अपराध के खबरें

विभिन्न कार्यक्रम के माध्यम से स्वाधीनता दिवस पालन किया चलो कुछ न्यारा करते हैं फाउंडेशन ने

संवाद 
स्वाधीनता दिवस के अवसर पर चलो कुछ न्यारा करते हैं फाउंडेशन चार दिवस का कुइज प्रतियोगिता का आयोजन किया था जिस पे पहले स्तान लाभ किया है सूरज शर्मा ने, दुसरा स्थान रहित कोसरम एवं तीसरा स्तान काजल ने। एक बयान में फाउंडेशन के राष्ट्रीय स्तरीय समिति के सचिव जुतिरमय बरगोहाइ जी ने बताया कि इस प्रतियोगिता में देश के अनेक जिले से लोगों ने भाग लिया था ओर उन्होने कूइज प्रतियोगिता को अच्छे से करने के लिए कूइज प्रतियोगिता इनचार्ज मनीष जी एवं कोशल जी का तारिफ किया ।  

स्वाधीनता दिवस के दिन, फाउंडेशन के संचालक मंडल के सभापति राघव चंद्र नाथ जी एवं फाउंडेशन सदस्यों ने रक्तदान किया था, रक्तदान को लेकर संचालक मंडल के सभापति राघव चंद्र नाथ जी ने कहा - "कितने वीर- वीरांगनाओं ने आजादी के लिए खून बहाया। मेरा यह खून ऊन सहिदों के नाम से किसी कि जान बचाने के लिए" । 

स्वाधीनता दिवस के दिन फाउंडेशन के कुछ जिलों समिति के सदस्यों ने पेड़ लगाया, ओर तो फाउंडेशन द्वारा चलाया जा रहा प्रोग्राम ही एक है सनडे को वृक्ष रोपण "हर सनडे एक पेड़ जरूर लगाना हैं" स्लगान के साथ । इसके चलते फाउंडेशन के कुछ जिलों स्तरीय समिति के सदस्यों ने पेड़ लगाके स्वाधीनता दिवस पालन किया। 


१५ अगस्त के शाम ६:३० से शुरू होया सेमिनार "समाज / देश में युवाओं के दायित्व" को लेकर । सेमिनार के अध्यक्षता किये थे फाउंडेशन के संचालक मंडल के सभापति राघव चंद्र नाथ जी ने, प्रधान अतिथि डक्टर नूरुल इसलाम सर थे । उस दिन प्रधान अतिथि डक्टर नूरुल सर ने युवाओं के दायित्व को लेकर शु-दीर्घ चर्चा किये थे, सर ने कहा युवाओं हि देश को सबसे ज्यादा ताकतवर बनाता है, समाज को शु-समाज बाना सकता है, युवाओं के पास हर असुविधा का समाधान हे, ओर भी बहुत कुछ कहा। सर के वाक्यं को शुनके सेमिनार में उपस्थित युवाओं ने बताया सर के वाक्यं ने उन्हें देश के प्रति ओर भी बहुत कुछ करने का मनोबल बड़ाया। सेमिनार में उपस्थित शिक्षक विलालोर रहमान सर ने बताया कि डक्टर नूरुल सर के हर एक बात बहुत ही महत्वपूर्ण है वर्तमान परिस्थिति ओर वर्तमान युवा के लिए। नूरुल सर ने युवा को नशा से दूर रहना चाहिए, स्वच्छता कार्य करना चाहिए बताया था , इस पर सेमिनार के अध्यक्ष राघब चंद्र नाथ जि ने बताया युवाओं को नशे से दूर रहना चाहिए और कहा अगर युवाओं नशे करेगा तो नशे से अपने आपको नाश कर देगा तो परिवार, समाज, देश का किया होगा, सब कुछ विनाश हो जाएगा अगर युवा नशे से नाश हो जाए तो, इसलिए उन्होने कहा युवाओं को नशे जातीय चीज से दूर रहना चाहिए। स्वच्छता को लेकर राघब जि ने बताया "भारत, धरती तो हमारा मा है ना, हम मा मानते हैं ना" तो हम कैसे अपने मा पे कचरा पैक सकते हैं, उन्होने कहा कचरे को एक जगह रक के कचरे का विनाश करना चाहिए अच्छे तरीके से। ओर भी बताया कि "हां, हम युवा है हम में सभी असुविधा का समाधान हे"। राघब जि के बातों को शुनके सेमिनार में उपस्थित युवाओं ने बताया बो नशे से दूर रहेन्गे तथा ओर भी लोगों को नशे से दूर करवाने कि कोशिश करेन्गे। अन्त में फाउंडेशन के राष्ट्रीय स्तरीय समिति के अध्यक्ष जाहिद जी ने उपस्थित सभी को धन्यवाद ज्ञापन किया एवं सेमिनार के संचालिका गोरी गोगइ जी ने सेमिनार के अध्यक्ष महोदय के अनुमति से सेमिनार समापन किया।

live