अपराध के खबरें

बिहार में रिकॉर्ड तोड़ बारिश, तबाही से सात मरे दरभंगा में एक की मौत, जानें आज किस जिला में होगी अधिक बारिश

मिथिला हिन्दी न्यूज टीम 

चक्रवाती तूफान यास का बिहार में असर साफ दिख रहा है। तेज हवाओं के साथ भारी बारिश हो रही है। बिहार में यास के प्रभाव के कारण   उड़ानें और रेल यातायात के प्रभावित हुआ। कई जगह पेड़ गिरने से आवागमन बाधित रहा। वहीं, घंटों बिजली आपूर्ति ठप रही। आपको बता दें बिहार में बड़े पैमाने तबाही मचाई है।  सात लोगों की मौत हुई है। इसके अलावा छह लोग घयल हुए हैं।  दरभंगा और बांका जिलें में एक-एक व्यक्ति की मौत पेड़ गिरने से हो गयी हैं। बांका में एक व्यक्ति की घायल होने की पुष्टि हुई है। इसके अलावा मुंगेर, बेगूसराय, गया, भोजपुर और पटना एक- एक व्यक्ति की मौत दीवार गिरने से हो गयी हैं। बेगूसराय में चार और गया में एक व्यक्ति दीवार गिरने से घायल हुए हैं। कई जगहों पर ट्रेनों का ट्रेक उखाड़ने रेलवे स्टेशन पानी भरने से यातायात बाधित हो गया है अस्पताल में पानी घुस गया है सबसे ज्यादा बारिश वैशाली में 136 मिमी, जबकि पूर्णिया में 83.8 मिमी दर्ज की गई। खगड़िया, पटना, पूर्वी चंपारण, अररिया, बेगूसराय, समस्तीपुर, जमुई, मधुबनी में भी अधिक बारिश रिकॉर्ड की गई।पटना को वैशाली से जोडऩे वाले भद्र घाट पर पीपा पुल का एप्रोच रोड धंस गया। वाहनों का परिचालन शुक्रवार की सुबह से अगले दो दिनों के लिए रोक दिया गया। वैशाली के राघोपुर में तेज बारिश के कारण रुस्तमपुर पीपापुल क्षतिग्रस्त हो गया। भोजपुर के आरा, जगदीशपुर, गड़हनी, पीरो एवं शाहपुर अंचलों में डेढ़ दर्जन से अधिक मिट्टी के घर ध्वस्त हो गए। बड़हरा के मौजमपुर-महुली घाट स्थित बिहार -यूपी को जोडऩे वाले पीपा पुल पर वाहनों का परिचालन ठप हो गया है। 

आज सबसे ज्यादा बारिश होने वाला जगह 

  सीतामढ़ी, पूर्वी-पश्चिम चंपारण, गोपालगंज, सीवान, सारण, पटना, वैशाली. मुजफ्फरपुर, शिवहर, 

समतल बारिश होने जगह 
(सीतामढ़ी जनकपुर रोड) , शिवहर, सारण, नालंदा, बेगूसराय, लखीसराय, समस्तीपुर, दरभंगा, मधुबनी, सुपौल, सहरसा, मधेपुरा, सीतामढ़ी, मुजफ्फरपुर, बक्सर, रोहतास, औरंगाबाद, अरवल, भोजपुर, गया, जहानाबाद, नवादा, जमुई, बांका, मुंगेर, जमुई, भागलपुर, कटिहार, पूर्णिया, खगड़िया, मघेपुरा, अररिया, किशनगंज, गोपालगंज, पूर्व चंपारण, 







live