अपराध के खबरें

तीन दिवसीय 49वां मिथिला विभूति पर्व समारोह 17 नवंबर से

समारोह के आयोजन को ले समितियां गठित

समारोह की तैयारियों के बीच मिथिला भवन के निर्माण का संकल्प 

संवाद 

तीन दिवसीय 49वां मिथिला विभूति पर्व समारोह 17 नवंबर से होगा। आयोजन की रूपरेखा तय करने के लिए वृहस्पतिवार की देर शाम विद्यापति सेवा संस्थान की आम सभा एमएलएसएम कॉलेज परिसर में हुई। संस्थान के कार्यकारी अध्यक्ष डाॅ बुचरू पासवान की अध्यक्षता में आयोजित बैठक में कोरोना के सुरक्षा मानकों का अनुपालन करते हुए कार्यक्रम आयोजित करने का निर्णय लेते हुए आयोजन को लेकर विभिन्न समितियों का गठन किया गया। संस्थान के महासचिव डॉ बैद्यनाथ चौधरी बैजू ने बताया कि 17, 18 एवं 19 नवंबर को तीन दिवसीय 49वें मिथिला विभूति पर्व समारोह का आयोजन करने का निर्णय लिया गया है। समारोह का मुख्य संरक्षक ललित नारायण मिथिला विश्वविद्यालय के यशस्वी कुलपति प्रो सुरेंद्र प्रताप सिंह को बनाया गया है जबकि मिथिला के सामाजिक, साहित्यिक एवं सांस्कृतिक संरक्षण एवं संवर्द्धन को समर्पित इस गौरवशाली आयोजन का संरक्षक महात्मा गांधी शिक्षण संस्थान के चेयरमैन हीरा कुमार झा, डाॅ चन्द्रमोहन झा, विष्णुदेव ठाकुर सहित कामेश्वर सिंह दरभंगा विश्वविद्यालय के प्रति कुलपति एवं एमएलएसएम कॉलेज के प्रधानाचार्य को बनाया गया है। आयोजन समिति के मुख्य सलाहकार पं कमला कांत झा, स्वागताध्यक्ष युवा उद्यमी प्रजेश कुमार झा, स्वागत महासचिव प्रो. जीवकांत मिश्र व कोषाध्यक्ष डॉ गणेश कांत झा बनाये गये हैं। संस्थान की मुख पत्रिका 'अर्पण' के संपादक की कमान डॉ महेद्र नारायण राम को दी गई। जबकि इसके सहायक संपादक प्रवीण कुमार झा बनाये गये। कवि सम्मेलन के प्रभारी हरिश्चंद्र हरित व अंतरराष्ट्रीय सेमिनार के प्रभारी मणिकांत झा बनाये गये हैं। शोभा यात्रा का प्रभारी विनोद कुमार झा एवं प्रो. विजय कांत झा को बनाया गया है। समारोह में दिये जाने वाले विभिन्न सम्मानों के लिए पं कमला कांत झा की अध्यक्षता में तीन सदस्यीय कमेटी का गठन किया गया है। कमेटी में बतौर सदस्य वरिष्ठ साहित्यकार डॉ महेन्द्र नारायण राम एवं विनोद कुमार शामिल किए गये हैं।

सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन समिति के संयोजक बनाये गये कमलाकांत

सांस्कृतिक कार्यक्रम आयोजन के लिए पं कमलाकांत झा के संयोजन में गठित समिति में प्रो. जीवकांत मिश्र एवं प्रो. चन्द्रनाथ मिश्र को शामिल किया गया है। मीडिया संयोजक सह कार्यालय सचिव का प्रभार प्रवीण कुमार झा को मिला। जबकि प्रो. चंद्रशेखर झा बूढ़ाभाई एवं आशीष चौधरी इस कार्य में उनका सहयोग करेंगे। आयोजन में महिला दीर्घा के समुचित व्यवस्थापन के लिए गठित समिति की बागडोर डाॅ उषा चौधरी एवं डाॅ सुषमा झा को सौंपी गई।

 मिथिला भवन निर्माण का संकल्प

विद्यापति सेवा संस्थान के महासचिव डाॅ बैद्यनाथ चौधरी बैजू ने बताया कि बैठक में उपस्थित लोगों ने सर्वसम्मति से 49वें मिथिला विभूति पर्व समारोह की तैयारियों के साथ-साथ पर्व समारोह के स्वर्ण जयंती समारोह से पूर्व संस्थान के कार्यालय परिसर में मिथिला भवन के निर्माण कार्य को जन सहयोग से पूरा करने का संकल्प लिया। वहीं अभियान चलाकर इस समारोह में युवाओं, महिलाओं एवं प्रवासी मैथिलों की सक्रिय भागीदारी सुनिश्चित करते हुए देशव्यापी सांस्कृतिक एकजुटता कायम करने की कोशिश करने का निर्णय लिया गया। मिथिला चित्रकला को संरक्षित करने के उद्देश्य से समारोह के दौरान विभिन्न प्रतियोगिताओं के भव्य आयोजन पर भी सभी की सहमति बनी तथा इस कार्य के लिए आशीष चौधरी के संयोजन में मणि भूषण राजू एवं पुरुषोत्तम वत्स की एक कमेटी गठित की गई।

live