अपराध के खबरें

ट्यूटर हैंडल पर जारी एक नाबालिग बालिका की शादी का सत्यापन में दिनभर परेशान रही पुलिस प्रशासन

-प्रशासनिक सत्यापन में आधार कार्ड एवं ग्रामीणों के अनुसार विवाहिता बालिग साबित हुई बालिका का उम्र


गुड्डू कुमार / आलोक वर्मा 

वारिसलीगंज(नवादा): तुसार श्रीवस्तव नामक एक व्यक्ति द्वारा शुक्रवार को शोसल मीडिया के ट्यूटर हैण्डल पर  जारी एक  नवविवाहित जोड़े की तश्वीर पर विवाहिता की उम्र महज़ 08 वर्ष और पास बैठे दूल्हे के उम्र 28 वर्ष लिखकर मार्मिक अपील करते हुए शादी को बेमेल करार देकर अपने टयूटर अकाउंट पर ट्रॉल किया। शोसल मीडिया पर कई प्रकार का कमेंट आने लगा। जिस पर नवादा डीएम यशपाल मीणा ने संज्ञान लेकर जिले के हर प्रखंड के अधिकारियों को इस बेमेल शादी वाले परिवार का पता लगाकर नवदम्पति का उम्र सत्यापन की जिम्मेदारी सौपी। ततपश्चात जिले में प्रशासनिक महकमे से लेकर इलेक्ट्रॉनिक एवं प्रिंट मीडिया के पत्रकारों में घटना की सच्चाई पता लगाने का ताबड़तोड़ प्रयास शुरू हो गया। इस बीच नवविवाहिता का पैतृक गांव वारिसलीगंज प्रखंड के मंजौर होने की सूचना क्षेत्र में तेजी से फैला। जिसपर वारिसलीगंज के बीडीओ सत्यनारायण पंडित एवं सीओ उदय प्रसाद स्थानीय थानाध्यक्ष पवन कुमार को साथ लेकर उक्त गांव  पहुंच   वायरल खबर की सत्यता जानने के लिए संबंधित परिवार से संपर्क साधने के प्रयास किया। तब ग्रामीणों ने बताया कि वायरल तश्वीर की लड़की का नाम तनु कुमार पिता पवन कुमार पैतृक गांव मंजौर है। लेकिन उक्त लड़की अपने ननिहाल जमुई जिले के सिकन्दरा थाना क्षेत्र के अकौनी गांव में रहती है। जबकि उसके पिता कही बाहर किसी कंपनी में कार्य करते हैं। करीब डेढ़ दो माह पूर्व पवन को लड़की तन्नू कुमारी की शादी हुई है। पवन के ग्रामीण व नजदीकी रिश्तेदारों द्वारा बालिका का उम्र प्रमाण के रूप में उसका आधार कार्ड दिखाया। जिसमें बालिका का उम्र 18 बर्ष से अधिक है। जबकि ग्रामीणों द्वारा भी बालिका को बालिग बताया गया।


बता दें कि  नवादा जिला प्रशासन वायरल खबर की पुष्टि करने के प्रयास  परेशान रही। अंततः अधिकारियों ने उक्त मामले की छानबीन करते हुए वायरल खबर के आधार पर उसकी पहचान थाना क्षेत्र के मंजौर गांव निवासी पवन सिंह उर्फ पावो सिंह की पुत्री तन्नू कुमारी के रुप में की गई। वायरल खबर थाना क्षेत्र के होने की सूचना मिलते ही जिले के अधिकारियों का जमावड़ा गांव पहुंच गया। जिसमें सदर एसडीओ उमेश कुमार भारती, पकरीबरावां एसडीपीओ मुकेश कुमार साहा, थानाध्यक्ष पवन कुमार, बीडीओ सत्यनारायण पंडित, अंचल अधिकारी उदय प्रसाद सहित अन्य अधिकारी दल-बल के साथ मंजौर गांव पहुंचकर वायरल खबर के संबंध में लड़की के ग्रामीणों से जानकारी ली गई। 


बचपन से ही ननिहाल में रहती थी तन्नु : इस दौरान परिजनों व ग्रामीणों ने अधिकारियों को बताया कि लड़की बचपन से ही मां सहित अन्य परिवार के साथ अपने ननिहाल सिकन्दरा थाना क्षेत्र के अकौनी गांव में रह रही है। संभवतः कुछ दिन पहले किसी देवस्थल में शेखपुरा जिले के वरसा गांव निवासी सोनु कुमार के साथ हिन्दू रीति-रिताब के साथ संपन्न हुआ। इधर ग्रामीणोंं ने बताया कि जिस लड़की को न्यूज चैनल वाले आठ साल उम्र बता रहे हैं। उसका वास्तविक उम्र 18 वर्ष से अधिक है। शारीरीक रुप से काफी कमजोर और कद नाटा जरूर है।उक्त लड़की की दूसरी बहन छोटी कुमारी की उम्र 15 साल की है।जबकि सबसे छोटा पुत्र आयुष कुमार का उम्र तकरीबन साढ़े बारह वर्ष है। इस संबंध में पूछे जाने पर पकरीबरावां एसडीपीओ मुकेश कुमार साहा ने बताया मामला पूरी तरह हास्यास्पद है। वर-वधु का जो उम्र वायरल हुआ है, वह पूरी तरह गलत है। लड़का लड़की पूरी तरह बालिग है बाल-विवाह का मामला नहीं है। बाद में चाइल्ड हेल्प लाइन के काउंसलर आर्यन मोहन तथा टीम सदस्य गोपाल कुमार थाना पहुंचकर पुलिस से उम्र का सत्यापन का लिखित प्रमाण प्राप्त किया।
Tags

live