अपराध के खबरें

जिले में कोविड-19 का कोई भी सक्रिय मरीज नहीं


- 16 फरवरी से जिला में एक भी कोरोना संक्रमित नहीं मिला
-कोरोना के लिए बनाए गए अस्पताल में एक भी मरीज नहीं

प्रिंस कुमार 
शिवहर, 4 मार्च | शिवहर जिले में कोरोना अंतिम पड़ाव पर दिख रहा है। यहां अब एक्टिव केस की संख्या शून्य रह गई है। पिछले 16 फरवरी से कोई भी व्यक्ति कोविड-19 संक्रमित नहीं पाया गया है। इससे प्रशासन व स्वास्थ्य विभाग भी काफी राहत महसूस कर रहा है। स्वास्थ्य विभाग से प्राप्त जानकारी अनुसार जिले में कोरोना संक्रमण के कुल मामले 1515 हैं, जिनमें से 1514 लोग महामारी को मात देने में कामयाब रहे हैं। वहीं एक मरीज की इससे मृत्यु हुई है। सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह ने कहा कि यह उपलब्धि इसलिए हासिल की जा सकी, क्योंकि जिले में संक्रमित मरीजों की उचित निगरानी की गई और उनके संपर्क में आए लोगों की सूची बनाकर पता लगाया गया। उन्होंने कहा कि जिले में अब एक भी कोरोना वायरस का उपचाररत मरीज नहीं है।

कोरोना मरीजों के लिए बनाए गए अस्पताल हुए खाली
कोरोना संक्रमण के दौरान इलाज के लिए बनाए गए अस्पताल खाली हो चुके हैं। जिला के सुनरपुर स्कूल में संचालित कोविड सेंटर में इलाजरत सभी मरीज स्वस्थ होकर अपने घर लौट गए हैं। सिविल सर्जन डॉ सिंह ने कहा कि भले ही शिवहर में तेजी से कोरोना संक्रमण के मामले कम हुए और अब एक भी मरीज इलाजरत नहीं है, लेकिन इस गंभीर संक्रमण को नजरअंदाज जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग नहीं कर रहा है। 

कोरोना के खिलाफ मजबूती से काम चल रहा

सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह ने कहा कि शिवहर जिला में कोविड 19 के खिलाफ मजबूती से काम किया गया। इसका नतीजा है कि कोरोना से ठीक होने वाले मरीजों का ग्राफ लगातार बढ़ता गया। कोविड 19 संक्रमण की रोकथाम में स्वास्थ्य विभाग के साथ आमजन की सामूहिक भागीदारी का परिणाम सामने आया है। उन्होंने कहा कि इतना जरूर है कि कोरोना से लड़ाई अभी लंबी चलनी है। इसके लिए हम सब तैयार हैं।

इन मानकों का करें पालन, कोविड-19 के संक्रमण से रहें दूर

- दो गज की शारीरिक दूरी का हमेशा करें पालन
- मास्क और सैनिटाइजर का नियमित रूप से करें उपयोग
- भीड़-भाड़ वाले जगहों पर जाने से करें परहेज
- मुँह, नाक, कान छूने से बचें

live