अपराध के खबरें

डीएम नवादा ने सीएम द्वारा विडियो कान्फ्रेस से सामुदायिक किचेन निरीक्षण कार्यक्रम में पत्रकारों को रोका

 
आलोक वर्मा
जिलाधिकारी नवादा यशपाल मीणा ने सोमवार को सीएम द्वारा विडियो कान्फ्रेस से सामुदायिक किचेन निरीक्षण कार्यक्रम में पत्रकारों को हाॅल से बाहर करवा दिया तथा एक भी पत्रकार को हाॅल में घुसने नहीं दिया। बताया जाता है कि डीएम प्रशासन की खामियों को उजागर नहीं होने के भय से पत्रकारों को सामुदायिक किचेन में घुसने नहीं दिया। अपने पीठ थपथपाने के वास्ते डीएम द्वारा छः बजे असहाय परिवार को खाना खिलवा दिया। शाम छः बजे खाने का समय कोई समय होता है।  जानकारी के अभाव में जो दस -बीस लोग आये उन्होंने अनमना ढंग से भोजन ग्रहण किया।  सीएम नीतीश कुमार से वाहवाही लूटने को लेकर डीएम ने सामुदायिक किचेन में शारीरिक दूरी का ख्याल रखते हुए एक टेबुल पर एक व्यक्ति को भोजन कराने की व्यवस्था किया था। जबकि आये दिन और सोमवार की दोपहर एक टेबुल पर चार-चार व्यक्ति को बैठाकर भोजन कराया गया था। सामुदायिक किचेन में कोरोना गाईड लाईन का पालन नहीं होने के कारण डीएम ने पत्रकारों के सवाल से बचने के लिए उन्हें सामुदायिक किचेन में जाने से रोका गया। हिसुआ प्रखंड पत्रकारों ने बताया कि सूचना एवं जनसंपर्क पदाधिकारी नवाज द्वारा कार्यक्रम में भाग लेने के लिए पत्रकारों को दूरभाष पर सूचना दिया गया था। कोरोना काल में पत्रकारों की भूमिका प्रशासन से अधिक रहा है। कार्यक्रम में पत्रकारों को रोककर डीएम ने अपनी नाकामयाबी को छिपाया है। 

live