अपराध के खबरें

टीका लेकर मैंने निभायी अपनी जिम्मेदारी, अब आपकी बारी

- देसरी के 77 वर्षीय विष्णु चौधरी ने लिया दोनों डोज का टीका
- लोगों से टीका के बाद भी मास्क पहनने की अपील 

प्रिंस कुमार 
उम्र 77 साल, पर हौसले युवाओं वाले । आगे बढ़कर खुद भी जिम्मेदारी निभायी और अपनी पत्नी को भी प्रेरित किया। मूल रूप से देसरी के रहने वाले रिटायर्ड सरकारी कर्मचारी विष्णु चौधरी ने कोविड से बचाव के लिए चल रहे टीकाकरण का खुद और पत्नी को भी हिस्सा बनाया। विष्णु कहते हैं मैंने पहला टीका 9 मार्च को लिया था। वहीं दूसरा टीका मैंने 11 अप्रैल को लिया था। मुझे टीकाकरण में किसी भी तरह की परेशानी नहीं हुई और न ही मेरी पत्नी को।

लोगों से की अपील 
विष्णु चौधरी ने 45 वर्ष से ऊपर के लोगों से अपील करते हुए कहा कि यह टीका बिल्कुल ही सुरक्षित है। इसका कोई प्रतिकूल प्रभाव भी नहीं है। जिस चरण में इसके लेने की सुविधा सरकार आपको दे। इस टीका को अवश्य लें। इस टीका का दोनों डोज लेना आवश्यक है। मेरे अलावा मेरे दोनों बेटों ने भी यह टीका लिया है। उनकी भी उम्र 45 वर्ष से ऊपर है।
 
टीका पर था पूरा विश्वास
विष्णु कहते हैं जब से कोविड संक्रमण की शुरुआत हुई उसी वक्त से विज्ञानियों और बुद्धिजीवियों के बीच इससे बचाव के अनेक तरीके बताए जाने लगे। इसमें से टीकाकरण भी बहुप्रतिक्षित था। जब टीकाकरण की शुरुआत हुई उसी समय मैंने यह ठान लिया था कि जब भी मेरी बारी आएगी मैं इस टीके को जरूर लूंगा। 

मास्क से अभी छुटकारा नहीं
विष्णु चौधरी ने कहा भले ही देश में कोरोना वैक्सीनेशन शुरू हो गया है लेकिन कुछ नियमों का पालन करना अब भी जरूरी है। कुछ को लग रहा है कि वैक्सीन आ गई है तो मास्क से अब छुटकारा। यह सबसे बड़ी गलती होगी। उन्होंने कहा वैक्सीन लगवाने के बाद भी मास्क को लगाना अनिवार्य होगा। पूरे देश में कोरोना वैक्सीन लगने का कार्य चल रहा है। ऐसे में मास्क न पहनना नुकसानदायक साबित हो सकता है।

इन मानकों का रखें ख्याल, कोविड- 19 संक्रमण से रहें दूर  

- दो गज की शारीरिक दूरी का हमेशा ख्याल रखें।
- मास्क का नियमित रूप से उपयोग करें।
- साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
- बाहरी खाना खाने से परहेज करें।
- घर से बाहर निकलने पर निश्चित रूप से सैनिटाइजर साथ रखें।
- भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।

live