अब सीएससी पर मुफ्त में बनेगा आयुष्मान कार्ड - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

अब सीएससी पर मुफ्त में बनेगा आयुष्मान कार्ड

Share This
- पहले इसके लिए लाभुक को 30 रुपये देने पड़ते थे

शिवहर, 15 मार्च
आयुष्मान योजना के लाभुकों के लिए एक खुशखबरी है। नेशनल हेल्थ ऑथोरिटी तथा कॉमन सर्विस सेंटर के बीच हाल ही में एक एमओयू पर हुए हस्ताक्षर के बाद अब जिले के वसुधा केंद्रों और सीएससी पर आयुष्मान गोल्डन कार्ड मुफ्त में बनेंगे। पहले इसके लिए लाभुक को 30 रुपये देने पड़ते थे। यह अब पूरे बिहार में लागू हुआ है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत जिले के लाभुकों को पीवीसी (पोलिविनाइल क्लोराइड) आयुष्मान कार्ड मुफ्त में दिए जाएंगे।

लाभुकों को मिलेगा पीवीसी प्रिंट किया कार्ड
इस नई व्यवस्था के तहत आयुष्मान भारत के लाभुकों को पहले पेपर आधारित कार्ड दिया जायेगा। इसके बाद एक पीवीसी प्रिंट किया हुआ कार्ड दिया जायेगा। पीवीसी आयुष्मान कार्ड किसी भी कॉमन सर्विस सेंटर से प्राप्त किया जा सकेगा। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जनआरोग्य योजना के तहत स्वास्थ्य सुविधाएं प्राप्त करने व इलाज आदि के लिए आयुष्मान कार्ड आवश्यक रूप से हो ऐसा नहीं है। बल्कि यह लाभुकों को चिह्नित करने की प्रक्रिया है। साथ ही इसकी मदद से स्वास्थ्य सेवाओं के मुहैया कराने में होने वाली गड़बड़िया व धोखेबाजी को रोकना है।

पांच लाख रुपये तक इलाज की मुफ्त व्यवस्था
भारत सरकार द्वारा स्वास्थ्य सेवा मुहैया कराये जाने की दिशा में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जनआरोग्य योजना एक मुख्य कार्यक्रम है। इस योजना के तहत सालाना प्रति परिवार प्रति 5 लाख रुपये के इलाज की सुविधा दी गयी है। आयुष्मान भारत योजना, लाभुक को स्वास्थ्य सेवा प्राप्त करने के लिए नकद (कैश) या पेपर आदि नहीं होने के बावजूद सुविधाएं मुहैया कराती हैं । इस योजना के तहत 937 हेल्थ पैकेज हैं। प्रधानमंत्री जनआरोग्य योजना की शुरुआत 23 सितंबर 2018 को हुयी थी।

अब 31 मार्च तक आयुष्मान पखवाड़ा का आयोजन 
जिला कार्यक्रम समन्वयक साहेब सिंह ने कहा कि
जिले में आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अंतर्गत अब तक जिन पात्र लाभुकों को गोल्डेन कार्ड (ई-कार्ड) उपलब्ध नहीं हो सका है, उन्हें परेशान होने की जरूरत नहीं है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना अंतर्गत पात्र लाभार्थियों का गोल्डन कार्ड बनाने को लेकर आयुष्मान पखवाड़ा की तिथि बढ़ाकर 31 मार्च तक कर दी गयी है। विदित हो कि पहले आयुष्मान पखवाड़ा के तहत 17 फरवरी से तीन मार्च तक पंचायतों में शिविर लगाकर आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के तहत पात्र लाभार्थियों को गोल्डन कार्ड बनाया जाना था। 

पखवाड़ा के दौरान लगभग छः हजार बने कार्ड 
कार्यक्रम समन्वयक साहेब सिंह ने बताया कि अभी तक आयोजित पखवाड़ा के दौरान लगभग 6000 लाभुकों का कार्ड बनाया गया है। आयुष्मान भारत प्रधानमंत्री जन आरोग्य योजना के अंतर्गत जिले में कुल 3,87,615 लाभुकों का गोल्डन कार्ड बनाने का लक्ष्य है। इससे पहले जिले के कुल 3,87,615 लाभुकों के निर्धारित लक्ष्य में से 39,174 का गोल्डन ई. कार्ड बनाया जा चुका था। योजना के संपूर्ण क्रियान्वयन के लिए लाभार्थियों को योजना से संबंधित गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराया जा रहा है। 
प्रचार-प्रसार के जरिए फैलायी जा रही जागरूकता
आयुष्मान भारत गोल्डन ई.कार्ड बनाने को लेकर लाभुकों को जागरूक करने के लिए ई. रिक्शा जागरूकता रथ के माध्यम से माइकिंग की जा रही है। जागरूकता रथ जिले के पंचायतों में घूम-घूमकर माइकिंग के जरिये गोल्डन कार्ड बनाने को ले लोगों को जागरूक कर रही है, ताकि गोल्डन कार्ड बनाने के लक्ष्य को शत- प्रतिशत प्राप्त किया जा सके। वहीं सभी आरटीपीएस पटल, ग्राम पंचायत, प्रखंड में प्रचार-प्रसार के लिए होर्डिंग एवं बैनर भी लगाया गया है।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages