बिहार के सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी आरएसवीपी : एमके राजपूत - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

बिहार के सभी सीटों पर चुनाव लड़ेगी आरएसवीपी : एमके राजपूत

Share This
आजादी के बाद सभी सत्तासीन पार्टियां जाती-धर्म में बांट कर जनमानस को धोखा दी है

अनूप नारायण सिंह 


मिथिला हिन्दी न्यूज पटना : आजादी के बाद सभी सत्तासीन पार्टियां जाती-धर्म में बांटने के बाद जनमानस के साथ छल कर अपना उल्लू सीधा की है। ऐतिहासिक काल से समृद्ध बिहार में आज कल कारखानों की  भारी किल्लत है। कुल मिलाकर सम्पूर्ण बिहार की हालात और अर्थव्यवस्था आईसीयू में अंतिम सांसे गिन रहा है। उक्त बातें राष्ट्रीय सर्वजन विकास पार्टी के बैनर तले अदिति कम्युनिटी हॉल में आयोजित प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष महेंद्र कुमार राजपूत के कही। वहीं उन्होंने बताया कि वर्षों से मृतप्राय हो चुकी विकास की गति को पुनर्जीवित करने के लिए पार्टी का गठन बिहार में हुआ है। पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र कुमार बेरवार के नेतृत्व में आरएसवीपी बिहार के सभी 243 सीटों पर पूर्ण मजबूती के साथ चुनाव लड़ेगी। समयानुसार हम बिहार में किसानों की हालातए शिक्षा व स्वास्थ्य में सुधार के साथए बेरोजगारीए गरीबी व पलायन का स्थाई समाधान करेंगे। शोध और विकास का सामंजस्य कर तेज गति से बिहार की खोई हुई समृद्धियों को पुनर्स्थापित करने के लिए हम वचनबद्ध हैं।

आरएसवीपी के प्रदेश अध्यक्ष रविंद्र कुमार बेरवार ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि सत्तासीन पार्टियों ने बिहार को आर्थिक और सामाजिक रूप से जीरो कर दिया है। अब समय आ गया है कि इसे गर्त में से बाहर निकल कर पिछड़ा बिहार से विकसित बिहार की श्रेणी में लाया जाए। और बिहार की पहचान पूर्व की भांति पुनः विश्व के मानस पटल पर अग्रणी हो। यदि समर्थन मिला तो हमलोग बाढ़ का स्थाई समाधान करने के साथ कृषि पर आधारित उद्दोग लगाने के साथ न्यूनतम सहायता दर पर किसानों के पैदावार फसलों की खरीद बिचौलिया रहित कर पंचायत स्तर पर किया जाएगा ताकि उनके हालत में सुधार हो सके और उनकी सर्वांगणिक विकास हो। खिचड़ी ;एमडीएमद्ध के इर्द गिर्द घूमती शिक्षा व्यवस्था में सुधारके साथ बेरोजगारी और पलायन पर ब्रेक लगाना हमारी प्राथमिकता होगी। वहीं श्री बेरवार ने कहा कि जर्जर हो चुकी स्वास्थ्य व्यवस्था को भ्र्ष्टाचार मुक्त कर आम लोगों को स्वास्थ्यलाभ लेने में किसी कठिनाइयों का सामना नहीं करना पड़े।

जगतगुरु विश्वकर्मा शंकराचार्य ने कहा कि धर्म नीति व राजनीति तथा अनुसंधान का समन्वय हीं एक विकसित राष्ट्र का निर्माण हो सकता है। इसके लिए समाज के सभी जातिए समुदायए धर्म और मजहब के लोगों को किसी एक जन नहीं बल्कि सर्वजन की बात करनी होगीए तभी सही मायने में विकास संभव हो पायेगा। मौके पर पार्टी के प्रदेश महासचिव अनिल शर्माए अविनाश कुमारए कुंदन मिश्राए प्रदेश युवा अध्यक्ष ओमप्रकाश सिंहए महिला प्रकोष्ठ की महासचिव रानी कुमारी उपश्थित थे। 

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages