नवादा : सैफ की मौत के बाद सिरदला थाना में पसरा सन्नाटा - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

नवादा : सैफ की मौत के बाद सिरदला थाना में पसरा सन्नाटा

Share This

 आलोक वर्मा 

सिरदला(नवादा):  मंगलवार को सिरदला थाना में कार्यरत सैफ के जवान पुलिस उपेन्द्र सिंह की मौत सिरदला प्राथमिक स्वास्थ केंद्र में कोरोना का दूसरे डोज लेने के बाद अस्पताल में ही हो गया। जिसके बाद थानाध्यक्ष आशीष कुमार मिश्रा ने अस्पताल पहुंचकर शव को कब्जे में लेकर नवादा सदर अस्पताल में लाकर शव का पोस्टमार्टम कराकर शव को परिजनों को सौंप दिया गया। वैसे बता दे कि मृतक जवान की पत्नी की मौत दो वर्ष पूर्व हो गई थी। वृद्ध मां, दो पुत्र, एक पुत्र बधू   को पीछे छोड़ गए हैं। इस घटना से मर्माहत होकर सिरदला थाना के कार्यरत सभी कर्मियों में उदासी छा गई है। बुधवार को सिरदला परिसर के मुख्य द्वार पर हथकड़ी वाली ताले लगाकर कोरोना चैन को तोड़ने के लिए थाना प्रवेश वर्जित कर दिया गया है। हालांकि इस मामले ने थानाध्यक्ष आशीष बाबू कुछ कहने को तैयार नहीं है। फिर भी जिस तरह से सिरदला प्रखंड के कुशा हन, बिलार पुर और लौंद के ग्रामीण क्षेत्र में संक्रमण कि तादात बढ़ रही है इससे सुरक्षित रहने के लिए सरकारी महकमे के अधिकारी कर्मचारी के साथ आम ग्रामीण को सतर्क रहना जरूरी है। थाना परिसर में पसरा सन्नाटा और मुख्य द्वार में लगी ताला ही यह ब्यान कर रही है कि सिरदला प्रखंड क्षेत्र में स्वस्थ्य व्यवस्था काफी लचर स्थिति में चल रही है। सिरदला प्राथमिक स्वस्थ्य केंद्र में यह आलम है कि जितना समय अस्पताल में भर्ती होने में लगता है उससे भी कई गुना कम समय में मरीज को रेफर कर दिया जाता है। चुकी सिरदला प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में परासि टा मोल के सिवाय कोई बेहतर व्यवस्था नहीं है। ग्रामीण क्षेत्र के गांव में ग्रामीण चिकित्सक नहीं होते तो शायद सिरदला सरकारी अस्पताल के भरोसे दो लाख की आबादी संभलना संभव नहीं हो पाता।




प्रखंड विकास पदाधिकारी ने मु़खिया एवं पंचायत सचिव के साथ की बैठक

कोराना के बढ़ते प्रभाव को लेकर पंचायत प्रतिनिधियों को दिया गया दिशानिर्देश

रजौली(नवादा): रजौली प्रखंड सभागार में गुरुवार को प्रखंड विकास पदाधिकारी प्रेम सागर मिश्र के अध्यक्षता में पंचायत प्रतिनिधियों एवं पंचायत सचिवों के साथ कोरोना के बढ़ते प्रभाव को लेकर एक आवश्यक बैठक आयोजित की गई।बैठक के दौरान प्रखंड विकास पदाधिकारी ने कई प्रकार के दिशा-निर्देश दिया गया। उन्होंने बताया कि रजौली प्रखंड क्षेत्र में कोरोना के बढ़ते प्रभाव को लेकर नई गाइडलाइन का पालन कराने हेतू जनप्रतिनिधियों को निर्देशित किया गया है।जिसे अक्षरश पालन कराने हेतु प्रखंड के मुखिया एवं पर उनके प्रतिनिधि के साथ साथ पंचायत सचिवों को हिदायत दी  है। उन्होंने कहा कि कोरोनावायरस से बढ़ते संक्रमण के प्रभाव को लेकर वैसे तो पहले भी मुखिया जी एवं पंचायत सचिव के साथ बात होती रही है।लेकिन नई कोरोना गाइडलाइन आने के बाद उनके साथ बहुमूल्य बैठक किया गया है। इस दौरान मुखिया जी एवं पंचायत सभी सचिवों को निर्देशित किया गया है कि वे लोग गांव गांव घूूम घूम कर कोरोना संक्रमण नहीं फैले इस को लेकर ग्रामीणों के बीच कोरोना गाइडलाइन का प्रचार प्रसार करें।साथ ही उन्होंने बताया कि 15 वीं वित्त से प्रत्येक घरों में छह मास्क देने का प्रावधान बनाया गया है।इसके अलावा साबुन व हैंड सेनीटाइजर भी लोगों के बीच वितरण किया जाना है।इसके लिए सभी लोगों को दिशा निर्देश दिया गया।प्रखंड विकास पदाधिकारी ने लोगों से अपील किया कि लोग जब तक अत्यंत जरूरी ना हो घर से बाहर ना निकलें।अगर कभी निकलें तो वे मासक एवं हैंड सेनीटाइजर को साथ रखें।साथ ही साथ मुखिया जी को  निर्देशित किया गया है कि वे अपने पंचायतों में लोगों को जागरूक करें।जिससे कि कोरोना का बढ़ता प्रभाव को रोका जा सके।कोरोना संक्रमण की इस बैठक में रजौली पूर्वी पंचायत के मुखिया सुरेश साव, रजौली पश्चिमी पंचायत के मुखिया प्रतिनिधि संदीप कुमार उर्फ भोली सिंह, अंधरवारी पंचायत के मुखिया गोकर्ण प्रसाद के साथ सभी पंचायतों के मुखिया एवं पंचायत सचिव मौजूद रहे।



