बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे भिखारी ठाकुर : आलोक धन्वा - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

बहुआयामी प्रतिभा के धनी थे भिखारी ठाकुर : आलोक धन्वा

Share This
पुण्यतिथि पर याद किए गए भिखारी ठाकुर 

अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :- सांस्कृतिक संस्था नवगीतिका लोक रसधार द्वारा पटना के राजीव नगर में भोजपुरी के प्रसिद्ध कवि, नाटककार और रंगकर्मी भिखारी ठाकुर की 50वीं पुण्यतिथि के अवसर पर विशेष कार्यक्रम आयोजित किया गया जिसमें वरिष्ठ कवि आलोक धन्वा, केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल के सीनियर कमांडेंट मुन्ना कुमार सिंह,प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत, संस्कृति कर्मी अविनाश झा सहित अनेक लोगों ने श्रद्धा सुमन अर्पित करके लोक कवि भिखारी ठाकुर को याद किया । कार्यक्रम के दौरान आलोक धन्वा ने कहा कि भिखारी ठाकुर ने अपने गीतों और नाटकों के माध्यम से लोक जागरण का काम किया । बहुआयामी प्रतिभा के धनी भिखारी ठाकुर ने नाटकों के माध्यम से समतावादी समाज की स्थापना के लिए पहल की थी । नई पीढ़ी को भिखारी ठाकुर के बारे में बताना आवश्यक है । भिखारी ठाकुर द्वारा लिखे नाटकों को बार-बार मंचित किया जाना चाहिए । बिदेसिया और गबरघिचोर जैसे नाटक समाज को आईना दिखाते हैं । कम पढ़े लिखे होने के बावजूद उन्होंने दमित और उपेक्षित लोगों की आवाज बनने का काम किया । मौके पर नीतू कुमारी नवगीत ने भिखारी ठाकुर द्वारा लिखित अनेक गीतों की प्रस्तुति की । नीतू कुमारी नवगीत ने कहा कि कोरोना प्रोटोकॉल का पालन करते हुए सीमित लोगों की उपस्थिति में श्रद्धांजलि कार्यक्रम का आयोजन किया गया । उन्होंने चलनी के चालल दूल्हा सूप के फटकारल हो, प्यारी सुंदरी का विलाप गीत पिया के मतिया हेराइल हो राम, पिया गइले कोलकातवा ए सजनी सहित अनेक गीत गाकर उपस्थित श्रोताओं को झुमाया । कार्यक्रम में भोला कुमार ने नाल पर, मनोज कुमार ने हारमोनियम सोनल में पैड पर और कुमार संभव ने खंजरी पर साथ दिया । प्रियंका गिरी और आरती ने भिखारी ठाकुर के गीतों पर भाव नृत्य पेश किया । कार्यक्रम के दौरान रंगकर्मी अविनाश कुमार झा, प्रियंका गिरी, आरती मेधा प्रीत, विकास कुमार आदि उपस्थित रहे । कार्यक्रम का सोशल मीडिया पर सीधा प्रसारण भी किया गया ।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages