ये वक़्त वो है के हर शख़्स अपने घर में रहे : समर्थ चतुर्वेदी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

ये वक़्त वो है के हर शख़्स अपने घर में रहे : समर्थ चतुर्वेदी

Share This

कोरोना काल की इस संकट घड़ी में लोगों से घर से बाहर न निकलने की अपील की समर्थ चतुर्वेदी ने

अनूप नारायण सिंह 


इस समय पूरे देश में कोरोना वायरस ने दहशत मचा के रखी है। ऐसे में इसे और फैलने से रोकने के लिए हम सभी को कुछ दिनों के लिए अपने अपने घरों में ही रहना चाहिए। कई जगह पे लॉक डाउन भी लगे हुए हैं, हमें सारी कोविड गाइड लाइंस को फ़ॉलो करना चाहिए। भोजपुरी के हरफनमौला अभिनेता समर्थ चतुर्वेदी भी लोगों से यही अपील कर रहे हैं कि आप सभी खुद को सुरक्षित रखें और अपने घरों से बाहर न निकलें। उन्होंने सोशल मीडिया पर एक प्रेरणादायक शेर साझा किया है। उन्होंने लिखा है "दोस्तों की, न दुश्मनों की रहगुज़र में रहें। ये वक़्त वो है के हर शख़्स अपने घर में रहें।"
जी हाँ समर्थ चतुर्वेदी इस शायरी से यही संदेश देना चाहते हैं कि कुछ दिनों के लिए हर व्यक्ति अपने घर मे ही रहे ताकि इस वायरस का और प्रसार न हो सके।
लगभग 100 फिल्मों में तमाम सुपर स्टार्स के साथ काम कर चुके समर्थ चतुर्वेदी साहित्य, कविताओं में भी गहरी रुचि रखते हैं।पिछले वर्ष कोरोना काल से समर्थ चतुर्वेदी अपने ऑफिशियल यूट्यूब चैनल पर एक साहित्यिक यात्रा चला रहे हैं "मेरे अतिथि" इस श्रंखला के तहत कविताओं का गुलदस्ता पेश किया जाता है। यह एक बेहद सकारात्मक सोच है कि ऐसे हालात में इंसान साहित्य, कविताओं की दुनिया मे कुछ समय के लिए डूब जाए और मन मस्तिष्क को नकारात्मक विचारों से बचा सके।
आपको बता दें कि समर्थ चतुर्वेदी का कॉमेडी अवतार निर्देशक प्रमोद शास्त्री की हाल ही में रिलीज हुई फ़िल्म "प्यार तो होना था" में नजर आया था और दर्शक उन्हें इस कॉमिक कैरेक्टर में देखकर खूब हंसे थे। उनकी कॉमिक टाइमिंग कमाल की रही। अरविन्द अकेला कल्लू की इस फ़िल्म में उन्होंने पहली बार कॉमेडी की और दर्शकों का दिल जीत लिया समर्थ चतुर्वेदी ने। इस फ़िल्म में उन्होंने अरविन्द अकेला कल्लू के मैनेजर का रोल किया था जो एक साउथ इंडियन रहता है। फ़िल्म में कल्लू ने एक सुपर स्टार का किरदार प्ले किया था, और समर्थ चतुर्वेदी ने उनके मैनेजर मुत्थु स्वामी का किरदार निभाया था, यह एक कॉमिक किरदार था जिसे सभी ने खूब पसंद किया।
गौरतलब है कि सन 2002 में भोजपुरी फिल्म बलमा बड़ा नादान से बतौर हीरो एंट्री करने वाले अभिनेता समर्थ चतुर्वेदी ने फिल्म भईल प्यार नचनियां सहित कई भोजपुरी फिल्मों में बतौर हीरो अभिनय का जौहर दिखाया है। विगत कई वर्षों से सह अभिनेता के रूप में काम कर रहे समर्थ चतुर्वेदी ने कई फिल्मों में निगेटिव रोल भी किया है। "डांस दोस्ती और प्यार’, तथा ‘सीडी कांड’ जैसी कई हिन्दी फिल्मों में उन्होंने काम किया है। उन्होंने 100 से अधिक भोजपुरी फिल्मों में अभिनय किया है। सन 2011 में फिल्म निर्देशक शाद कुमार निर्देशित भोजपुरी फिल्म ‘त्रिनेत्र’ से उन्होंने बतौर खलनायक एक नये सफर की शुरुआत की। इसके बाद बीवी नम्बर 1, लाल दुप्पटा मलमल का, टाईगर, संसार, तेरी कसम, बनारस वाली, धरती के लाल करेला कमाल, बेताब, राजा बाबू , बम बम बोल रहा हैं काशी, दरोगा बबुनी, प्रेम के दुश्मन, निरहुआ हिन्दुस्तानी 2’ आदि कई भोजपुरी फिल्मों में अलग-अलग किरदार में दर्शकों का मनोरंजन किया है। समर्थ चतुर्वेदी अभिनीत कई अनगिनत फिल्में आने वाली हैं।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages