अपराध के खबरें

आशा फैसिलेटर की समीक्षात्मक बैठक आयोजित



- सुरक्षित और संस्थागत प्रसव, परिवार कल्याण कार्यक्रम व नियमित टीकाकरण की दी गई जानकारी

प्रिंस कुमार 

मोतिहारी। 25 फरवरी 
राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत चलाए जा रहे विभिन्न कार्यक्रमों के अनुश्रवण हेतु आशा फैसिलेटर की समीक्षात्मक बैठक गुरुवार को जिला स्वास्थ्य समिति के सभागार में आयोजित की गई। इस बैठक में सभी आशा फैसिलेटर द्वारा किए गए कार्यों की समीक्षा की गई। इसमें आशा के द्वारा किए गए कार्य की जानकारियां प्राप्त की गई एवं उन्हें अनेक प्रकार की जानकारियां दी गई। जिला सांख्यिकी पदाधिकारी विनय कुमार सिंह एवं डीसीएम नंदन झा ने कार्यक्रम के महत्वपूर्ण बिंदुओं पर निर्देश देते हुए कहा कि आशा फैसिलेटर द्वारा किए गए कार्य काफी महत्वपूर्ण है।  परंतु उन सभी को विभिन्न कार्यक्रमों में अभी और सुधार की आवश्यकता है।

सही उम्र में शादी और दो वर्ष बाद ही पहला बच्चा 

डीपीएम नन्दन झा ने बताया कि छोटा और खुशहाल परिवार के लिए सही उम्र में ही शादी करनी चाहिए। साथ ही शादी के कम से कम दो वर्ष बाद ही पहला बच्चा हो और दूसरे बच्चे में कम से कम तीन साल का अंतर होना आवश्यक है। इससे ना सिर्फ जनसंख्या स्थिरीकरण अभियान सफल होगा बल्कि मां और बच्चा दोनों स्वस्थ भी रहेंगा । स्वस्थ मां से ही मजबूत बच्चा संभव है। 

परिवार नियोजन अपनाने से मजबूत होगा शारीरिक और आर्थिक विकास 

परिवार नियोजन योजना को अपनाने से ना सिर्फ छोटा और सुखी परिवार होगा बल्कि, महिलाओं का शारीरिक विकास भी होगा। वहीं परिवार की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी। छोटा और खुशहाल परिवार के लिए सरकार द्वारा की गई वैकल्पिक व्यवस्था भी पूरी तरह सुरक्षित और कारगर है। वैकल्पिक उपाय को भी अपनाने से किसी प्रकार का साइड इफेक्ट नहीं है। वैकल्पिक व्यवस्था के रूप में सरकार द्वारा पीएचसी स्तर पर काॅपर - टी, छाया, कंडोम, अंतरा समेत अन्य वैकल्पिक व्यवस्था की गई है। इसलिए, अगर कोई महिला परिवार नियोजन योजना को अपनाने के लिए तैयार है। किन्तु, उनका शरीर ऑपरेशन के लिए सक्षम नहीं है तो ऐसे महिला इन वैकल्पिक व्यवस्था को अपना सकता है।

प्रचार- प्रसार करने का निर्देश दिया गया

योग्य दंपति का संपूर्ण विवरण आरसीएच पंजी में अद्यतन कराने यथा 100% टीकाकरण कराने एवं कोरोना से सम्बंधित टीकाकरण में लाभुकों के बीच प्रचार- प्रसार करने का निर्देश दिया गया है। स्वास्थ्य विभाग की महत्वपूर्ण कड़ी के रूप में कार्य करने एवं सभी सूचकांकों में आशातीत सफलता प्राप्त करने का निर्देश आशा फैसिलिटेटर को दिया गया। जिला डाटा सहायक आशा अवधेश कुमार ने आशाओं के बीच संस्थागत प्रसव के कई महत्वपूर्ण बिंदुओं को साझा किया।


संस्थागत प्रसव के बिंदुओं पर चर्चा

जिला स्वास्थ समिति की बैठक में सदर अनुमंडल की आशा कार्यकर्ता एवं फैसिलेटर ने भाग लिया।  बैठक में मोतिहारी, पिपरा कोठी, तुरकौलिया, सुगौली, चिरैया सहित कई पीएससी के आशा कार्यकर्ताओं ने भाग लिया। कार्यक्रम में प्रमुख रूप डीसीएम नन्दन झा, जिला अनुश्रवण पदाधिकारी विनय कुमार सिंह, एसपीओ पिंकी तृष्णा, केयर इंडिया के डीटीएल अभय कुमार, मनीष भारद्वाज, अरविंद कुमार सिंह, जिला डाटा सहायक आशा अवधेश कुमार उपस्थित थे।
Tags

live