समस्तीपुर के शिक्षक राजेश मिश्रा हूए कोरोना के शिकार, जिले के शिक्षकों में शोक की लहर - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

समस्तीपुर के शिक्षक राजेश मिश्रा हूए कोरोना के शिकार, जिले के शिक्षकों में शोक की लहर

Share This
संवाद 

कोरोना लगातार अपना शिकार लोगों को बना रहा है ,जिले में कोरोना अब तक दर्जनों शिक्षकों को अपना शिकार बना चुका है।आज देर रात जिले के समस्तीपुर प्रखंड के प्राथमिक विद्यालय फकीर चंद शर्मा बाजितपुर में कार्यरत शिक्षक राजेश मिश्रा उम्र लगभग 30 वर्ष का निधन कोरोना से हो गया।उनका दाह संस्कार मोक्षधाम समस्तीपुर में किया गया।वे अपने माता-पिता के एकमात्र सहारा थे।विगत कई दिनों से डीएमसीएच दरभंगा में इलाजरत थे।उनके असामयिक निधन से जिले के शिक्षकों में शोक की लहर व्याप्त है।वे टीईटी-एसटीइटी उत्तीर्ण नियोजित शिक्षक संघ (गोप गुट) ,समस्तीपुर के फाउंडर सदस्यों में से एक थे।उनके निधन पर शोक प्रकट करते हुए संगठन के जिलाध्यक्ष अशोक कुमार साहू ने बताया कि वह एक अच्छे प्रतिभाशाली युवा शिक्षक थे।श्री साहू ने खेद प्रकट करते हुए कहा कि आज सुबे के अंदर कोविड-19 महामारी के दौरान टीकाकरण सहित अधिकांश कार्यों में शिक्षकों को लगाया गया है जहां उन्हें संसाधनों के अभाव में कार्य करना पड़ रहा है।|ऐसे में सरकार द्वारा शिक्षकों को कोरोना वारियर्स अब तक घोषित नहीं किया जाना दुर्भाग्यपूर्ण है। संघ मांग करती है कि जल्द ही सरकार शिक्षकों को कोरोना वारियर्स घोषित करते हुए उचित मुआवजा दे।शोक प्रकट करने वालों में प्रखंड शिक्षा पदाधिकारी मनोज कुमार मिश्र,पवन कुमार शर्मा,जयप्रकाश भगत ,रंजीत कुमार रमन,विकास कुमार,धर्मवीर कुमार,विरदे लाल यादव,सुबोधकांत यादव,रचना रतन,विशाल कुमार,मोहम्मद इमरान,अविनाश कुमार,सुजीत कुमार ठाकुर,रामचंद्र राय,कुमार गौरव,संजीत भारती,अनंत कुमार राय,अनिल राय,प्रशांत कुमार, मो.शगीर,बीआरपी अंजनी तिवारी,चन्दन कुमार श्रीवास्तव,बिनोद कुमार बिमल,रणधीर कुमार,समता कुमारी, कुमारी अनुपम,वन्दना कुमारी,सरोज कुमार,मनीष कुमार,मिथलेश कुमार,ज्योतिष्णा भारती आदि प्रमुख हैं।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages