अपराध के खबरें

स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लेकर सुधारे पटना की रैंकिंग: नीतू नवगीत

स्वच्छता सर्वेक्षण में भागीदारी से बेहतर होगी पटना शहर की रैंकिंग: नीतू नवगीत

अनूप नारायण सिंह 

पटना नगर निगम की ब्रांड एंबेसडर डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने सिंहा लाइब्रेरी रोड और जगदेव पथ में स्वच्छता जागरूकता के लिए अभियान चलाया और शहरवासियों से अपील की कि पटना शहर की स्वच्छता रैंकिंग में सुधार के लिए स्वच्छता सर्वेक्षण 2022 में जरूर भाग लें। सिन्हा लाइब्रेरी रोड में बिहार इंडस्ट्रीज एसोसिएशन के पास आयोजित कार्यक्रम में डॉ नीतू कुमारी नवगीत के साथ वरिष्ठ साहित्यकार भावना शेखर, महिला उद्यमी उषा झा, युवा प्रेरणा कल्पना कुमारी, रानी सुमिता, शिक्षाविद वीणा अमृत, सुरभि आदि ने भी स्वच्छता जागरूकता अभियान में भाग लिया। स्वच्छता जागरूकता कार्यक्रम में भाग लेते हुए पटना नगर निगम की ब्रांड एंबेसडर और प्रसिद्ध लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने कहा कि स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लेकर हम लोग पटना की रैंकिंग में सुधार ला सकते हैं। देशभर में विभिन्न शहरों की रैंकिंग में इस बार नागरिकों की भागीदारी पर विशेष जोर दिया गया है। उन्होंने विशेषकर वरिष्ठ नागरिकों से अपील की स्वच्छता जागरूकता अभियान में और स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लें। इस वर्ष वरिष्ठ नागरिकों की राय को अधिक महत्व दिया गया है। नीतू नवगीत ने कहा कि स्वच्छता किसी एक व्यक्ति की जिम्मेदारी नहीं है बल्कि सब की सामूहिक जिम्मेदारी है। राष्ट्रपिता महात्मा गांधी ने भी स्वच्छता पर बल दिया था। स्वच्छता जागरूकता अभियान की ब्रांड एंबेसडर लोक गायिका डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने केंद्र सरकार द्वारा कराए जा रहे स्वच्छता सर्वेक्षण में लोगों की भागीदारी पर बल देते हुए कहा कि जितने अधिक लोग स्वच्छता सर्वेक्षण में भाग लेंगे, पटना की रैंकिंग उतनी ही बेहतर होगी। स्वच्छता अभियान की सफलता के लिए नागरिकों का सहयोग जरूरी है। स्वच्छ भारत, स्वच्छ शहर और स्वच्छ नदी का सपना किसी एक व्यक्ति का सपना नहीं है। यह हम सबका सामूहिक सपना है। हम सब की चाहत है कि चारों ओर स्वच्छता और हरियाली हो । वर्ष 2022 में जो स्वच्छता सर्वेक्षण किया जा रहा है उसे आजादी@75 का नाम दिया गया है। इस सर्वे में जहां पहले 6000 अंक निर्धारित हैं वहीं इस वर्ष केंद्रीय शहरी विकास मंत्रालय ने उसे बढ़ाकर 7500 अंक कर दिया है। सिटीजन फीडबैक पर 2250 अंक निर्धारित हैं। इस तरह देखा जाए तो कुल अंकों का 30% सिटीजन फीडबैक पर ही मिलेगा। स्वच्छता सर्वेक्षण में भागीदारी 6 माध्यमों से की जा सकती है। इसमें फेस टू फेस, वोट फॉर योर सिटी पोर्टल, 1969 हेल्पलाइन नंबर, क्यूआर तकनीक, स्वच्छ सर्वेक्षण 2022 पोर्टल और स्वच्छता एप शामिल हैं। सिटीजन फीडबैक के तहत 11 सवालों का समूह तैयार किया गया है, जिसमें से चार सवाल रैंडमली पूछे जाएंगे। इन सवालों का जवाब लोगों को हां या ना में देना होगा। यह परीक्षा 600 अंकों की होगी। इसके लिए नगर निगम द्वारा भी जनता को लगातार जागरूक किया जा रहा है।डॉ नीतू कुमारी नवगीत ने कई लोकगीत गाकर भी लोगों को स्वच्छता के प्रति जागरूक किया। उन्होंने स्वच्छता का अलख जगायेंगे, स्वच्छ भारत बनेगा, सबसे बड़ा है गहना साफ रहना, उसका दवा है सफाई बापू का कहना, हर गली मोहल्ला के चमका द, पटना के नंबर वन बना द जैसे गीत गाकर लोगों को साफ सफाई का महत्व बताया और स्वच्छता सर्वेक्षण में भागीदारी की अपील की।

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

live