बड़ी घोषणा: 63 दिनों में भारत का पहला कोरोना वैक्सीन 'कोविल्ड' आ रहा है - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

बड़ी घोषणा: 63 दिनों में भारत का पहला कोरोना वैक्सीन 'कोविल्ड' आ रहा है

Share This
संवाद 

मिथिला हिन्दी न्यूज :-भारत के पहले कोरोना वैक्सीन के बारे में अच्छी खबर है।और आपको केवल 63 दिनों का इंतजार करना होगा। देश का पहला कोविद मारक कोविदिल 63 दिनों में बाजार में आ रहा है। जनकारी के मुताबिक यह है कि राष्ट्रीय टीकाकरण कार्यक्रम के तहत, भारत सरकार हर भारतीय को नि: शुल्क कोरोनावायरस वैक्सीन प्रदान करेगी।पुणे में एक बायोटेक कंपनी सेरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, कोविशिल्ड वैक्सीन विकसित कर रही है।
अखिल भारतीय अखबार की रिपोर्ट के अनुसार, सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया के अधिकारियों का कहना है कि भारत सरकार ने सीरम इंस्टीट्यूट को विशेष लाइसेंस दिए हैं।और इस लाइसेंस को जारी करने के साथ, ट्रायल प्रोटोकॉल की पूरी प्रक्रिया को बहुत तेजी से आगे बढ़ाया जा सकता है।भारत में कोरोनरों की कुल संख्या अब 3 मिलियन से अधिक है।इस बीच, कोविशिल्ड के तीसरे चरण की पहली खुराक 22 अगस्त को दी गई थी। कहा जा रहा है, पहली खुराक के 29 दिन बाद दूसरी खुराक दी जा सकती है।सभी तरह के परीक्षणों को पूरा करने के बाद कोविशिल को बाजार में लाया जाएगा। और भारतीयों को इस कोविशिल ढाल पर भरोसा है। इसमें संदेह नहीं है कि देश का मारक, रूसी निर्मित स्पुतनिक-वी की तरह है। यह ध्यान दिया जाना चाहिए कि कोविशिल्ड के इन 16 केंद्रों में कुल 1800 सहयोग परीक्षण संपन्न हुए हैं। Serum Institute ने AstraZeneca नामक कंपनी से वैक्सीन खरीदी।
सीरम भारत और 92 अन्य देशों में कोरोना वैक्सीन कोविशिल्ड को बेच सकेगा।जून 2022 तक, भारत सरकार सीरम संस्थान से 60 मिलियन कोरोना वैक्सीन खरीदेगी। सरकार की पूरे देश में एक ही राष्ट्रीय टीकाकरण मिशन चलाने की योजना है।सीरम इंस्टीट्यूट का लक्ष्य हर महीने 60 मिलियन टीके बनाने का है, अगर सब ठीक हो जाए। जिसे अप्रैल 2021 तक बढ़ाकर 10 करोड़ कर दिया जाएगा।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages