विभिन्न दल के नेताओं ने की थानेदार के तबादले की मांग - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

क्रिकेट का लाइव स्कोर

विभिन्न दल के नेताओं ने की थानेदार के तबादले की मांग

Share This
 विमल किशोर सिंह

मिथिला हिन्दी न्यूज कार्यालय. : सीतामढ़ी/रीगा थानेदार सुभाष मुखिया द्वारा 5सितम्बर कीरात्रि पिपरा गांव मे करीब1बजे घरों के गेट तोडकर घरों मे घुसकर दलित, पिछड़े,कमजोर  तबके के निर्दोष गरीब महिलाओं, बच्चियों,बच्चों को वेरहमी से पीटने तथा गिरफ्तार करने की घटना की  विभिन्न गावों के विभिन्न दलो, सामाजिक संगठनों तथा किसान संगठन के लोगों ने कडी निन्दा की है तथा आरक्षी अधीक्षक को आवेदन भेजकर मामले की जांच  कराने, दमनात्मक कार्रवाई पर रोक लगाने, थाना प्रभारी के शीघ्र निलंबन करने की मांग की है।कहा गया है विगत सौ वर्षो से होने वाले  पिपरा सीमा पर ध्वज पूजन के मामूली विवाद को सुलझाने के वजाय थाना प्रभारी ने न जाने किस कारण इसे भारी बना दिया तथा लगातार गावों में मारपीट कर  सवक सीखाने की धमकी दे रहे है। थानों मे लंवित मामलो के उदभेदन तथा सुलझाने में भी ये असफल रहे है तथा आमजन के बीच अपना विश्वास खो चुके है।कहा गया है कि थानेदार द्वारा न्यायालय तथा विभागीय निदेशों की धज्जी उडाते हुए रात्रि मे वगैर वर्दी तथा वगैर महिला पुलिस के महिलाओं के घरो मे घुसकर उसे अपमानित किया है तथा ऐसे जगहों पर डंडे चलाये है जो पूरे समाज के लिए शर्म तथा कलंक की बात है तथा सरकार के सुशासन तथा महिला सशक्तिकरण को अपमानित करता है।आवेदन पर सर्वोदय मंडल के डा आनन्द किशोर, संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा जिलाध्यछ जलंधर  यदुबंशी,  रीगा  अध्यक्ष पारसनाथ सिह , जेडीयू नेता रामाशंकर राय, भाजपा के कौशल किशोर सिंह, रामाशंकर , जिला पार्षद सुशील पासवान, पप्पू  पासवान, नवयुवक संगठन के धीरज कुमार, संजीव कुमार, मोर्चा के जिला सचिव बीरेन्द्र यादव, भाकपा के अतुल बिहारी मिश्र, सुनील मंडल ,रामपुकार साह सहित दो दर्जन से अधिक लोगों के हस्ताक्षर है।कहा गया है कि आमजन को न्याय नही मिलने पर आन्दोलन  करेगे।

On Fri, 11 Sep 2020, 9:46 pm Vimal Kishor Singh, <vimalkishor1975@gmail.com> wrote:
सीतामढ़ी/रीगा थानेदार सुभाष मुखिया द्वारा 5सितम्बर कीरात्रि पिपरा गांव मे करीब1बजे घरों के गेट तोडकर घरों मे घुसकर दलित, पिछड़े,कमजोर  तबके के निर्दोष गरीब महिलाओं, बच्चियों,बच्चों को वेरहमी से पीटने तथा गिरफ्तार करने की घटना की  विभिन्न गावों के विभिन्न दलो, सामाजिक संगठनों तथा किसान संगठन के लोगों ने कडी निन्दा की है तथा आरक्षी अधीक्षक को आवेदन भेजकर मामले की जांच  कराने, दमनात्मक कार्रवाई पर रोक लगाने, थाना प्रभारी के शीघ्र निलंबन करने की मांग की है।कहा गया है विगत सौ वर्षो से होने वाले  पिपरा सीमा पर ध्वज पूजन के मामूली विवाद को सुलझाने के वजाय थाना प्रभारी ने न जाने किस कारण इसे भारी बना दिया तथा लगातार गावों में मारपीट कर  सवक सीखाने की धमकी दे रहे है। थानों मे लंवित मामलो के उदभेदन तथा सुलझाने में भी ये असफल रहे है तथा आमजन के बीच अपना विश्वास खो चुके है।कहा गया है कि थानेदार द्वारा न्यायालय तथा विभागीय निदेशों की धज्जी उडाते हुए रात्रि मे वगैर वर्दी तथा वगैर महिला पुलिस के महिलाओं के घरो मे घुसकर उसे अपमानित किया है तथा ऐसे जगहों पर डंडे चलाये है जो पूरे समाज के लिए शर्म तथा कलंक की बात है तथा सरकार के सुशासन तथा महिला सशक्तिकरण को अपमानित करता है।आवेदन पर सर्वोदय मंडल के डा आनन्द किशोर, संयुक्त किसान संघर्ष मोर्चा जिलाध्यछ जलंधर  यदुबंशी,  रीगा  अध्यक्ष पारसनाथ सिह , जेडीयू नेता रामाशंकर राय, भाजपा के कौशल किशोर सिंह, रामाशंकर , जिला पार्षद सुशील पासवान, पप्पू  पासवान, नवयुवक संगठन के धीरज कुमार, संजीव कुमार, मोर्चा के जिला सचिव बीरेन्द्र यादव, भाकपा के अतुल बिहारी मिश्र, सुनील मंडल ,रामपुकार साह सहित दो दर्जन से अधिक लोगों के हस्ताक्षर है।कहा गया है कि आमजन को न्याय नही मिलने पर आन्दोलन  करेगे।

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages