अपराध के खबरें

ग्राम स्तर पर मुखिया से ली कोविड और चमकी पर जानकारी

- टीम भेजकर गांव में भी कराई जा रही कोरोना जांच 

मुजफ्फरपुर। 21 मई

प्रिंस कुमार 

जिलाधिकारी मुजफ्फरपुर प्रणव कुमार ने शुक्रवार को जिले के विभिन्न पंचायतों के मुखिया गणों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से बैठक की। बैठक में विशेष रूप से गांव स्तर पर कोविड-19 संक्रमण की अद्यतन स्थिति की जानकारी ली गई।
डीएम प्रणव कुमार के द्वारा बैठक में भाग ले रहे सभी मुखिया गणों का स्वागत किया गया।तत्पश्चात जिलाधिकारी द्वारा जिला प्रशासन/ स्वास्थ्य विभाग के माध्यम से संक्रमण रोकने के बाबत की जा रही गतिविधियों की विस्तार से जानकारी उपलब्ध कराई गई। बैठक में उपस्थित माननीय मुखिया गणों के द्वारा कुछ महत्वपूर्ण सुझाव भी दिए गए जिस पर अनिवार्य रूप से अमल करने की बात भी कहीं गई।
 जिलाधिकारी ने सभी मुखिया को संबोधित करते हुए कहा कि सामुदायिक एफर्ट के द्वारा कोविड-19 जैसे वैश्विक महामारी को नियंत्रित किया जा सकता है।ऐसे में आप सभी जनप्रतिनिधियों का सहयोग अपेक्षित है ताकि गांवो में संक्रमण के प्रसार पर प्रभावी नियंत्रण स्थापित किया जा सके। संक्रमण को रोका जा सके।
जिलाधिकारी ने जिला प्रशासन /स्वास्थ्य विभाग द्वारा किए जा रहे गतिविधियों यथा सैम्पलिंग, टेस्टिंग, टीकाकरण चिकित्सीय प्रबंधन आदि के बारे में विस्तार से जानकारी दी। उन्होंने कहा कि टीम भेजकर गांव में भी जांच कराई जा रही है। चिन्हित स्थलों पर आसोलेशन केंद्र बनाने की दिशा में आवशयक कार्रवाई की जा रही है।पॉजिटिव मरीजों को चिन्हित करते हुए अग्रेतर करवाई करने की दिशा में महत्वपूर्ण कदम भी उठाए जा रहे हैं।
 उन्होंने सभी मुखियागणों से अनुरोध करते हुए कहा कि इसके प्रकोप को समाप्त करने तथा इसके विरुद्ध लड़ाई में आप सबों की महत्वपूर्ण भूमिका अपेक्षित है। उन्होंने कहा कि स्थानीय संसाधनों को चिन्हित करते हुए उसे क्रियाशील बनाया जाए एवं प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी, प्रखंड विकास पदाधिकारियों से समन्वय स्थापित करते हुए कोरोना पर नियंत्रण को लेकर साझा प्रयास किया जाए। 
उन्होंने कहा कि वार्ड क्रियान्वयन समिति के सदस्यों के माध्यम से पॉजिटिव मरीजों एवं उन जैसे लक्षण वाले व्यक्तियों को तत्काल चिन्हित करते हुए इसकी सूचना एएनएम अथवा बीडीओ और चिकित्सा पदाधिकारी को दी जाए।
 कहा गया कि सभी मुखिया अपने स्तर से प्रत्येक वार्ड में एक व्यक्ति को प्रतिनियुक्त करें जिसके माध्यम से पॉजिटिव मरीजों की तत्काल सूचना उपलब्ध कराई जा सके ताकि उन्हें समुचित चिकित्सा प्रदान हो सके। जिलाधिकारी द्वारा बताया गया कि ग्रामीण क्षेत्रों में संक्रमण को रोकने हेतु सरकार द्वारा महत्वपूर्ण कदम उठाया जा रहे हैं। प्रखंड स्तर पर उपलब्ध संसाधनों एवं अन्य आवश्यक संसाधनों से संबंधित प्रतिवेदन प्रखंड विकास पदाधिकारी, प्रखंड प्रमुख और प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी के संयुक्त हस्ताक्षर से प्राप्त हो चुका हैं जिसके आलोक में आवश्यक संसाधनों की उपलब्धता हेतु अग्रेतर कार्रवाई की जा रही है। 
बैठक में जिलाधिकारी ने अपील की कि अधिक से अधिक टीकाकरण से लोगों को आच्छादित करने हेतु ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों को आपके माध्यम से भी जागरूक करने की आवश्यकता है। पंचायतों के वैसे क्षेत्र जहां 45 वर्ष से ऊपर के व्यक्ति टीकाकरण से वंचित हैं उन क्षेत्रों को चिन्हित करते हुए इसकी सूचना उपलब्ध कराई जाए ताकि वहां टीकाकरण का कार्य कराया जा सके। 

जिलाधिकारी ने सभी प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारियों को निर्देशित किया कि टीकाकरण की साइट की सूचना पूर्व में ही जनप्रतिनिधि गणों को उपलब्ध कराई जाए।जिलाधिकारी ने प्रखंड विकास पदाधिकारियों, अन्य प्रखंड स्तरीय अधिकारियों, प्रखंड चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित किया कि माननीय जनप्रतिनिधियों के साथ समन्वय के साथ कार्य करते हुए इस कार्य में उनका अपेक्षित सहयोग लेना सुनिश्चित करें।
एईएस /चमकी बुखार पर भी ली।गई अद्यतन जानकारी

बैठक में एईएस/चमकी बुखार पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर उपस्थित माननीय मुखिया गणों ने भी अपना महत्वपूर्ण सुझाव दिया। जिलाधिकारी ने कहा कि एईएस/ चमकी बुखार और कोविड-19 दो विशिष्ट चुनौतियों के विरुद्ध साझा प्रयास की आवश्यकता है। 
उन्होंने कहा कि पूर्व की भांति इस बार भी आपका सहयोग मिलता रहेगा। उन्होंने कहा कि बीमार बच्चों की सूचना दे देने मात्र से उनकी जान बचाई जा सकती है। उन्होंने कहा कि एईएस चमकी बुखार संबंधित जागरूकता का कार्य माननीय मुखिया गण भी अपने स्तर से करें साथ ही पंचायत स्तरीय किए जा रहे कार्यों का अनुश्रवण भी किया जाए। इसके पूर्व जिलाधिकारी ने उपस्थित सभी मुखिया गणों को एईएस से संबंधित अधतन स्थिति की जानकारी तथा उस पर नियंत्रण के मद्देनजर की जा रही गतिविधियों के बारे में विस्तार से चर्चा की।
शुक्रवार को जिलाधिकारी द्वारा मुशहरी ,बोचहां, गायघाट मुरौल, मोतीपुर, साहेबगंज कांटी,मड़वन प्रखंड के विभिन्न ग्राम पंचायतों के मुखिया गणों को संबोधित किया गया। कल यानी 22 मई को इसी विषय पर शेष बचे प्रखंडों के विभिन्न पंचायतों के माननीय मुखिया गणों से जिलाधिकारी रूबरू होंगे।
बैठक में उप विकास आयुक्त डॉ सुनील कुमार झा, सहायक समाहर्ता श्रेष्ठ अनुपम, जिला पंचायती राज पदाधिकारी, अनुमंडल पदाधिकारी पूर्वी एवं पश्चिमी, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी, एसीएमओ, जिला टीकाकरण अधिकारी के साथ अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे। सभी प्रखंडों के प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी भी वीसी के माध्यम से जुड़े हुए थे।

live