कमलकांत झा को उनके कथा संग्रह "रूसल अछी गाच्छ" पर साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया है। - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

कमलकांत झा को उनके कथा संग्रह "रूसल अछी गाच्छ" पर साहित्य अकादमी पुरस्कार से नवाजा गया है।

Share This
पप्पू कुमार पूर्वे 
जयनगर के उदयमान युवा कवि सह समाजसेवी धर्मेन्द्र भारद्धाज उर्फ बौआ झा ने कहा इंसान अगर ठान ले तो इस दुनियाँ में कुछ भी अंसभव नहीं। इसी बात का प्रत्यक्ष उदाहरण है कमलकांत बाबू जिन्होंने लेखन के माध्यम वो उदाहरण प्रस्तुत किया है। बिहार सरकार को भी उनको कोई बड़ा साहित्य पुरस्कार देना चाहिए ।कमलकांत बाबू काफी पुस्तकों को लिख चुके हैं । लेखकों की रचनाओ को एक पुस्तक में संजोने वाले को पुरस्कार के रूप मे सुशोभित किया है साहित्य अकादमी ने । हम युवा कवियों को लेखन की दुनियाँ मे मार्ग दिखाया है मैं तहे दिल से आभार व्यक्त करता हूँ जिन्होंने कमलकांत बाबू जैसे साहित्य के इस कोहिनूर से राज्य व समाज को अवगत कराया है।कमलकांत झा बिहार प्रांत खासकर मिथिलांचल मे साहित्य के कोहिनूर है। इनके बारे में जितना भी कहा जाय कम होगा ।ईश्वर से प्रार्थना है कि बिहार व भारत सरकार ऐसे शख्शियत को किसी बड़े सम्मान से नवाज कर मां सरस्वती के दरबार की शोभा बढ़ाए।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages