कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर टेस्टिंग और टीकाकरण साथ चलेगें: जिलाधिकारी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

कोरोना के नए स्ट्रेन को लेकर टेस्टिंग और टीकाकरण साथ चलेगें: जिलाधिकारी

Share This
- पंचायती राज विभाग प्रत्येक परिवार में 6 मास्क का करेगा वितरण
- रेलवे स्टेशनों पर शत प्रतिशत होगी कोरोना की टेस्टिंग

प्रिंस कुमार 
मोतिहारी, 21 अप्रैल ।

पूर्वी चम्पारण के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने जिलास्तरीय पदाधिकारियों एवं स्वास्थ्य विभाग के पदाधिकारियों के साथ कोविड संक्रमण की रोकथाम की तैयारियों की समीक्षा की और साथ ही कई आवश्यक दिशा निर्देश दिये । 
जिले में कोविड मरीजों की बढ़ती संख्या एवं सक्रिय मामलों को देखते हुए सावधानी एवं सतर्कता बरतने के साथ इससे लड़ने की तैयारियों को पूरा करने पर बल दिया, ताकि अल्प नोटिस पर भी यथोचित कार्रवाई की जा सके। 
टेस्टिंग एवं टीकाकरण भी साथ साथ चलेंगे-
जिलाधिकारी ने बताया कोरोना का यूके स्ट्रेन बहुत ही ज्यादा नुकसानदायक है । इस वजह से टेस्टिंग एवं टीकाकरण भी साथ साथ चलेंगे। टीकाकरण के उपरांत रोग प्रतिरोधक क्षमता विकसित होने में समय लगता है, अतः इस दौरान सामाजिक दूरी, मास्क का प्रयोग आवश्यक हो जाता है।
 जिलाधिकारी ने कोरोना टेस्टिंग के दौरान ही लोगों के यात्रा इतिहास, उनका अन्य लोगों से संपर्क की भी जानकारी लेने की आवश्यकता पर बल दिया, ताकि उनके कोरोना पॉजिटिव पाए जाने की स्थिति में यथाशीघ्र आवश्यक कदम उठाए जा सके।
उन्होंने महाराष्ट्र आदि से आने वाले ट्रेनों से मोतिहारी , रक्सौल रेलवे स्टेशनों पर उतरने वाले यात्रियों की 100% टेस्टिंग सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।
कोविड केयर सेंटरों एवं डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटरों में मरीजों के उचित इलाज की व्यवस्था का निर्देश-
उन्होंने कोविड केयर सेंटरों एवं डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटरों में मरीजों के उचित इलाज की व्यवस्था का निर्देश देते हुए कहा लापरवाही को बर्दाश्त नहीं किया जाएगा| वहां पर तीन शिफ्ट में 24 घंटे डॉक्टर,नर्स के साथ सुरक्षाकर्मी की भी प्रतिनियुक्ति होनी चाहिए। साफ-सफाई भी नियमित तौर पर होनी चाहिए। नर्सिंग रूम में ट्रॉली के साथ 5 ऑक्सीजन सिलेंडर भी होना चाहिए। ड्यूटी पर लगे सभी डॉक्टर,नर्स, स्टॉफ, सुरक्षाकर्मी, मजिस्ट्रेट इत्यादि की उपस्थिति पंजी भी वहीं होनी चाहिए।
उन्होंने भर्ती सभी मरीजों के तापमान, ऑक्सीजन स्तर एवं नब्ज की जांच नियमित अंतराल पर करते हुए इसे स्प्रेडशीट पर भरने का निदेश भी दिया| 
पंचायती राज विभाग द्वारा ग्रामीण इलाकों में प्रति परिवार 6 मास्क का वितरण किया जाना है। इसके लिए लाखों की संख्या में मास्क की आवश्यकता होगी। जीविका दीदियों के साथ अन्य उद्यमियों द्वारा भी मास्क उपलब्ध कराया जा सकता है।

इस अवसर पर अपर समाहर्ता, उप विकास आयुक्त, जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, सिविल सर्जन, नजारत उप समाहर्ता, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, आपदा प्रभारी, जिला अल्पसंख्यक कल्याण पदाधिकारी सहित स्वास्थ्य विभाग के अन्य कर्मी मौजूद थे।
साथ ही जिलाधिकारी ने लोगों से अपील की कि लोग अपने परिवार एवं मित्रों को यह संदेश दे जागरूक करें कि लोग मास्क पहनकर ही घर से बाहर जाएं और सोशल डिस्टेंस का पालन करें।

इन मानकों का ख्याल रख संक्रमण से रहें दूर 
- दो गज की शारीरिक दूरी का हमेशा ख्याल रखें।
- मास्क का नियमित रूप से उपयोग करें।
- साफ-सफाई का विशेष ख्याल रखें।
- बाहरी खाना खाने से परहेज करें।
- घर से बाहर निकलने पर निश्चित रूप से सैनिटाइजर साथ रखें।
- भीड़-भाड़ वाले जगहों से परहेज करें।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages