अपराध के खबरें

तीन दिनों से लापता पत्रकार का शव बरामद, पुलिस कार्रवाई में

प्रिंस कुमार 
मोतिहारी के हरसिद्धि थाना क्षेत्र के मठ लोहियार चौक से गत शनिवार की रात से लापता पत्रकार मनीष कुमार 30 वर्ष का शव मंगलवार को दिन में मठलोहियार गद्दी टोला के समीप चँवर से बरामद किया गया। डीएसपी संतोष कुमार ने बताया कि जब से पत्रकार लापता हुआ। तब से पुलिस और परिजन उसकी खोजबीन में लग गए हुए थे। पुलिस अधीक्षक नवीन चंद्र झा ने घटना के तुरंत बाद एसआईटी का गठन कर दिया था। डीएसपी ने बताया की ग्रामीण अपने धान के खेत में खाद छिट रहे थे तो धान के खेत में मृतक का जूता और मौजा मिला। ग्रामीणों की सूचना पर पुलिस स्थल पर पहुंची और शव की खोज शुरू हुई। फिर ग्रामीणों के सहयोग से शव को पानी से निकाला गया। 
शव की पहचान मनीष कुमार के रूप में हुई है और घटना के दिन ही उसके गला रेतकर हत्या कर शव को फेंक दिया गया था। डीएसपी ने बताया कि घटना के दिन वीडियो फुटेज में उसके साथ उसके दो साथी अमरेंद्र कुमार और असजद आलम थे । उसके बाद उसके दोनों साथी अपने घर चले गए और मनीष लापता हो गया। मनीष का बैग अमरेन्द्र के घर से बरामद हुआ था। उन्होंने बताया कि उसके दोनों गिरफ्तार साथी को पूछताछ के बाद मंगलवार को जेल भेज दिया गया। डीएसपी ने बताया कि जांच उपरांत शव को पोस्टमार्टम के लिए मोतिहारी भेज दी गयी है। उन्होंने बताया कि आगे की कार्रवाई की जा रही है और शेष अभियुक्तों की गिरफ्तारी के लिए छापामारी जारी कर दी गई है। परिजन एसपी को बुलाने की मांग कर रहे हैं और शव को अभी पोस्टमार्टम में जाने से रोक दिए हैं। घटनास्थल पर एएसपी अभियान ओमप्रकाश सिंह, डीएसपी संतोष कुमार, अरेराज इंस्पेक्टर उपेंद्र कुमार, गोबिंदगंज इंस्पेक्टर सरफराज अहमद, पहाड़पुर थाना अध्यक्ष महेंद्र कुमार ,ओपी थाना अध्यक्ष सुधीर कुमार, सीओ चंद्रशेखर तिवारी सहित मुखिया पति राजन गिरि, सरपंच पति जाकिर मियां, मनीष के पिता संजय कुमार सिंह उसकी माता रेनू सिंह सहित उनके परिजन घटनास्थल पर पहुंचे हुए थे साथ ही तीन थाना के पुलिस व वज्र वाहन भी आया था।
थाना क्षेत्र के मठलोहियार से जैसे ही पत्रकार मनीष कुमार का शव बरामद हुआ कि परिजन विलाप करने लगे। परिजन ने शव को पोस्टमार्टम में भेजने से रोक दिया और एसपी को बुलाने की मांग करने लगे । उसके बाद शव को थाना लाया गया । वहां एएसपी अभियान ओमप्रकाश सिंह व डीएसपी संतोष कुमार के साथ परिजन एवं पत्रकारों की वार्ता हुई। वार्ता के बाद मृतक के पिता संजय सिंह ने अपनी मांग पदाधिकारियों के सामने रखी। उनकी मांग थी कि यह हत्या में संलिप्त सभी अभियुक्तों को अविलंब गिरफ्तार कर उस पर स्पीडी ट्रायल चलाया जाए। उन्होंने अपने परिवार की सुरक्षा की व्यवस्था की मांग की। वही पत्रकार संघ के द्वारा यह मांग की गई थी सभी दोषियों पर कार्रवाई हो तथा हरसिद्धि थाना के कोई भी पदाधिकारी व पुलिसकर्मी यदि इस घटना में संलिप्त हो तो उसकी जांच कर उस पर कार्रवाई हो। डीएसपी संतोष कुमार ने कहा कि सात दिन के अंदर पर्यवेक्षण टिप्पणी दे दी जाएगी। उन्होंने कहा कि सभी प्राथमिक अभियुक्तों पर स्पीडी ट्रायल चलाकर कार्रवाई की जाएगी। उन्होंने बताया कि पत्रकार सुरक्षा बीमा के लिए विधि सम्मत जो कार्रवाई होगी उसको लिखा जाएगा। वार्ता के बाद शव को पोस्टमार्टम में मोतिहारी भेजा गया। घटना के बाद सभी पत्रकारों ने गहरा शोक व्यक्त किया है और अभिलंब दोषियों पर कार्रवाई की मांग की है।

live