पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह पिता दीनानाथ सिंह के लिए न्याय मांगने आया हूं तरैया में: युवराज सुधीर सिंह - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

पूर्व सांसद प्रभुनाथ सिंह पिता दीनानाथ सिंह के लिए न्याय मांगने आया हूं तरैया में: युवराज सुधीर सिंह

Share This
अनूप नारायण सिंह 

मिथिला हिन्दी न्यूज :- तरैया। तरैया विधानसभा क्षेत्र के सतजोरा पंचायत में निर्दलीय प्रत्याशी युवराज सुधीर सिंह ने कहा कि तरैया की लड़ाई में वे भले वे उम्मीदवार है उनकी असली ताकत मतदाता हैं उनकी हार जीत तरैया की हार जीत है उन्होंने यहां के लोगों के आदेश से निर्दलीय ताल ठोक रहे है पिता दीनानाथ सिंह बड़े पिता प्रभुनाथ सिंह जेल में है उसका भी दर्द दिल में है 13 वर्षों से तरैया के लोगों की सेवा कर रहे हैं उन्होंने कभी कोई जात पात नहीं किया कभी कोई ऊंच-नीच नहीं किया जो कोई भी जरूरतमंद था उसकी हर संभव सहायता की।
तरैया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी राय सुधीर सिंह का जन संवाद कार्यक्रम आयोजित हुआ इस अवसर पर उन्होंने मतदाताओं को संबोधित करते हुए कहा कि जनता की ताकत के आगे सभी ताकत फेल है। तरैया की महान जनता ने इस बार बदलाव का मूड बनाया है वे उनके प्रतिनिधि है प्रत्याशी वे हैं पर चुनाव क्षेत्र की जनता लड़ रही है। युवराज सुधीर सिंह ने कहा कि वे निर्दलीय प्रत्याशी हैं वह तरैया के लोगों के दुख दर्द के विगत 15 वर्षों से भागी रहे हैं उनके बड़े पिताजी प्रभुनाथ बाबू और उनके पिता दीनानाथ सिंह का भी तरैया के लोगों से काफी घनिष्ठ संबंध रहा है तरैया के मान अभिमान की लड़ाई उनका परिवार बरसों से लड़ते आया है इसी कारण से तरैया के लोगों से उनका भावनात्मक लगाव है और वह लोगों की सेवा के लिए तरैया विधानसभा क्षेत्र से निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में चुनाव लड़ रहे हैं अपने साथ चल रहे युवकों के हुजूम के बारे में उन्होंने कहा यह लोगों का प्यार है स्नेह है वे लोगों के बीच के नेता हैं और लोगों को विश्वास दिलाते हैं कि चुनाव जीतकर जाने के बाद तरैया के विकास से कमीशन खोरी को खत्म करेंगे आम आदमी को मिलने वाली सुविधाएं उसके घर तक जाएगी कोई भी सरकारी योजना फाइलों में कैद नहीं होगी दलाली कमीशन खोरी बंद होगी क्षेत्र में जो समस्याएं हैं उसका निदान होगा।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages