मोतिहारी के आंगनबाड़ी केंद्रों में जागरूकता के साथ हो रहा है कोविड- 19 का टीकाकरण - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

मोतिहारी के आंगनबाड़ी केंद्रों में जागरूकता के साथ हो रहा है कोविड- 19 का टीकाकरण

Share This
सेविका,सहायिका घर-घर जाकर टीकाकरण के लिए लोगों से कर रही है अपील

प्रिंस कुमार 
मोतिहारी 02 जून। राज्य सरकार के निर्देशों का पालन करते हुए कोविड 19 महामारी से बचाव के लिए पूर्वी चम्पारण जिले में जोर- शोर से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा है। इसमें सरकारी गैर सरकारी स्वास्थ्य केंद्रों के साथ - साथ स्कूलों, आंगनबाड़ी केंद्रों पर भी टीकाकरण किया जा रहा है । इसी कड़ी में बुधवार को मोतिहारी शहर में आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 22, 23 में यूनिसेफ की सहायता से 45 वर्ष से ऊपर के लोगों को कोविड 19 का टीका दिया जा रहा है । जिसमें लोगों की सहभागिता देखने को मिल रही है। वार्ड संख्या 10 में संचालित आंगनबाड़ी केंद्र संख्या 23 की सहायिका ने बताया कि घर -घर जाकर एक दिन पूर्व में लोगों को सूचनाएं दी थी, उसके बाद पुनः टीकाकरण केंद्र पर यूनिसेफ व स्वास्थ्य कर्मी नर्स के आने के साथ ही पुनः क्षेत्र में घूमकर लोगों को इकट्ठा कर लक्ष्य से भी ज्यादा टीकाकरण करवाया गया है । केंद्र संख्या 23 पर टीकाकरण का लक्ष्य 24 था जबकि केन्द्र पर कुल 35 टीकाकरण हुआ है । वही केन्द्र संख्या 22 की संचालिका ज्योति देवी ने बताया कि दोपहर में टीकाकरण टीम के आने के साथ ही हमलोगों ने सर्वे रजिस्टर जिसमें टीका लेनेवाले लाभुकों का नाम, पता , मोबाइल नम्बर दर्ज था उनसे सम्पर्क कर लोगों का टीका करवाया गया है । ताकि लोग कोविड 19 का टीका लगवा के खुद के साथ अपने परिवार समाज को सुरक्षित रख सके । आंगनबाड़ी केंद्रों पर मास्क, सैनिटाइजर के साथ कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए टीकाकरण किया जा रहा है । इससे मुहल्ले के लोग भी खुश हैं कि उन्हें इस महामारी के दौरे में घर से बाहर,अस्पताल भी जाना नही पड़ रहा है । आसानी से घर के बगल में ही टीका मिल जा रहा है । यूनिसेफ की बीएमसी दीपा कुमारी ने बताया कि टीकाकरण के बाद थोडी दिक्कतें हो सकती हैं जैसे किसी को हल्का बुखार, बदन दर्द, हल्का चक्कर इनसे घबराने की आवश्यकता नहीं है । बुखार ज्यादा लगे तो पैरासिटामोल का इस्तेमाल कर सकते है । टीका लेने पर 30 मिनट आराम करना आवश्यक है । टीका लेकर धूप में न जाएं । हल्का सुपाच्य भोजन करें । किसी भी अफवाह में न पड़ें । टीकाकरण जरूर कराए । कोरोना महामारी से बचाव के लिए जरूरी है कि लोग कोविड टीकाकरण कराएं । देश मे बना हुआ टीका सुरक्षित है । 
वर्तमान समय में टीकाकरण ही वायरसजनित कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए सबसे विश्वसनीय माध्यम है। इसलिए निर्धारित आयु वर्ग के प्रत्येक व्यक्ति को टीका अवश्य लेना चाहिए। साथ ही, अपने सगे संबंधियों को भी टीका लेने के लिए जागरूक करना चहिए। जिससे पूरे समाज को कोरोना संक्रमण से बचाया जा सके। टीके की दोनों डोज लेने के बाद भी लोगों को मास्क पहनना और सामाजिक दूरी का पालन करना जरूरी है।
घर से बाहर दोहरा मास्क लगाकर निकलें :
पूर्वी चम्पारण के सिविल सर्जन डॉ अखिलेश्वर प्रसाद सिंह ने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्र कोविड टीकाकरण बढ़ाए जाने में मददगार साबित हो रहा है । लोग आसानी से आंगनबाड़ी केंद्रों पर टीका ले रहे हैं। लॉक डाउन के नियमों का पालन आवश्यक है । बहुत आवश्यक होने पर ही घर से बाहर दोहरा मास्क लगाकर निकलें। घर से बाहर निकलने के दौरान संयम बरतें व भीड़-भाड़ से बचें। इस बात को सभी को समझना होगा कि वह अपनी आवश्यकता का सामान लेने निकले हैं न कि कोरोना से संक्रमित होने। आपके द्वारा बरती गई लापरवाही आप पर ही नहीं बल्कि आपके परिवार के अन्य सदस्यों पर भी भारी पड़ेगी। उन्होंने बताया, यदि किसी को कोरोना के शुरुआती लक्षण जैसे- सर्दी, खांसी, बुखार, स्वाद एवं सुगंध कम लगना, अत्यधिक थकान एवं कमजोरी आदि हो तो यथाशीघ्र अपने निकटतम सरकारी स्वास्थ्य केन्द्र पर जाकर कोरोना की जांच अवश्य कराएं। ताकि, यह सुनिश्चित हो सके कि ये लक्षण आपमें कोरोना के हैं अथवा नहीं।
टीकाकरण केंद्र पर यूनिसेफ की बीएमसी दीपा कुमारी, प्रमोद पाठक, एएनएम आशा कुमारी, प्रियांशू कुमारी, सहायिका ज्योति देवी, शुषमा देवी, आशा रेणुका बाला, सहित अन्य लोग उपस्थित थे ।
कोरोना काल मे इन बातों पर ध्यान देना आवश्यक है ।
- एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
- सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
- अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
- आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
- छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages