बिहार में शराब बंदी के बाबजूद शराब पीने के बाद एक युवक की मौत ,दूसरे की हालत नाजुक - mithila Hindi news

mithila Hindi news

नई सोच नई उम्मीद नया रास्ता

बिहार में शराब बंदी के बाबजूद शराब पीने के बाद एक युवक की मौत ,दूसरे की हालत नाजुक

Share This


मोरवा/संवाददाता


समस्तीपुर जिले के मोरवा प्रखंड के हलई ओपी क्षेत्र अंतर्गत इन्द्रवाड़ा पंचायत के वार्ड संख्या दस में एक युवक की रात में शराब पीने के बाद मौत हो गई है। वही दूसरे युवक की हालत काफी नाजुक बताई जा रही है। मरे हुए युवक की पहचान स्थानीय वार्ड संख्या दस निवासी स्वर्गीय मुन्नीलाल ठाकुर के पुत्र वार्ड सदस्य राम शंकर ठाकुर के भाई अट्ठाईस वर्षीय प्रवीण कुमार ठाकुर के रूप में की गई है। और दूसरा युवक प्रमोद कुमार ठाकुर की हालत बहुत ही चिंताजनक होने के कारण अनुमंडल अस्पताल पटोरी भेजा गया। जहां से हालत अधिक नाजुक होने के कारण उसे इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर किया गया है। जानकारी के अनुसार बीती रात तीन युवक एक स्थानीय शराब कारोबारी के यहां से शराब पीने के बाद घर पहुंचे। घरवालों ने किसी प्रकार उन्हें सुलाया। सुबह होते ही प्रमोद ठाकुर के मृत पाये जाने के कारण परिजनों में कोहराम मच गया। युवा पति की मौत से दो दिन पूर्व ऑपरेशन करा कर आने वाली इलाज रत पत्नी प्रतिभा देवी मृत पति की देह पर पछाड़ खाकर गिर पड़ी। पति की मौत से व्याकुल होकर बार बार गिरकर बेहोश होने के कारण ऑपरेशन का टांका टूट जाने के कारण इलाज रत पत्नी की भी काफी हालत चिंताजनक हो गई। शोकाकुल परिवार एवं स्थानीय ग्रामीणों की सहायता से आनन-फानन में ऑपरेशन का टांका टूटने से लहूलुहान अवस्था में इलाज रत पत्नी को अनुमंडल अस्पताल पटोरी इलाज के लिए भेजा गया है। जबकि छह वर्षीय एवं चार वर्षीय दो छोटे अबोध पुत्रों एवं छः महीने की अबोध पुत्री के करुण क्रंदन से पत्थरों का कलेजा भी दहल उठा है। नाजुक हालत होने के कारण उसे बेहतर इलाज के लिए पीएमसीएच रेफर किया गया है।जानकारी हो कि प्रशासनिक स्तर पर शराब पीने से युवक की मौत की पुष्टि नहीं की गई है। इसके बावजूद स्थानीय लोगों को रात में शराब पीने के बाद हुई मौत को लेकर, जहरीली शराब पीने के कारण ही युवक की मौत एवं दूसरे युवक की हालत चिंताजनक होने की पूरी आशंका की बात बताई जा रही है। एक तीसरे अन्य युवक की भी शराब पीने के कारण तबीयत खराब होने की बात बताई जा रही है।लेकिन स्थानीय लोगों के द्वारा उसका नाम नहीं बताया गया है।जानकारी हो कि संपूर्ण क्षेत्र में जहरीली शराब का कारोबार वर्षों से खूब धड़ल्ले से चल रहा है।जब कि बिहार में शराब बंदी है,पुलिस द्वारा प्रतिदिन छापेमारी एवं धरपकड़ के बाद भी शराब का कारोबार रुकने का नाम नहीं ले रहा है।जहरीली शराब पीने से अब तक सारंगपुर पूर्वी,पश्चिमी एवं इन्द्रवाड़ा पंचायत सहित अन्य पंचायतों में आधे दर्जन से अधिक युवकों की मौत हो चुकी है। आपको जानकारी हो कि शराब पीने के कारण एक शराबी को सड़क पर बचाने के क्रम में छः महीने पहले सारंगपुर पश्चिमी पंचायत में एक शराबी के कारण ट्रक से कुचलकर आधे दर्जन लोगों की मौत हो चुकी है। घटना से आक्रोशित लोगों के द्वारा सदर एसडीओ को खुलेआम शराब का कारोबार होने पर जल्द रोक लगाने की मांग की गई थी। प्रशासन द्वारा शराब कारोबारियों की धरपकड़ एवं अंकुश लगाने के हर संभव प्रयास के बावजूद जहरीली शराब निर्माण का कारोबार थमने का नाम नहीं ले रहा है! इस घटना के कारण संपूर्ण क्षेत्र के लोगों में भीषण रूप से आक्रोश व्याप्त हो गया है।इन्द्रवाड़ा के पंचायत समिति सदस्य एवं राजद महासचिव धर्मेंद्र कुमार आर्य, इन्द्रवाड़ा पंचायत के पूर्व मुखिया राम लगन सहनी ,मुखिया कुमारी वंदना , मुखिया प्रतिनिधि संजय कुमार राय, युवा राजद जिला महासचिव अरुण कुमार ठाकुर निराला सहित अनेक पंचायत प्रतिनिधियों के द्वारा होनहार युवक की आकस्मिक मौत की घटना पर शोक प्रकट करते हुए शोकाकुल परिजनों को अपेक्षित मुआवजा दिलाने की मांग की गई है।

live

हमारे बारें में जानें

अगर आप विज्ञापन और न्यूज देना चाहते हैं तो वत्सआप करें अपना पोस्टर 8235651053

Pages