अपराध के खबरें

कोरोना काल में लोगों की हरसंभव मदद के लिए टीम बनाकर काम कर रहे हैं- धीरज सर्राफ



- बेसहारों की मदद के लिए भोजन सहित अन्य आवश्यक सामग्री पहुंचा रहे हैं   
- सैनिटाइजर, मास्क, व अन्य सामग्रियों का भी कर रहे वितरण

प्रिंस कुमार 
मोतिहारी, 03 जून। कोरोना महामारी के दौरान हजारों लोगों के रोजगार छीन जाने के कारण कई बुजुर्ग, बीमार गरीबी में जीवन गुजार रहे हैं। कई लोग लाचार, बेसहारा हो सड़कों के किनारे दिखाई पड़ रहे हैं जिन्हें ठीक से 2 टाइम का भी भोजन उपलब्ध नहीं हो रहा है । ऐसे लोगों को जिला प्रशासन द्वारा सामुदायिक रसोई में भोजन उपलब्ध करायी जा रही है । फिर भी जिले में हजारों की संख्या में ऐसे लोग हैं जिन्हें सामुदायिक सरकारी किचन का लाभ नहीं मिल पाता है । ऐसे लोगों के भोजन की व्यवस्था समय समय पर जिले के समाजसेवी आगे बढ़ कर कर रहे हैं। ये लोग मानवता की सेवा के लिए लगातार काम कर रहे हैं। इस कोरोना काल में भी जान की बाजी लगाकर सेवा की भावनाओं से पूरे जोश में समाजसेवा कर रहे हैं चैम्बर ऑफ कॉमर्स के धीरज सर्राफ। इनके नेतृत्व में युवाओं की एक छोटी सी टीम है जो अपने स्तर से लोगों के बीच खुद से अपने घर खाना बनवाकर उसे पैक कर रात में मोतिहारी शहर के रिक्शा पड़ाव, स्टेशन चौक, छतौनी, गाँधी चौक, सहित कई गली मोहल्लों में पहुंचकर भोजन पैकटों को बाँटते हैं । साथ ही उन्हें कोरोना संक्रमण से बचने के उपायों के साथ ही लॉक डॉउन के गाइड लाइन के अनुपालन के लिए भी लगातार प्रेरित और जागरूक करते हैं। इसके अलावा अन्य टचिंग पॉइंट को अपने स्तर से सैनिटाइज करने के साथ ही लोगों व पुलिस प्रशासन के बीच मास्क, के साथ ही हैंड सैनिटाइजर की बोतल का वितरण भी कर रहे हैं। इसके साथ ही वो होम आइसोलेशन में रह कर अपना इलाज करवा रहे लोगों के बीच पहुंच कर उनके लिए दवा सहित अन्य आवश्यक मदद भी पहुंचा रहे हैं।

कोरोना और लॉक डॉउन के गाइड लाइन के अनुपालन के लिए लोगों को कर रहे हैं जागरूक : 
युवा समाजसेवी धीरज सर्राफ अपने युवा टीम के सहयोग से दुकानदारों व आम लोगों को कोरोना गाइड लाइन के तहत मास्क का नियमित इस्तेमाल, शारीरिक दूरी के तहत कम से कम दो गज या छह फीट की दूरी का अनुपालन और हाथों की नियमित साफ-सफाई के लिए साबुन या हैंड सैनिटाइजर के नियमित इस्तेमाल के लिए लगातार जागरूक कर रहे हैं। इसके साथ ही जिले में 5 मई से जारी लॉक डॉउन को देखते हुए लोगों से घर में रहकर ही अपना और अपने परिवार के सदस्यों के स्वास्थ्य का ध्यान रखने की सलाह दे रहे हैं। 
जिनका रोजगार कोरोना या लॉकडॉउन की वजह से छूट गया उनके बीच राशन सामग्री का वितरण-
युवा समाजसेवी धीरज सर्राफ ने बताया इस कोरोना काल में मैं और मेरी टीम यदि कुछ भी योगदान कर पाते हैं तो ये हमलोगों के लिए बहुत ही खुशी की बात होगी। हमलोगों की पूरी कोशिश है कि हमलोग इस कोरोना काल में लोगों की हरसंभव मदद कर सकें ताकि मानवता की सच्ची सेवा हो सके। उन्होंने बताया हमारी टीम वैसे लोग जिनका रोजगार कोरोना संक्रमण या लॉकडॉउन की वजह से छूट गया है उनके बीच जाकर खाने- पीने की दिक्कत न हो इसके लिए राशन सामग्री का भी वितरण करते हैं। इसके साथ वैसे गरीब असहाय लोग जिनके सामने खाना खाने की भी समस्या है उनके बीच जाकर घर के पके हुए भोजन के पैकेट का भी वितरण कर रहे हैं। इससे मुझे आत्मिक खुशी मिलती है । 

कोरोना काल मे इन बातों का ध्यान जरूर रखें -
- कृपया साफ सुथरे 3 लेयर मास्क का उपयोग करें ।
- यथा संभव घर में रहें, भीड़- भाड़ वाले स्थानों पर ना जाएं।
- दो व्यक्तियों को बीच दो गज की दूरी बना कर रखें ।
- नियमित अंतराल पर अपने हाथ साबुन से धोएं ।
- कोरोना के कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र अथवा जिला कोविड नियंत्रण कक्ष के टॉल फ्री नंबर 1800-3456-624 एवं 06252-242418 पर संपर्क करें।

live