अपराध के खबरें

बिहार का तैरता अस्पताल एक दो दिन की बारिश में डूबा दरभंगा मेडिकल कॉलेज

संवाद 
दरभंगा मेडिकल कॉलेज अस्पताल की स्थापना का स्वर्णिम इतिहास है। इस संस्थान रोगियों को बेहतर इलाज देने में अपनी अमिट पहचान बनाई है। लेकिन, व्यवस्था का दीमक संस्थान के गौरवमयी इतिहास को धुमिल करने की कोई कसर नहीं छोड़ी है। बरसात के दिनों में पानी में डूबा रहना इस परिसर की नियति बनकर रह गई है। मेडिसीन विभाग,ओपीडी,आपातकालीन सेवा, शिशु विभाग,अधीक्षक कार्यालय के बाहरी परिसर और वार्ड के अंदर पानी घुस गया है। 
जिसके चलते चिकित्सक, कर्मी, मरीज और उनके परिजनों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है।डीएमसीएच में इलाज करा रहे मरीज के परिजनों ने बताया कि तेज बारिश के चलते यहां जलजमाव की स्थिति बनी हुई है। आज सुबह वार्ड में भी पानी घुस गया है। उपर से गंदगी ने यहां स्थाई डेरा बना रखा है। कोरोना संक्रमण के इस दौर में भी साफ-सफाई की कमी के बीच जल-जमाव ने पूरी व्यवस्था का बेड़ा गर्क कर दिया। चारों तरफ जल-जमाव है। चिकित्सक, नर्स व अन्य स्वास्थ्यकर्मियों के साथ-साथ कॉलेज के विद्यार्थी भी गंदा पानी पार कर अस्पताल में जाते हैं।पप्पू यादव ने ट्वीट पर लिखा कि" विकास का कमाल, बिहार का तैरता अस्पताल एक दिन की बारिश में डूबा दरभंगा मेडिकल कॉलेज चुल्लू भर नहीं, अब इतना पानी है कि बेशर्म पूरा स्वास्थ्य महकमा डूब मर सकता है! ठीक कहा न मंगल पांडेय जी? वहीं स्थानीय प्रशासन का दावा है कि समस्या को शीघ्र दूर किया जाएगा। 

live