ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 टीकाकरण बढ़ाने को लेकर एसडीएम ने की बैठक - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड-19 टीकाकरण बढ़ाने को लेकर एसडीएम ने की बैठक

Share This
- आरबीएसके चलंत टीम को टीकाकरण बढ़ाने को दिया गया विशेष प्रशिक्षण

प्रिंस कुमार 
मोतिहारी,02 जून। कोरोना महामारी को देखते हुए इससे बचाव हेतु टीकाकरण को बढ़ावा देने के उद्देश्य से एसडीएम पकड़ीदयाल कुमार रविन्द्र की अध्यक्षता मे अनुमंडलीय ऑफिस में एक दिवसीय विशेष बैठक आयोजित की गयी। जिसमे प्रखंड के चिह्नित 102 ग्रामीण चिकित्सकों को दो बैच में प्रशिक्षण दिया गया । प्रशिक्षण के दौरान आरबीएसके चलंत टीम को जागरूकता के साथ ग्रामीण क्षेत्रों में टीकाकरण के लक्ष्य अनुरूप बढ़ावा देने हेतु बताया गया कि ग्रामीणों में कोविड टीकाकरण के बारे में फैले भ्रम को कैसे दूर किया जाए? कोरोना के खतरों के बारे में समझाया जाए ? डॉ प्रिया चंद्रा के द्वारा विशेष रूप से बताया गया कि टीकाकरण की भ्रांतियां को कैसे दूर किया जाए ? अनुमंडल पदाधिकारी कुमार रविंदर के द्वारा स्वच्छता व कोविड टीकाकरण सुरक्षित है विषय पर जानकारी दी गई । जिला उपसमाहर्ता सुधीर कुमार एवम केयर इंडिया के जिला प्रतिनिधि अभय कुमार भगत के द्वारा ग्रामीण चिकित्सकों के महत्व की विशेष जानकारियाँ दी गई । उन्होंने बताया कि पूर्व में भी कालाजार प्रोग्राम में उनका सहयोग सराहनीय रहा है । प्रखंड विकास पदाधिकारी मीनू कुमारी के द्वारा यह बताया गया कि दलित एवं महादलित टोला में टीकाकरण को लेकर लोगो मे जो भ्रम है उसको ग्रामीण चिकित्सक दूर करने में सहयोग करेंगे ।
कोविड- 19 टीकाकरण कार्य में तेजी लाने के लिए चिकित्सकों से अनुमंडलाधिकारी ने कोविड की जाँच एवं टीकाकरण बढ़ाने के लिए ग्रामीणों को प्रोत्साहित करने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि चौपाल लगाकर 45 वर्ष से ऊपर के लाभार्थियों जिनको कोविड19 का टीका नहीं पड़ा है वैसे लोगों को समझा कर टीकाकरण का लक्ष्य हासिल करें । उन्होंने कहा बाढ़ग्रस्त क्षेत्र के लोगों का समय से टीकाकरण होना बहुत जरूरी है । 18 वर्ष से ऊपर के लोगों के टीकाकरण के बारे में बताया कि उपलब्धता के आधार पर टीका दिया जा रहा है । वे लोग धैर्यपूर्वक अपनी बारी का इंतजार करें । टीका मिलते सभी को उपलब्ध करा दिया जाएगा । तब तक कोविड19 से लड़ने के लिए सोशल डिस्टेनसिंग व 3 लेयर मास्क, सैनिटाइजर एक सुरक्षात्मक हथियार है। कृपया कोविड प्रोटोकॉल का पालन करें । बेवजह घरों से बाहर न निकलें । लॉक डाउन के नियमों का पालन कर घर परिवार को सुरक्षित करें । 
प्रवासियों की जाँच है जरूरी:
केयर डीटीएल अभय भगत ने कहा कि कोरोना से बचाव के लिए बाढ़ग्रस्त क्षेत्र के लोगों का टीकाकरण के साथ-साथ दिल्ली, कोलकाता, पड़ोसी राज्यों से आनेवाले सभी प्रवासियों की कोविड जाँच हो, ताकि बीमारी न फैल पाए । उन्होंने निर्देश दिए कि कोविड मरीज जो होम आइसोलेट हैं उनकी नियमित जाँच होनी चाहिए ताकि उन्हें किसी भी प्रकार की चिकित्सीय जरूरत पड़ने पर सहायता उपलब्ध हो सके ।

अनुमंडलाधिकारी कुमार रविंद्र ने कहा कि महामारी से बचाव के लिए टीकाकरण बहुत ही आवश्यक है । टीका एवं कोरोना प्रोटोकॉल के पालन करके ही इस कोरोना महामारी से बचा जा सकता है । 

मौके पर अनुमंडलाधिकारी कुमार रविन्द्र, जिला उपसमाहर्ता सुधीर कुमार ,केयर इंडिया के जिला प्रतिनिधि अभय कुमार भगत , प्रखंड विकास पदाधिकारी मीनू कुमारी, केयर इंडिया के प्रखंड प्रबंधक सतीश कुमार सिंह, प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी राजीव कुमार प्रखंड समन्वयक केशव कुमार , प्रखंड स्वास्थ्य प्रबंधक अवनीश कुमार, प्रखंड कमेटी मोबिलाइजर अनिल मंडल, आशिक हुसैन एवं ग्रामीण चिकित्सकों उपस्थित थे ।

कोरोना काल मे इन बातों का ध्यान जरूर रखें -
- कृपया साफ सुथरे 3 लेयर मास्क का उपयोग करें ।
- यथा संभव घर में रहें, भीड़- भाड़ वाले स्थानों पर ना जाएं।
- दो व्यक्तियों को बीच दो गज की दूरी बना कर रखें ।
- नियमित अंतराल पर अपने हाथ साबुन से धोएं ।
- कोरोना के कोई भी लक्षण दिखने पर तुरंत नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र अथवा जिला कोविड नियंत्रण कक्ष के टॉल फ्री नंबर 1800-3456-624 एवं 06252-242418 पर संपर्क करें।
- एल्कोहल आधारित सैनिटाइजर का प्रयोग करें।
- सार्वजनिक जगहों पर हमेशा फेस कवर या मास्क पहनें।
- अपने हाथ को साबुन व पानी से लगातार धोएं।
- आंख, नाक और मुंह को छूने से बचें।
- छींकते या खांसते वक्त मुंह को रूमाल से ढकें।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages