सिर चढ़ कर बोल रहा मगही होली गीत ‘अइलै बसंती बहार’ का जादू - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

सिर चढ़ कर बोल रहा मगही होली गीत ‘अइलै बसंती बहार’ का जादू

Share This

- गायक आनंद राजा और गीतकार राजेश मंझवेकर ने परम्परागत होली गीत से जमाया रंग

- म्यूजिक प्रोड्यूसर मो.सरफराज के प्रयास से लीक से हटकर दी गयी प्रस्तुति 

आलोक वर्मा

मिथिला हिन्दी न्यूज नवादा : तमाम होली गीतों की भीड़ से एकदम अलग परम्परा, संस्कार और मिट्टी की महक के साथ ही त्योहार की खूबसूरती को करीने से पिरोकर प्रस्तुत किए गए मगही होली गीत ‘अइलै बसंती बहार...’ ने रिलीज के साथ ही रंग जमा दिया है। मंगलवार को यूट्यूब पर रिलीज किए गए इस मगही गीत को लोक गायक आनन्द राजा ने अपनी मखमली आवाज दी है। पत्रकार-साहित्यकार राजेश मंझवेकर ने लीक से हट कर इस होली गीत के बोल लिखे हैं। संगीतकार चंदन सिंह ने मधुर संगीत और कोरस पीस डालकर गीत को अति कर्णप्रिय बना दिया है जबकि म्यूजिक प्रोड्यूसर मो. सरफराज के प्रयास से इस गीत को जुदा अंदाज में प्रस्तुत करने में सफलता मिली है। आवारा म्यूजिक कम्पनी द्वारा रिलीज के साथ ही इस ऑडियो गीत की व्यूअरशिप ने धमाल मचा दिया है। शुरुआती प्रति मिनट में ही इसे 17 से 20 व्यू मिले हैं जबकि प्रति घंटे एक हजार से अधिक के औसत से इसमें वृद्धि हो रही है। किसी भी ऑडियो सॉन्ग के लिए यह एक रिकॉर्ड है। इससे उत्साहित गायक आनन्द राजा व म्यूजिक प्रोड्यूसर मो.सरफराज ने कहा है कि इस पारम्परिक गीत की सफलता ने हमें प्रेरित किया है कि हम साहित्य और सांस्कृति को अक्षुण्ण बनाए रखेंगे। लोकगायक आनन्द राजा ने म्यूजिक इंडस्ट्री के तमाम सहयोगियों को बढ़-चढ़ कर साथ देने के लिए शुभकामनाएं दी है।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages