सही और सुरक्षित तरीके से पहन मास्क, सभ्य नागरिक की दें पहचान - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

सही और सुरक्षित तरीके से पहन मास्क, सभ्य नागरिक की दें पहचान

Share This
‌‌- अस्पताल या संक्रमित के पास जाने के लिए करें सर्जिकल मास्क का उपयोग
- घर से निकलते वक्त बाहर मास्क को कहीं नहीं खोलें

प्रिंस कुमार 

मास्क। कोरोना से लड़ने का छोटा किंतु महत्वपूर्ण हथियार। कोरोना के शुरुआती दौर में मास्क के प्रकार और पहनने के तरीकों में कुछ संशय उत्पन्न हुए थे, पर आज डब्ल्यूएचओ अपने माध्यम से यह बिल्कुल ही स्पष्ट कर चुका है कि  किस तरह के मास्क पहनें और कैसे पहनें । इस बात के अलावा डब्ल्यूएचओ ने कहा है कि मास्क पहनना कोरोना से बचाव की रणनीति का हिस्सा भर है। बीमारी से बचने के अन्य एहतियाती उपाय जैसे शारीरिक दूरी भी उतना ही जरूरी है जितना कि मास्क का पहनना। 
तीन स्तरों वाला हो मास्क 
विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मास्क की क्वालिटी और इसपर हुए नए शोध के बारे में जानकारी दी है। कपड़े और अन्य प्रकार के मास्क से संबंधित जानकारी शामिल की है। डब्ल्यूएचओ  के मुताबिक फेस मास्क को बाजार से खरीदा जा सकता है और घर में भी बनाया जा सकता है। उसमें तीन परतें होनी चाहिए। सूत का अस्तर, पोलिएस्टर की बाहरी परत, और बीच में पोलिप्रोपायलीन की बनी ‘फिल्टर’ जैसी परत। विश्व स्वास्थ्य संगठन का मानना है कि सभी देशों को भीड़भाड़ वाली जगहों पर मास्क पहनने के लिए लोगों को प्रोत्साहित करना चाहिए। साथ ही ऐसी जगहों पर भी जहां पर कम्युनिटी  ट्रांसमिशन जैसी स्थितियां हों। रेल, बस जैसी भीड़भाड़ वाली जगहों पर भी मास्क का इस्तेमाल करना जरूरी है।
60 से ज्यादा उम्र के लोगों को मेडिकेटेड मास्क पहनने की सलाह 
 विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि पांच साल या इससे कम उम्र के बच्चों के मास्क नहीं पहनाना चाहिए। वहीं छह से 11 साल के उम्र के बच्चों को उन जगहों पर मास्क पहनना चाहिए, जहां पर संक्रमण की संभावना ज्यादा हो। वहीं 60 से ऊपर के लोगों को सूती मास्क तथा 60 से ऊपर बीमारियों से ग्रस्त लोग मेडिकेटेड मास्क पहनें।
 वहीं खेल-कूद करने वाले बच्चों और शारीरिक श्रम करने वालों को उस वक्त मास्क न पहनने की सलाह दी है। 
मास्क पहनने का सही तरीका
कोविड 19 से बचाव के लिए मास्क को ऐसे लगाएं कि नाक और मुंह दोनों ढके रहें। एक बार मास्क लगा लिया है तो बाहर जाने पर मास्क को उतारें नहीं । उससे संक्रमण की संभावना बनी रहती है। अगर मास्क गीला हो जाए तो उसे सावधानी से उतार कर दूसरा मास्क पहन लें और घर आकर मास्क को साबुन पानी से धो लें। अगर अस्पताल जाना है या किसी संक्रमित के पास जाना है तो ऐसे में सर्जिकल मास्क का प्रयोग करें और प्रयोग के बाद उसे नष्ट कर दें।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages