स्लग-मिथिलांचल का प्रसिद्ध नदी कमला से युवाओं के द्वारा 'जल और मिट्टी' लेकर पोस्टऑफिस(कूरियर) के माध्यम से भेजा गया अयोध्या धाम - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

स्लग-मिथिलांचल का प्रसिद्ध नदी कमला से युवाओं के द्वारा 'जल और मिट्टी' लेकर पोस्टऑफिस(कूरियर) के माध्यम से भेजा गया अयोध्या धाम

Share This
रिपोर्ट-पप्पू कुमार पूर्वे

जयनगर,मधुबनी:-27-07-2020
सावन महीना के चौथी सोमवारी को मधुबनी जिला के जयनगर अनुमंडल स्थित पवित्र कमला नदी से जल और मिट्टी एकत्र कर वैदिक मंत्रोच्चार और पूजा-अर्चना के साथ 5 अगस्त 2020 को होने वाले श्री राम मंदिर भूमि पूजन के लिए भेजा गया। बता दें कि, 5 अगस्त को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी श्री राम मंदिर निर्माण के लिए पहली ईंट रखकर भूमि पूजन करेंगे। जिसके साथ ही मंदिर निर्माण का कार्य प्रारंभ हो जाएगा।500 वर्षों बाद ऐसा संयोग बना है, जब रामलला के लिए भव्य मंदिर का निर्माण होने जा रहा है। राम जन्मभूमि मामला कई सालों से सुप्रीम कोर्ट में लंबित था। 2019 में कोर्ट ने ऐतिहासिक फैसला सुनाया। जिसके बाद से राम मंदिर बनाने का मार्ग प्रशस्त हुआ।पूरे भारतवर्ष के पवित्र स्थलों से जल और मिट्टी को संग्रह किया जा रहा है। जिसे श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट को सुपुर्द कर दिया जाएगा। भूमि पूजन में बहुत सारे श्रद्धालु अपनी उपस्थिति दर्ज कराना चाहते हैं, परंतु 'कोरोना वायरस' महामारी के संक्रमण और लॉकडाउन को देखते चाह कर भी यात्रा नहीं कर सकते हैं। श्री राम मंदिर तीर्थ क्षेत्र के महासचिव ने कहा कि कोविड 19 को देखते हुए, भूमि पूजन की सारे विधि-विधान को दूरदर्शन और अन्य टीवी चैनलों पर लाइव प्रसारण किया जाएगा।जयनगर के कमला नदी किनारे स्थित 'पर्णकुटी मंदिर' के महंत बालकदास बाबा, किशोरी बाबा,राम लोचन चौधरी, अजय कापड़,रामभक्त सचिन सिंह कसेरा ,सुधांशू कुमार एवं अन्य संत मुनि महात्माओं ने वैदिक मंत्रोच्चारण कर माँ कमला से राम मंदिर भूमि पूजन के लिए जल मांगा गया। कोविड-19 महामारी के कारण जल एवं मिट्टी को पोस्ट ऑफिस के द्वारा अयोध्या धाम के लिए भेजा जाएगा।
बाईट1-किशोरी बाबा
        2-बालक दास
        3.रामभक्त सचिन कसेरा

No comments:

Post a comment

live

Post Bottom Ad

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages