जानिए क्यों बाढ़ के पानी के बीच चिंतन मुद्रा में है भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

जानिए क्यों बाढ़ के पानी के बीच चिंतन मुद्रा में है भाजपा के प्रदेश उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :- सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रही यह तस्वीर है बैकुंठपुर गोपालगंज से भाजपा के पूर्व विधायक और वर्तमान में बिहार प्रदेश भाजपा के उपाध्यक्ष मिथिलेश तिवारी की जो अपने क्षेत्र बैकुंठपुर के बाढ़ प्रभावित इलाके में बैठे गहन चिंतन मनन में लगे हुए उन्होंने इस तस्वीर अपने सोशल मीडिया पर शेयर की है और साथ में एक विचारोत्तेजक कविता की चार पंक्तियां लिखी है इस कविता के लाइनों में बहुत कुछ छुपा हुआ है मिथिलेश कुमार तिवारी विधायक का चुनाव हारने के बाद से ही बैकुंठपुर में कुछ ज्यादा ही सक्रिय है इन्हीं के सोच के परिणाम स्वरूप नारायणी रिवर फ्रंट का निर्माण डुमरिया घाट जो बैकुंठपुर विधानसभा क्षेत्र में आता है मे किया गया है हाल ही में दिल्ली में कई मंत्रालयों में जाकर इन्होंने बैकुंठपुर गोपालगंज समेत पूरे सारण प्रमंडल के विकास के लिए कई योजनाओं की गुहार लगाई है पटना में होते हैं तो क्षेत्र के समस्याओं को लेकर सीधे विभागीय मंत्रियों तक पहुंच जाते हैं मिथिलेश कुमार तिवारी ने इस संदर्भ में बताया कि फर्क नहीं पड़ता कि आप चुनाव जीते हैं या हारे हैं फर्क पड़ता है कि जनता जब संकट में होती है तब आप कहां होते हैं जनता को आप से ढेर सारी आशा होती है जनता को लगता है कि नेता उनका नेतृत्व करेगा और संकट की इस घड़ी में सदैव बैकुंठपुर के लोगों के बीच है बाढ़ की समस्या ने उन्हें भी आहत किया है। उन्होंने बताया कि बाढ़ की समस्या के स्थाई निराकरण के लिए विधायक रहते ही उन्होंने कई सारी कारी योजनाओं को बनाकर राज्य और केंद्र सरकार को सौंपा है जिस पर काम भी हो रहा है सारण तटबंध के पक्कीकरन नदी के गाद की सफाई और जल निकासी की व्यवस्था इसमें प्रमुख है

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages