अपराध के खबरें

बिहार : कोरोना कर्फ्यू के उल्लंघन पर अनूठी सजा, बारात को मेंढक दौड़ की सजा

संवाद 


मोतिहारी: कोरोना महामारी की दूसरी लहर भारत में जमकर कहर बरपा रही है. यही वजह है कि देश के ज्यादातर हिस्सों में कोरोना की संक्रमण की रफ्तार को काबू करने के लिए लॉकडाउन लगाया गया है. ऐसे में पुलिस उन लोगों की जमकर खबर ले रही है, जो लॉकडाउन नियमों की अनदेखी कर रहे हैं. लेकिन कई बार पुलिस लोगों के साथ इतना बुरा बर्ताव करती है, उसे देखकर किसी को भी शर्म आ जाए. इन दिनों सोशल मीडिया पर पुलिस की इसी हरकत का एक वीडियो जमकर वायरल हो रहा है. इस वीडियो को देखने के बाद लोग पुलिस वालों को जमकर खरी-खोटी सुना रहे हैं.मोतिहारी में बारातियों को लॉकडाउन का उलंघन करना भारी पड़ रहा है. मोतिहारी पुलिस बारातियों को मेंढक दौड़ कराकर इम्नियुटी टेस्ट ले रही है. दरअसल अभी शादी का महीना चल रहा हैं. इस पर कोविड गाइडलाइन का पालन करने के साथ सरकार का स्पष्ट निर्देश है कि शादी समारोह में 20 लोग ही शामिल हो सकते हैं. 
साथ ही, मास्क लगाते हुए सोशल डिस्टेंस का पालन करना है. लेकिन बारात के चकाचौंध में बाराती सभी गाइडलाइन भूलकर एक गाड़ी में 8 से 10 लोग बारात लेकर जा रहे है.  
मोतिहारी के गांधी चौक पर 10 से ज्यादा बारातियों को रोककर इम्नियुटी टेस्ट लिया गया. गाड़ी से उतार कर कान पकड़ के सभी बारातियों को सड़क पर मेंढक दौड़ कराया गया. वहीं, कुछ बाराती तो आसानी मेढ़क दौड़ करके इम्नियुटी टेस्ट में पास हो गए. लेकिन कुछ बाराती तो दो-चार छलांग के बाद ही हांफने लगे. 
इसके बाद पुलिस ने सभी बारातियों को कड़ी चेतवानी देकर छोड़ दिया और आगे से कोरोना गाइडलाइन का पालन करने का निर्देश दिया. साथ ही, पुलिस ने बरातियों को समझाया की जीवन अनमोल है बारात नहीं. जीवन बचेगा तो बारात अगले साल मिल जाएगी इसलिए कोविड गाइडलाइन का पालन कीजिए।

live