सत्ता के लोभी लोग बिहार की जनता के जान के साथ कर रहे हैं खिलवाड़ - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

सत्ता के लोभी लोग बिहार की जनता के जान के साथ कर रहे हैं खिलवाड़

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :- बिस्कोमान के चेयरमैन व राजद विधानपार्षद सुनील कुमार सिंह ने कहा कि बिहार की मौजूदा सरकार सत्ता के मद में चूर है यह बिहार के लोगों के जान के साथ खिलवाड़ कर रही है पूरे देश में जहां अन्य राज्य के मुख्यमंत्री कोरोना के चैन को तोड़ने में लगे हुए हैं वहीं बिहार के मुख्यमंत्री दूसरे दलों को तोड़ने फोड़ने में लगे हुए हैं इसका ताजा उदाहरण लोजपा में हुई फूट है। बिहार में 15 वर्षों से ज्यादा समय से सत्तासीन नीतीश कुमार की अगुवाई वाली एनडीए सरकार बिहार के विकास के मुद्दे पर क्यों नहीं चर्चा करना चाहती है क्यों नहीं बताती है कि बिहार में कितने उद्योग धंधे लगे क्यों नहीं बताती है कि बिहार में स्वास्थ्य और शिक्षा का स्तर कितना ऊपर उठा है कितने लोगों को रोजगार मिला है कानून व्यवस्था की स्थिति सुधरी है बाढ़ जैसे ज्वलंत मुद्दों पर कितना विजय प्राप्त किया गया है लोगों को बरगलाने के लिए आप पिछली सरकारों का दुहाई देते हैं आपको तो जनता ने लगातार जनादेश दिया फिर आप बिहार के विकास से मुंह क्यों चुराते हैं। लालू राबड़ी राज की दुहाई देकर आप बिहार की जनता को कितना ठगने का काम करेंगे। वरिष्ठ पत्रकार अनूप नारायण सिंह के साथ विशेष बातचीत में राजद विधान पार्षद सुनील कुमार सिंह ने कहा कि इन लोगों को बिहार के विकास से कोई लेना-देना नहीं यह लोग सत्ता के लोभी लोग हैं बिहार की जनता ने आपको विपक्ष में बैठने का जनादेश दिया आपने जोड़ तोड़ गठजोड़ करके तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री से बनने से रोकने के लिए साजिश रची जनादेश का अपमान किया ।आप की नीति और नीयत सिर्फ और सिर्फ सत्ता कुर्सी के इर्द-गिर्द घूमती है। बिहार के मुख्यमंत्री पर प्रहार करते हुए उन्होंने कहा कि आप किसी प्रदेश के मुख्यमंत्री हैं आपकी नजरों में प्रदेश में विकास की गंगा बह रही है फिर आप अपना इलाज करवाने दिल्ली क्यों जाते हैं बिहार के हॉस्पिटलों पर आपको भरोसा क्यों नहीं है आप क्या संदेश देना चाहते हैं। विपक्ष की भूमिका के सवाल पर उन्होंने कहा कि बिहार में जानबूझकर विपक्ष को तहस-नहस करने की साजिश रची जा रही है विपक्षी दलों के कार्यकर्ताओं को नेताओं को प्रताड़ित किया जा रहा है विकास योजनाओं में विपक्ष की सहमति तक नहीं ली जा रही है। कानून व्यवस्था की स्थिति चरमरा चुकी है। बिहार की जनता खुद को ठगा हुआ महसूस कर रही है जनतंत्र में जनता मालिक होती है और जनता सब कुछ देख रही है कि अपदा विपदा में आप किस तरह घरों में छुपे हुए हैं जब आपको लोगों के आंसू पोछने चाहिए तब आप अखबारों में विज्ञापन देकर चेहरा चमका रहे हैं दूसरे दलों को तोड़ रहे हैं अपनी कुर्सी को मजबूत करने में लगे हुए हैं। सुनील कुमार सिंह यहीं नहीं रुके उन्होंने कहा कि जब बिहार की जनता का जन आक्रोश भड़कता है तब इनको विशेष राज्य के दर्जे की याद आती है सत्ता के लोभ के लिए संप्रदायिक शक्तियों के गोद में बैठने वाले बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बिहार के विकास से कोई लेना-देना नहीं है उन्हें सिर्फ और सिर्फ मुख्यमंत्री की गद्दी चाहिए। उन्होंने कहा कि नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव सीएम मटेरियल है बिहार की जनता ने इस बार ही उन्हें मुख्यमंत्री पद के लिए हरी झंडी दे दी थी पर सत्ता का पावर का दुरुपयोग करके जानबूझकर जनादेश का अपमान किया गया। बिहार में ना कोई नीति है ना नियम है ना बेरोजगारों के लिए कोई कार्ययोजना।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages