सभी लोग निश्चित रूप से वैक्सीन ले- डॉ परमानंद प्रसाद पाल - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

सभी लोग निश्चित रूप से वैक्सीन ले- डॉ परमानंद प्रसाद पाल

Share This
 
शाहपुर पटोरी। एशोसिएशन फॉर पॉलिटिकल स्टडीज बिहार के तत्वावधान में रविवार को आम लोगों की चुप्पी और हमारी भूमिका विषय पर अंतर्राष्ट्रीय वेबीनार सह परिचर्चा आयोजित की गई। वेबीनार की अध्यक्षता  ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के विश्वविद्यालय राजनीति विज्ञान विभाग के उपाचार्य सह कार्यक्रम के संयोजक सह आयोजन सचिव डॉ घनश्याम राय ने किया। उन्होंने परिचर्चा में भाग लेने वाले सभी प्रतिभागियों का स्वागत करते हुए कहा कि आज के वेबीनार का उद्देश्य असंख्य समस्याओं से जूझते रहने के बावजूद आम लोग  चुप रहते हैं। जरूरत है आम लोग जागरूक हों और आगे आएं। हम बुद्विजीवियों को पहलकदमी लेने की जरूरत है। मुख्य अतिथि बिहार सरकार के उच्च शिक्षा विभाग के निदेशक प्रोफेसर रेखा कुमारी ने परिचर्चा का उद्घाटन करते हुए कहा सरकार के द्वारा  दर्जनों योजनाएं आम लोगों के विकास के लिए बनाई जाती है परंतु आम लोगों तक सही ढ़ंग से पहुंच नहीं पाता है। इसीलिए आम लोगों को जागरूक होने की जरूरत है। पढ़े लिखे लोगों की जिम्मेदारी है कि वे सरकार की योजनाओं का लाभ आम लोगों तक पहुंचाने में मदद करे। आम लोगों को सरकार की योजनाओं की जानकारी दे। शिक्षा के क्षेत्र में काफी काम किया गया है। अनेक योजनाएं चल रही है। उन्होंने इस तरह की परिचर्चा के आयोजन के लिए संयोजक सह आयोजन सचिव को धन्यवाद दिया कि उन्हें मुख्य अतिथि सह उद्घाटन भाषण के लिए आमंत्रित किया। पटना विश्वविद्यालय के अंग्रेजी विभाग के सेवानिवृत्त विभागाध्यक्ष सह बिहार लोक सेवा आयोग के पूर्व सदस्य प्रोफेसर शिव जतन ठाकुर ने विशिष्ट अतिथि के रूप में विषय प्रवेश कराते हुए कहा कि आम लोगों से अभिप्राय है वंचित समाज। वंचित समाज के लोग हीं हांसिए पर खड़ा है। उन्होंने कहा कि बंगाल चुनाव में आम लोगों की भूमिका काफी रही है। उन्होंने संविधान के कई आर्टिकल का उल्लेख किया। कहा कि आम जनता सजग है। कोरोना काल में आम जनता त्रस्त है। पटना मेडिकल कॉलेज अस्पताल के सेवानिवृत्त प्राध्यापक डॉ परमानंद प्रसाद पाल ने कहा कि आम जनता काफी सक्रिय है। राजनीतिक दलों को इसे समेटने की जरूरत है। सोशल मीडिया पर आम लोगों की सक्रियता देखी जा सकती है। उन्होंने एक डॉक्टर के रूप में अपील किया कि सभी लोग वैक्सीन ले। यही बचाव का उपाय है। किसानों के आंदोलन,एन आर सी,जीएसटी के खिलाफ आम लोगों की हीं प्रमुख भूमिका रही है। डॉ बबीता जैन ने कहा कि दशरथ मांझी आम आदमी का सबसे उदाहरण है जिन्होंने चुप रहकर पहाड़ों को चीर कर रास्ता बना डाला जिन्हें सरकार ने सम्मानित किया। हरियाणा से डॉ जगदीप सिंह ने कहा कि सरकार प्रयत्नशील है कि हर आदमी को सुविधा मिले। डॉ अभयानंद सुमन ने कहा कि भारत सरकार और राज्य सरकार की जिम्मेदारी है कि सभी लोगों को समान सुविधा उपलब्ध करावें।प्रोफेसर सुनील कुमार झा ने कहा कि आम आदमी विभिन्न श्रोतों से अपनी अभिव्यक्ति कर रहा है। सरकार को ध्यान देने की जरूरत है। शबनम कुमारी ने कहा कि अभी के समय में जाति धर्म आदि संकीर्णताओं से ऊपर उठकर महामारी के समय आम लोगों को सेवा करने की जरूरत है। डॉ प्रगति ने कहा कि मन को मजबूत रखना है। डॉ शिवानी भारद्वाज ने कहा के आम आदमी हीं अंग्रेजों को भगाया। इंदिरा गांधी की निरंकुशता को हराया। वेबीनार को डॉ प्रयुत्मा, डॉ प्रगति,संदीप चौधरी, स्वाति राय, आदि ने संबोधित किया। मिनाक्षी शर्मा, सोनिका शर्मा, डॉ सरिता कुमारी, सुमन कटारिया, अमन कुमार राय, संजीत लाल, सौ के लगभग प्रतिभागी उपस्थित थे जिसके कारण बहुत सारे लोग शुरू में जुड़ नहीं पाए। संचालन गुजरात से डॉ प्रीति चंद्रा ने किया। धन्यवाद ज्ञापन डॉ शिवानी भारद्वाज ने किया।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages