पटना से दो लाख कीमत वाले सांढ की चोरी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

पटना से दो लाख कीमत वाले सांढ की चोरी

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :- आपने कई प्रकार की चोरियों के बारे में पढ़ा होगा सुना होगा पर हम आपको बिहार में एक दिन पहले हुई एक ऐसी चोरी के बारे में बता रहे हैं जिसको पढ़ने सुनने के बाद आपकी भी रोंगटे खड़े हो जाएंगे इस बार चोरी हुई है एक उन्नत नस्ल के साढ़ की इसकी कीमत है ₹2लाख। पटना से सटे धनरूआ वीर गांव के संतोष कुमार जैसे युवाओं का स्टार्ट अप बिहार में कम्युनिटी डेयरी की राह बनाने वाला है.. इस तरीके से इनके धनरूआ स्थित आनंद नेचुरल डेयरी से इतने अच्छे नस्ल के नंदी का चोरी होना बहुत ही दुर्भाग्यपूर्ण है. पटना से सटे धनरूआ वीर गांव से यह चोरी बीती रात हुई है जिस साढ़ की चोरी हुई है वह पिछले वर्ष सितंबर में राजस्थान से ₹135000 में खरीद कर लाया गया था डेयरी फार्म के संचालक संतोष कुमार बीर गांव के रहने वाले हैं उन्होंने आनंद सागर नेचुरल डेयरी के नाम से धनरूआ में अपनी डेयरी फार्म खोल रखी है जिसमें फिलहाल 72 देशी गाय है वर्ष 2018 में सात उन्नत नस्ल की देसी गाय से अपने फॉर्म की शुरुआत करने वाले संतोष के डेयरी में फिलहाल 38 साहिवाल 10 राठी नस्ल की देसी गाय है वर्ष 2018 में डेयरी की शुरुआत की थी इसी वर्ष बिहार सरकार उद्योग विभाग ने स्टार्टअप पॉलिसी के तहत 10 साल के लिए ब्याज रहित 10 लाख रुपए उपलब्ध करवाए थे उसी वर्ष मुख्यमंत्री ने इनके प्रोजेक्ट को सम्मानित भी किया था संतोष बताते हैं कि फिलहाल 170 से 180 लीटर दूध प्रतिदिन उत्पादन होता है जो कांच के बोतलों में भरकर पटना में होम डिलीवरी किया जाता है इनके यहां पूरी तरह से गायों को प्राकृतिक वातावरण रखा जाता है हरा चारा दिया जाता है सभी दुधारू पशुओं के बच्चे भी हैं।इनके यहां देसी नस्ल की गायों से उत्पादित दूध की कीमत होती है 80 से ₹95 प्रति लीटर लोकेशन के हिसाब से 5 से ₹10 बढ़ जाती है फिर भी डिमांड के अनुसार आपूर्ति नहीं हो पा रही है बताते हैं कि बिहार में उत्पादित होने वाले दूधों को लेकर वे रिसर्च कर रहे थे इसी क्रम में उनके दिमाग में आया कि क्यों नहीं देसी नस्ल की गायों को लेकर डेयरी शुरू किया जाए बिना किसी सरकारी सहायता के उन्होंने शुरुआत की बाद में उनके कार्य से प्रभावित होकर बिहार सरकार ने उन्हें ₹10लाख के लोन उपलब्ध कराया। संतोष ने बताया कि जिस साढ़ की चोरी हुई है वह उन्नत नस्ल का है प्रयोग के तौर पर उसे बिहार लेकर आए थे इस चोरी के बाद उन्होंने सोशल मीडिया पर भी इस अनूठे साढ़ को ढूंढने की अपील की है।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages