जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ की बैठक, वैक्सीनेशन में तेजी लाने का दिया निर्देश - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ की बैठक, वैक्सीनेशन में तेजी लाने का दिया निर्देश

Share This
- आँगनबाडी केंद्र पर टीकाकरण के लिए सेविका/सहायिका द्वारा आम लोगों को बुलाकर टीकाकरण कराएं
- बाढ़ कार्य से जुड़े सभी पदाधिकारी, कर्मचारियों का टीकाकरण कराया जाय

मोतिहारी 24 मई।
प्रिंस कुमार 
जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने गोपनीय शाखा कार्यालय कक्ष में वैक्सीनेशन कार्य की व्यवस्था को लेकर स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों के साथ बैठक की । बैठक में उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों में वैक्सीनेशन कार्य में तेजी लाने को लेकर अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये। डीएम ने आंगनबाड़ी केंद्र को वैक्सीनेशन सेंटर बनाने का निर्देश दिया तथा आंगनबाड़ी सेविका /सहायिका को 1 दिन पूर्व इसकी सूचना देने के लिए जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को आदेश दिया। ताकि आंगनबाड़ी सेविका /सहायिका लोगों को प्रेरित (मोबलाइज) कर टीका केंद्र पर लाएं। प्रत्येक आंगनबाड़ी केंद्र पर कम से कम 200 टीकाकरण प्रतिदिन होना चाहिए। जिलाधिकारी ने वैक्सीनेशन कार्यों को लक्ष्य के अनुरूप करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी को निर्देशित करते हुए कहा कि जिले में टीकाकरण केंद्र की मॉनिटरिंग कर सुव्यवस्थित ढंग से जिले में टीकाकरण कराया जाए। 
आम लोगों को बुलाकर टीकाकरण कराएं-
जिलाधिकारी ने डीपीओ (आईसीडीएस) को निर्देश दिया है कि आँगनबाडी केंद्र पर टीकाकरण के लिए सेविका/सहायिका द्वारा आम लोगों को बुलाकर टीकाकरण कराएं । साथ ही उन्होंने बीएलओ द्वारा भी लोगों को जागरूक कर टीकाकरण के लिए सेंटर पर लाने हेतु अधिकारियों को निदेश दिए। उन्होंने कहा कि होम आइसोलेशन में रहने वाले व्यक्तियों के स्वास्थ्य की निगरानी एचआईटी एप से करते हुए टेंपरेचर एवं ऑक्सीजन लेवल की डेटा की एंट्री की जाए। यदि ऑक्सीजन लेवल 93 से कम होता है उसे डेडिकेटेड कोविड हेल्थ सेंटर में शिफ्ट किया जाए। होम आइसोलेशन में रह रहे लोगों को मेडिकल किट मिले यह सुनिश्चित किया जाए। कंट्रोल रूम से लगातार होम आइसोलेशन में रहने वाले लोगों की जानकारी प्राप्त की जाए। 
बाढ़ कार्य से जुड़े सभी पदाधिकारी, कर्मचारियों का टीकाकरण कराया जाय-
बाढ़ कार्य से जुड़े सभी पदाधिकारी, कर्मचारियों को टीकाकरण अवश्य कराया जाय। बाढ़ वाले इलाकों में टीकाकरण पर ध्यान देने देने की आवश्कता है। सामुदायिक किचन को सुचारू रूप से चलाया जाए| भोजन की क्वालिटी अच्छी होनी चाहिए, सफाई एवं सोशल डिस्टेंसिंग का पालन अवश्य कराया जाए। उन्होंने कहा कि बाढ़ वाले इलाके में कैंप लगाकर सभी परिवारों का वैक्सीनेशन कराया जाए। 
सीटी स्कैन एवं एक्स-रे मशीन की इंस्टॉलेशन जल्द की जाए-
सदर अस्पताल में सीटी स्कैन एवं एक्स-रे मशीन की इंस्टॉलेशन जल्द की जाए। कोरोना टेस्टिंग की रिपोर्ट को पोर्टल पर अपलोड कराया जाए। 1 मार्च से 20मई तक जितना भी एंटीजन टेस्ट हुआ है उसको पोर्टल पर अवश्य अपलोड कराया जाए। उक्त मौके पर उप विकास आयुक्त, सिविल सर्जन, डीपीओ आईसीडीएस, जिला पंचायत राज पदाधिकारी, विशेष कार्य पदाधिकारी गोपनीय शाखा, जिला सूचना जनसंपर्क पदाधिकारी सहित अन्य प्रशासनिक पदाधिकारी मौजूद थे।
अग्निशमन वाहन की सहायता से सैनिटाइजेशन का कार्य किया जा रहा-
कोरोना के बढ़ते मामलों के मद्देनजर जिला प्रशासन, पूर्वी चंपारण, मोतिहारी द्वारा शहर के सभी प्रमुख सार्वजनिक स्थलों, रेलवे स्टेशन, सदर अस्पताल,,पुलिस अधीक्षक कार्यालय, सरकारी आवास, सरकारी बस स्टैंड, प्राइवेट बस स्टैंड, एवं गांवों में अग्निशमन वाहन की सहायता से सैनिटाइजेशन का कार्य किया जा रहा है। 
जिला प्रशासन की ओर से सभी जिलावासियों से की गई है अपील-
• यथासंभव घर में रहने का प्रयास करें, अतिआवश्यक होने पर ही घर से बाहर निकलें।
• मास्क का उपयोग करें।
• भीड़ भाड़ वाले स्थानों पर जाने से बचें।
• दो व्यक्तियों के बीच दो गज की दूरी जरूर रखें।
• निश्चित अंतराल पर अपना हाथ साबुन से धोते रहें।
• राज्य के बाहर से आए व्यक्ति कोविड 19 जांच नजदीकी सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों में अवश्य कराएं।
• सतर्क रहें, स्वयं को और अपने परिवारजनों को सुरक्षित रखें।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages