अपराध के खबरें

शराब माफिया और पुलिस के बीच मुठभेड़ दरोगा की मौत चौकीदार हुआ घायल

प्रिंस कुमार 

सीतामढ़ी जिले में कानून व्यवस्था को ठेंगा दिखाते हुए शराब माफियाओं ने एक दरोगा की गोली मारकर हत्या कर दी ।शराब माफिया की गोली से एक चौकीदार भी गंभीर रूप से घायल हो गया है। सीतामढी जिले के मेजरगंज थाना क्षेत्र के कुंवारी गांव की घटना घटित हुई है। यहां शराब तस्करों एवं पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई है। मुठभेड़ में दरोगा दिनेश राम शहीद हो गया है जो पूर्वी चंपारण जिले के लोखौरा के रहने वाले थे घायल चौकीदार का नाम लालबाबू पासवान बताया जा रहा है ।दरोगा दिनेश राम हाल ही में मेजरगंज थाना में पदस्थापित हुए थे ।बुधवार को अवैध शराब की एक बड़ी खेप के आने की सूचना पर पुलिस टीम गांव में छापामारी करने पहुंची थी पुलिस की गाड़ी को देखते ही शराब माफियाओं ने पुलिस पर अंधाधुंध फायरिंग करना शुरू कर दी। जिसमें गोली लगने से दरोगा की मौत हो गई। शराब माफियाओं की गोली से उक्त गांव के चौकीदार गंभीर रूप से घायल हो गया। जिले के थाना क्षेत्र के कोवारी गांव की घटना है। यहां शराब कारोबारी और पुलिस के बीच मुठभेड़ हुई मुठभेड़ में शहीद दरोगा का नाम दिनेश राम आधार चौकीदार का नाम लालबाबू पासवान बताया जा रहा है पुलिसकर्मी आनन-फानन में दोनों घायलों को सदर अस्पताल लेकर जाने लगे तब तक दरोगा दिनेश राम की मौत हो हो चुकी थी। मौके पर मौजूद पुलिसकर्मियों ने गोलीबारी की सूचना तुरंत मेजरगंज थाने को दी इसके बाद दल बल के साथ पहुंची पुलिस ने जवाबी कार्रवाई करते हुए शराब तस्कर रंजन सिंह को मार गिराया पुलिस को सूचना मिली थी कि नेपाल के रास्ते बिहार में शराब की बड़ी खेप लाई जा रही है पुलिस ने इस सूचना के आधार पर नाकेबंदी की पुलिस को अंदाजा नहीं था कि शराब तस्कर हथियारों से लैस होंगे गाड़ी रुकते ही तस्करों ने पुलिस पर हमला कर दिया पुलिस पर नजर पड़ने के बाद रंजन सिंह अपने साथियों के साथ घर में छिपकर फायरिंग करने लगा रंजन सिंह रंगदारी मामले का भी आरोपित है घटना को अंजाम देकर भाग रहे रंजन सिंह के साथी मुकुल सिंह को भी पुलिस ने गिरफ्तार किया है। पुलिस ने भारत नेपाल के सीमा के गन्ने की खेत में छापामारी कर मुकुल सिंह को गिरफ्तार किया है एसपी सहित जिले के सभी वरीय पुलिस पदाधिकारी घटनास्थल पर कैंप कर रहे हैं इस घटना में शामिल शराब तस्करों की गिरफ्तारी के लिए पुलिस टीम छापेमारी कर रही है। उधर दरोगा दिनेश राम के मौत की खबर मिलते हैं पूर्वी चंपारण जिले के लखौरा स्थित उनके पैतृक गांव में कोहराम मच गया है। मृतक दरोगा की पत्नी एवं बच्चों का रो रो कर बुरा हाल हो गया है ।शराब तस्करों से हुई मुठभेड़ में दरोगा के शहीद होने की इस घटना के बाद पुलिस कर्मियों में भारी आक्रोश देखने को मिल रहा है।

live