प्रवासियों के अधिक आगमन को देखकर ग्रमीणों की बढ़ीं चिंता - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

प्रवासियों के अधिक आगमन को देखकर ग्रमीणों की बढ़ीं चिंता

Share This
28 मई 2020

विमल किशोर सिंह
(मिथिला हिन्दी न्यूज कार्यालय)
सीतामढ़ी/कोरोना महामारी से बचाव को लेकर जारी लॉक डाउन में देश के विभिन्न राज्यों से प्रवासी श्रमिकों का घर लौटने का सिलसिला जारी है. इस क्रम में कोई सरकार द्वारा चलाए जा रहे स्पेशल ट्रेन तो कोई निजी वाहन तो कोई पैदल चलकर घर पहूँच रहे हैं.प्रवासी मजदूरों का कहना है कि करीब ढाई महीने तक स्थिति सामान्य नही होने तथा खाने पीने में दिक्कत होने लगने पर घर का रुख कर लिया. इधर प्रशासन की ओर से सिर्फ स्पेशल ट्रेन से आनेवाले लोगों को ही क्वारेंटाइन किया जा रहा है, इन आनेवाले प्रवासियों में सैकड़े ऐसे लोग हैं जो देश के हॉट स्पॉट वाले शहरों से आए हैं व खुलेआम गांव में घूम रहे हैं.ऐसे में ग्रामीणों की चिंता बढ़ती जा रही है. रीगा प्रखंड के मेहशियां पंचायत के सरपंच राजेश कुमार मिश्र उर्फ सोनू जी एवं पूर्व मुखिया दिनेश कुमार सिंह ने बताया कि विगत एक माह में उनके पंचायत में करीब 700 से 800 प्रवासी पहूंचे हैं,जिन्हें जिला प्रशासन की ओर से होम क्वारेंटिन रहने का निर्देश दिया गया है.इन लोगों में कुछ ऐसे भी हैं जिन्हें रहने को घर तक नहीं है वह खुलेआम गांव में घूम रहे हैं. इन लोगों के भय से अब तो ग्रामीण बाजार जाने से भी डरने लगे हैं.प्रशासन से शिकायत करने पर वो लोग सुनने को तैयार नही है. कहते हैं कि सरकार के दिशा निर्देश के आलोक में वे लोग अपना काम कर रहे हैं. ऐसे में ग्रमीणों के समक्ष यह एक बड़ी समस्या बनती जा रही है. सरपंच राजेश कुमार मिश्र ने बताया कि पंचायत के बाहर से आनेवाले लोगों की उनके आग्रह पर डॉ.धर्मेंद्र कुमार द्वारा थर्मल स्क्रीनिंग किया जाता है. इस बाबत रीगा थानाध्यक्ष सुभाष मुखिया ने बताया कि वे लोग सरकारी निर्देश के अनुसार कर रहें हैं,प्रत्येक व्यक्ति को सावधानी से रहने की जरूरत है.उन्होंने कहा कि लॉक डाउन का उल्लंघन करने वाले लोगों के विरुद्ध कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages