अपराध के खबरें

कोरोना की चुनौतियों से निपटने के लिए स्वास्थ्य विभाग अलर्ट


- जिला में प्रवेश करने वाले हर प्वाइंट पर होगी कोरोना जांच
- आम नागरिकों से मास्क और छह फीट की दूरी पालन करने का अनुरोध

प्रिंस कुमार 

शिवहर,16 मार्च | जिला के लिए खुशी की खबर है कि यहां अभी कोरोना का एक भी एक्टिव केस नहीं है। जिला के लोगों को यह खुशी बरकरार रखनी होगी, क्योंकि आने वाले दिनों में चुनौतियों का सामना करना पड़ सकता है। महाराष्ट्र, दिल्ली, गुजरात, राजस्थान, मध्य प्रदेश आदि राज्यों में एक बार फिर कोरोना वायरस की नई लहर की खबरें आ रही हैं। इनमें से कई ऐसे राज्य भी कोरोना प्रभावित हैं, जहां शिवहर के लोग काम करते हैं। चंद दिनों में होली का पर्व मनाया जाएगा। इसमें कोरोना प्रभावित उक्त प्रदेशों में रहनेवाले लोग भी शिवहर लौटेंगे। ऐसे में इस बार होली का पर्व काफी सतर्कता से मनाने की जरूरत है। यह बातें सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह ने कही। उन्होंने कहा कि होली की खुशियां बरकरार रखने के लिए जरूरी है कि हर कदम पर कोरोना को लेकर पूरी सावधानी बरतें, ताकि उत्सव के साथ जीवन की रंगोली में कोरोना का रंग नहीं भरने पाए। 

चुनौतियों से निपटने के लिए विभाग अलर्ट
सिविल सर्जन डॉ सिंह ने कहा कि चुनौतियों से निपटने के लिए प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग अलर्ट है। कोरोना काल में पिछली बार जब दूसरे राज्यों में रहनेवाले लोगों को लौटने की छूट मिली और वह शिवहर पहुंचे तो स्वास्थ्य विभाग ने उनके सैंपल की जांच कराई। उस वक्त कोरोना के जो नए केस मिल रहे थे उनमें से अधिकांश बाहर से आए लोग ही पॉजिटिव होते थे। उन्होंने बताया कि स्वास्थ्य महकमा तीन बिंदुओं ट्रेसिंग, टेस्टिंग व ट्रीटमेंट पर काम कर रहा है। कोरोना की जांच में तेजी लायी जाएगी। स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा महाराष्ट्र , केरल, गुजरात तमिलनाडु, कर्नाटक, दिल्ली, पंजाब आदि राज्यों से आने वाले लोगों की कोरोना की जांच की जाएगी। मुजफ्फरपुर से आने वाले यात्रियों की नरवारा में, मधुबन की तरफ से आने वालों का श्यामपुर भटहां में, जबकि जिला मुख्यालय के जीरोमाइल पर एक टीम लोगों की जांच में रहेगी । अगर कोई भी व्यक्ति कोरोना संक्रमित पाया गया तो उसे आइसोलेशन केन्द्र अथवा उसके घर में ही होम आइसोलेट किया जाएगा, ताकि कोरोना का संक्रमण अन्य लोगों में फैलने से रोका जा सके। 

हर कदम पर कोरोना से पूरी सावधानी बरतें
सिविल सर्जन डॉ आरपी सिंह ने कहा कि होली की खुशियां बरकरार रखने के लिए जरूरी है कि हर कदम पर कोरोना को लेकर पूरी सावधानी बरतें। अपने हाथों को बार-बार पानी और साबुन से धोते रहें और सैनिटाइजर का इस्तेमाल करें। छींकते या खांसते समय टिशू का इस्तेमाल करें तथा इस्तेमाल किए हुए टिशू पेपर को फेंक दें। फिर से अपने हाथ धोएं। अगर पास टिशू पेपर नहीं है तो रुमाल या अपनी बाजू का इस्तेमाल करें। बिना हाथ धोए अपनी नाक, आंख या कानों को न छूएं। संक्रमित व्यक्ति के नजदीक जाने से बचें।

आमजन फेस मास्क जरूर लगाएं
आमलोग सावधानी बरतने के लिए घरों से बाहर निकले तो फेस मास्क अवश्य लगाएं। सामाजिक दूरी का ख्याल रखते हुए बाजारों व अन्य संस्थाओं में काम करें। इस तरह की सावधानी बरत कर ही अपना, परिवार व समाज की संक्रमण से रक्षा कर सकते हैं। होली खेलने के दौरान किसी ऐसे स्थान पर न जाएं जहां भीड़ अधिक हो। ऐसी जगह पर संक्रमण की संभावना रहेगी । इसलिए कोशिश करें कि ऐसे किसी भी जगह पर जाने से पहले मास्क जरूर लगाएं।
Tags

live