 फरार चल रहे शराब धंधेबाज गिरफ्तार

रजौली(नवादा): थाना क्षेत्र के पुरानी हरदिया से फरार चल रहे शराब धंधेबाज को पुलिस ने मंगलवार की रात्रि गिरफ्तार किया गया।प्रक्षिशु डीएसपी सह प्रभारी थानाध्यक्ष फिरोज आलम ने बताया कि थाना काण्ड संख्या 527/20 में नामजद फरार चल रहे धंधेबाज को गुप्त सूचना के आलोक में इंस्पेक्टर दरबारी चौधरी एवं एएसआई काशीनाथ झा के द्वारा पुलिस बल के सहयोग से गिरफ्तार किया गया।शराब धंधेबाज पुरानी हरदिया निवासी रामेश्वर चौधरी उर्फ परमेश्वर चौधरी के पुत्र उदय चौधरी है।गिरफ्तार शराब धंधेबाज को बुधवार को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।




 शिकायत के बावजूद वर्षो से सोलर मिनी जलापूर्ति का लाभ नहीं

रजौली(नवादा): रजौली प्रखंड के धमनी पंचायतो चमरबीगहा गांव में 24 लाख की लागत से बनना था मिनी जला पूर्ति योजना 6 -10-2015 से 25 मार्च 2016 तक  मिनी जल पूर्ति योजना के द्वारा गांव में शुद्ध जल देना था लेकिन विभागीय लापरवाही के कारण वर्षों से यह योजना अधूरा पड़ा है। यह मिनी जला पूर्ति  योजना   को कोई देखने वाला नही।  वस्तु का शोभा बना है । सोलर मिनी जला पूर्ति योजना। अधूरा कार्य  होने से ग्रामीणों में पीएचडी विभाग के प्रति लापरवाही को लेकर ग्रामीणों में भारी आक्रोश देखा जा रहा है। इस संबंध में चमरबीगहा गांव के  दिलीप सिंह, ,राजेन्द्र प्रसाद ,अखलेश यादव  पंकज कुमार योगेंद्र यादव रौशन कुमार ने बताया कि एफ़ आर सी नहीं बनने से शुद्ध जल नहीं मिल रहा है ।   जिससे फ्लोराइड  युक्त जल पीने के लिए क्षेत्र के लोग मजबूर हैं ।एवं एबीएन कंपनी के द्वारा गांव में जलापूर्ति योजना  के द्वारा  घर में पानी देना था। यह योजना का निर्माण  मात्र 4 से 5 माह में करना था ।लेकिन अभी तक कार्य अधूरा पड़ा ।इसे सूझबूझ  न विभाग ले रही न ही ठीकेदार  ले रहे।इस संबंध में पीएचईडी के कार्यपालक अभियंता राजेश कुमार से बात करने पर उन्होंने बताया  कि एभीन  कंपनी को काम  करने के लिए दिया गया था ।लेकिन अभी तक काम  पूरा नहीं किया गया है।मैं अभी नए आया हु।पता लगाकर कम्पनी के ऊपर जाँच करुगा। जिस से मिनी सोलर जला पूर्ति योजना जल्द शुरू किया जायेगा ।एभीएन  कंपनी के मैनेजर अजय मिश्रा  से बात करने पर उन्होंने बताया कि कार्य को जल्दी पूरा कर शुद्ध पेयजल का आपूर्ति ग्रामीणों को किया जाएगा ।और फलोराइड पानी से क्षेत्र के लोगों को मुक्त कर शुद्ध जल दिया जाएगा।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages