विश्व रक्तदाता दिवस: रेडक्रॉस मोतिहारी में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

विश्व रक्तदाता दिवस: रेडक्रॉस मोतिहारी में हुआ रक्तदान शिविर का आयोजन

Share This
- मारवाड़ी युवामंच के सहयोग से रक्तदान
- युवा व्यवसायियों ने जोश के साथ किया रक्तदान

प्रिंस कुमार 

मोतिहारी 14 जून।
सोमवार को रक्तदान समूह मोतिहारी एवं मारवाड़ी युवा मंच के संयुक्त तत्वावधान में रेडक्रॉस में रक्तदान शिविर का आयोजन किया गया। रक्तदान महादान को चरितार्थ करते हुए रक्त की कमी से किसी भी असहाय, जरूरतमंद की मृत्यु न हो , इसी के उद्देश्य से विश्व रक्तदाता दिवस के अवसर पर रेडक्रॉस मोतिहारी में मारवाड़ी युवा मंच के सहयोग से रक्तदान शिविर का आयोजन हुआ ।
रक्तदान शिविर में युवाओं, व्यवसायियों व आम लोगों में काफी उत्साह देखने को मिला। शिविर में 19 लोगो ने रक्तदान किया। मारवाड़ी युवामंच के अनिरूद्ध लोहिया ने बताया कि संगठन की तरफ से रक्त की कमी से जूझ रहे लोगों की मदद के लिए युवाओं, व समाजसेवियों के तरफ से शिविर लगाकर समय समय पर रक्तदान किया जाता है। रक्तदान द्वारा विभिन्न बीमारियों से ग्रसित मरीजों के प्राण बचाए जाते हैं । दुनिया मे रक्तदान से बड़ा कोई दान नहीं 
है।

- स्वास्थ्य के लिए लाभदायक है रक्तदान:

अच्छे स्वास्थ्य के लिए रक्तदान आवश्यक है । रक्तदान करने से शरीर में साफ स्वच्छ रक्त का निर्माण होता है। रक्तदान करने से दिल, ब्लडप्रेशर, सहित कई बीमारियों का नुकसान कम होता है । रेडक्रॉस सोसायटी के मुख्य सदस्य विनोद सिंह ने कहा कि रक्तदान द्वारा रक्तदाता भी स्वस्थ रहते हैं साथ ही उनके द्वारा दिए गए रक्त से जिले एवं जिले के बाहर के लोगों को भी लाभ मिलता है । मोतिहारी रेडक्रॉस में 2 अक्टूबर 1991 को ब्लड बैंक की स्थापना हुई थीं । लगभग 20 वर्षों से इस केंद्र पर डीएम, एसपी, अन्य पदाधिकारियों व समाजसेवियों द्वारा समय समय पर रक्तदान किया जाता है। यहाँ लगभग हर ग्रुप के रक्त उपलब्ध हैं।

- रेडक्रॉस सोसायटी में मुफ्त मिलता है ब्लड: 

 रक्त कमी के गम्भीर मरीजों को मुफ़्त में खून उपलब्ध करायी जाती है। वहीं रक्तदान करने वाले व्यक्ति को रक्तदाता सर्टिफिकेट भी दिया जाता है। रक्तदान आवश्यक है, हर व्यक्ति को जीवन में रक्तदान अवश्य ही करना चाहिए। रेडक्रॉस के प्रधान सहायक उपेन्द्र बैठा ने बताया कि ज्यादातर थैलेसीमिया के मरीज यहां रक्त की प्राप्ति करते हैं| , यहां से बेतिया, मुज़फ्फरपुर, पटना, सहित कई जगहों के लोग ब्लड लेते हैं। 
ब्लड डोनेशन की प्रक्रिया काफी सरल होती है और रक्त दाता को आमतौर पर इसमें कोई तकलीफ नहीं होती है ।

- 18 से 60 वर्ष की आयु के स्वस्थ व्यक्ति कर सकते हैं रक्तदान:

 18 से 60 वर्ष की आयु के स्वस्थ व्यक्ति रक्तदान कर सकता 
रक्तदान के पूर्व रक्त दाता का वजन, पल्स रेट, ब्लड प्रेशर, बॉडी टेम्परेचर आदि चीजों के सामान्य पाए जाने पर ही डॉक्टर्स या ब्लड डोनेशन टीम द्वारा ब्लड लिया जाता है। पुरुष 3 महीने और महिलाएं 4 महीने के अंतराल में नियमित रक्तदान कर सकती हैं। यदि आप स्वस्थ हैं, आपको किसी प्रकार का बुखार या बीमारी नहीं हैं, तो ही आप रक्तदान कर सकते हैं। शिविर में रक्तदान करने वाले सदस्यों में राहुल अग्रवाल ,विपुल जालान ,सुरेश कुमार ,रजत कुमार,संदीप लोहिया ,संजीव रंजन,शिव कुमार गुप्ता, राहुल राज, सुनीता देवी ,विकाश अग्रहरी, विशाल अग्रहरी, रजत अग्रवाल का अमूल्य योगदान रहा। आज के शिविर में आयुष्मान भारत संस्था के डॉ संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष डॉ आर के गुप्ता, मनीष कुमार, संयोजक रक्तदान समूह मोतिहारी निवर्तमान अध्यक्ष मारवाड़ी युवा मंच के अनिरुद्ध लोहिया मौजूद थे ।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages