जिलाधिकारी ने अहले सुबह सदर अस्पताल की व्यवस्था का लिया जायजा - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

जिलाधिकारी ने अहले सुबह सदर अस्पताल की व्यवस्था का लिया जायजा

Share This

- डीएम ने सिविल सर्जन को ऑक्सीजन एवं आवश्यक दवाओं का मैनेजमेंट सही ढंग से करने का दिया निर्देश  
- कोविड 19 के कार्यो में न करें लापरवाही - डीएम
  
मोतिहारी 10 मई।

प्रिंस कुमार 
पूर्वी चम्पारण के जिलाधिकारी शीर्षत कपिल अशोक ने अहले सुबह सदर अस्पताल, मोतिहारी पहुंच कर कोविड 19 मरीजों के इलाज एवं व्यवस्था का जायजा लिया । जिलाधिकारी ने कहा कोविड-19 कार्यो में लापरवाही न करें । जिलाधिकारी ने स्वास्थ्य विभाग के अधिकारियों एवं कर्मचारियों को हमेशा अलर्ट रहने का निदेश दिया। उन्होंने अस्पताल में ऑक्सीजन की आपूर्ति, दवा की आपूर्ति के बारे में जानकारी प्राप्त की। साथ हीं ऑक्सीजन एवं आवश्यक दवाओं का मैनेजमेंट सही ढंग से करने का निर्देश सिविल सर्जन को दिया गया। मौके पर उपस्थित कार्यपालक अभियंता, विद्युत को निर्देश दिया गया कि कर्मचारियों की प्रतिनियुक्ति शिफ्ट में किया जाए ताकि बिजली की समस्या उत्पन्न ना हो। जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर में जलजमाव को अविलंब निकासी के लिए नगर निगम के आयुक्त को निर्देश दिया।
गाड़ी पार्किंग का व्यवस्था सही ढंग से करने का निर्देश -
अभी तक जेनरेटर क्रय नहीं होने पर कार्य में शिथिलता को देखते हुए जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को कड़े निर्देश दिया। सुरक्षा व्यवस्था का जायजा लेने के क्रम में सुरक्षा एजेंसी के कार्यों को सही ढंग से करने का निर्देश एजेंसी को दिया । उन्होंने अनुमंडल पदाधिकारी को निर्देश दिया कि मेन रोड पर ही गाड़ी पार्किंग की व्यवस्था की जाए। लोग टीकाकरण एवं इलाज कराने हेतु निजी वाहन से अंदर नहीं आएंगे, केवल सरकारी एंबुलेंस तथा डॉक्टर की गाड़ी अंदर आएगी। गाड़ी पार्किंग की व्यवस्था सही ढंग से की जाए।
दो- दो घंटे पर मरीजों को डॉक्टरों की टीम द्वारा देखा जाए-
जिलाधिकारी ने सिविल सर्जन को कहा दो- दो घंटे पर मरीजों को डॉक्टरों की टीम द्वारा देखा जाए तथा वस्तु स्थिति को उनके परिजन को बताया जाए। ताकि उनके परिजन भी वस्तु स्थिति से अवगत होते रहें । जिलाधिकारी ने कहा किसी भी हालत में लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी । 
उन्होंने बताया पूर्वी चंपारण जिला प्रशासन के द्वारा राज्य सरकार के द्वारा लागू लॉकडाउन का सख्ती से पालन कराया जा रहा है| साथ ही साथ गहन मास्क चेकिंग की जा रही है। जिसमें जिले के सभी प्रखंडों /अनुमंडलों में विभिन्न चौक-चौराहों एवं सार्वजनिक स्थानों पर गहन जांच की जा रही है। 8 अप्रैल से 9 मई तक जांच के दौरान मास्क न पहनने के कारण कुल 25948 लोगों पर जुर्माना किया गया। जिसमें प्रशासन के द्वारा 1297400 रू. जुर्माना के रूप में वसूल किया गया।
मास्क चेकिंग अभियान चलाया गया-
आज प्रशासन द्वारा मास्क चेकिंग अभियान चलाया गया जिसमें 275 लोगों से मास्क नहीं पहनने पर 13750 रू फाइन वसूला गया।
जिसमें रक्सौल अनुमंडल से30000रु. , चकिया अनुमंडल से 1600रु. , सिकरहना अनुमंडल से 2050 रु., मोतिहारी अनुमंडल से 2600रु. , अरेराज अनुमंडल से 1850रु. एवं पकड़ीदयाल से 2650रु. वसूल किया गया। जिलाधिकारी के साथ मौके पर उप विकास आयुक्त, अपर समाहर्ता, अनुमंडल पदाधिकारी, अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी, अनुमंडलीय लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी, भूमि सुधार उप समाहर्ता, जिला परिवहन पदाधिकारी एवं अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे।


जिला प्रशासन की जिले वासियों से अपील- 
-जरूरी होने पर ही घर से बाहर निकलें 
-मास्क पहन कर ही बाहर निकलें 
-सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages