अपराध के खबरें

सारण प्रमंडल में उद्योग की संभावना को लेकर बिहार के उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन से मिलने भाजपा बिहार प्रदेश कार्य समिति के सदस्य मनोज कुमार सिंह

अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज पटना/छपरा।सारण लोकसभा क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले मढ़ौरा विधानसभा क्षेत्र के भावलपुर निवासी वरिष्ठ भाजपा नेता तथा बिहार प्रदेश भाजपा कार्यसमिति सदस्य मनोज कुमार सिंह ने आज बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन से मुलाकात कर सारण में उद्योग की संभावनाओं पर विस्तार से चर्चा की इन संभावनाओं में मढ़ौरा चीनी मिल को पुनर्जीवित करने की मांग तथा इथनाल प्लांट की भी संभावना पर लंबी बातचीत हुई उद्योग मंत्री से मुलाकात के बाद मनोज कुमार सिंह ने बताया कि सारण प्रमंडल में खाद्य प्रसंस्करण से जुड़े उद्योगों के लिए ढेर सारी संभावनाएं इलाके में गन्ना मक्का की खेती होती है बिजली पानी और सस्ता श्रम उपलब्ध है ऐसे में खाद्य प्रसंस्करण उद्योग में ढेर सारी संभावनाएं हैं जिसके लिए वे दिन रात लगे हुए जिले में जो मृतप्राय उद्योग है उन्हें कैसे पुनर्जीवित किया जाए बड़े उद्योगपतियों को कैसे जिले में आमंत्रित करके बंद हो चुकी मिलों को चालू करवाया जाए इस विषय पर भी विस्तार से उद्योग मंत्री से चर्चा हुई।उद्योग मंत्री से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मनोज कुमार सिंह ने कहा कि मढ़ौरा आजादी के बाद से ही बिहार की एक औद्योगिक नगरी रही है जहां के सभी उद्योग धंधे बंद हो चुके हैं लेकिन बदले माहौल में फिर से मढ़ौरि को उसका अतीत वापस दिलाना है इसके लिए कभी अपनों से प्रयास हो रहा है बे खुद मथुरा में लघु कुटीर उद्योग लगाने को उत्सुक है।उद्योग मंत्री से मुलाकात के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मनोज कुमार सिंह ने कहा कि मढ़ौरा आजादी के पहले से ही बिहार की एक औद्योगिक नगरी रही है जहां के सभी उद्योग धंधे बंद हो चुके हैं लेकिन बदले माहौल में फिर से मढ़ौरा को उसका अतीत वापस दिलाना है इसके लिए कभी अपनों से प्रयास हो रहा है वे खुद मढ़ौरा में लघु कुटीर उद्योग लगाने को उत्सुक है।मनोज कुमार सिंह ने बताया कि मुलाकात के दौरान उद्योग मंत्री शाहनवाज हुसैन ने कहा कि बिहार में लघु मध्यम और कुटीर उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए भी सरकार कृत संकल्पित है युवा उद्यमी योजना समेत कई सारी योजनाएं लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के लिए चलाया जा रहा है। सारण पर उनका विशेष ध्यान है वहां कैसे उद्योगों की संभावना तलाशी जाए इस पर कई स्तरों से प्रयास भी चल रहा है। 

live