॉ वशिष्ठ नारायण सिंह को समर्पित हुआ नया कोईलवर पुल

Share This
अनूप नारायण सिंह 

पटना।आरा के भाजपा सांसद व केंद्रीय मंत्री आरके सिंह के अथक प्रयास से महान गणितज्ञ स्वर्गीय वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम से नया कोइलवर पुल जाना जाएगा।गुरुवार को केंद्र सरकार ने बिहार के लोगों को कोईलवर पुल के रूप में नई सौगात दी है. केंद्र सरकार द्वारा इस पुल का नाम महान गणितज्ञ वशिष्ठ नारायण सिंह के नाम पर रखे जाने की बात कही है.आपको बता दें कि वशिष्ठ नारायण सिंह बिहार के जाने-माने गणितज्ञ रहे हैं. काफी साल तक मानसिक बीमारी से जूझ कर पिछले बार उन्होंने पटना में आखिरी सांस ली थी. पटना साइंस कॉलेज से कैलिफोर्निया विश्वविद्यालय का सफर उनकी प्रतिभा का ही नतीजा था. वर्ष 1969 में कैलिफोर्निया यूनिवर्सिटी से पीएचडी के बाद वे वॉशिंगटन विश्वविद्यालय में एसोसिएट प्रोफेसर बन गए. इसके बाद नासा में काम करके वे 1971 में भारत लौट आए.यहां उन्होंने आईआईटी कानपुर सहित दो अन्य संस्थानों में भी काम किया. इसके बाद उनकी जिंदगी में कुछ उतार-चढ़ाव के कारण यह महान प्रतिभा गुमनामी का शिकार हो गई. 40 साल तक सिजोफ्रेनिया नामक मानसिक बीमारी से पीड़ित रहकर पिछले साल उनका निधन हो गया. उनके निधन पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी गहरा शोक प्रकट किया था.
अब केंद्र सरकार ने बिहार में बने इस नए पुल का नाम उनके नाम पर रखने की घोषणा की है. आपको बता दें कि सिक्स लेन वाले इस पुल से कानपुर, वाराणसी, गाजीपुर से पटना जाना आसान हो जाएगा. इसके अलावा दिल्ली से पटना का सफर भी अब काफी सुहाना हो जाएगा. इस पुल के बनने से लोगों तो अब जाम की समस्या से नहीं जूझना पड़ेगा.पुल का नामकरण वशिष्ट बाबू के नाम से किए जाने के पहल बाद शुक्रिया वशिष्ठ के संस्थापक और बिहार यूथ बिल्डर एसोसिएशन के अध्यक्ष भूषण कुमार सिंह बबलू वशिष्ठ नारायण सिंह के भतीजे मुकेश कुमार सिंह अरनव मीडिया के अनूप नारायण सिंह ने संयुक्त रूप से बयान जारी कर कहा की आने वाले पीढ़ियों को उनके बारे में जानने का मौका मिलेगा।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages